मोबाइल विज्ञापन आकलन अध्ययन मार्गदर्शिका

Firebase के साथ ऐप्लिकेशन कन्वर्ज़न ट्रैक करना

अपने Google Ads और Firebase खातों को लिंक करने के बाद, आप Firebase से कन्वर्ज़न आयात करके देख सकते हैं कि आपके विज्ञापन कैंपेन किस प्रकार आपके Android या iOS ऐप्लिकेशन के लिए ऐप्लिकेशन इंस्टॉल और ऐप्लिकेशन के अंदर होने वाली कार्रवाइयों को प्रेरित करते हैं. 

इस लेख में बताया जाएगा कि Firebase से कन्वर्ज़न इंपोर्ट करने से पहले आपको क्या करना होगा. साथ ही, सेटअप से जुड़े निर्देशों के बारे में जानकारी दी जाएगी.

शुरू करने से पहले

Firebase से अपने कन्वर्ज़न इंपोर्ट करने से पहले, आपको नीचे दिए गए काम करने होंगे:

  • Firebase प्रोजेक्ट: Google Ads के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले आपके Google खाते के लिए यह ज़रूरी है कि वह Firebase प्रोजेक्ट का मालिक हो. Firebase का इस्तेमाल शुरू करने के बारे में ज़्यादा जानें.
  • आपके ऐप्लिकेशन में इंस्टॉल किया गया Firebase SDK: अपने ऐप्लिकेशन के साथ Firebase SDK का इस्तेमाल करने का तरीका जानें.
  • Firebase और Google Ads को लिंक करेंआपका कम से कम एक Firebase प्रोजेक्ट आपके Google Ads खाते से लिंक होना चाहिए.
  • Firebase में सेट अप किए गए कन्वर्ज़न इवेंट: आप Firebase में कन्वर्ज़न इवेंट के रूप में सेट किए गए किसी भी इवेंट को इंपोर्ट कर सकते हैं. फ़र्स्ट ओपन, ऐप्लिकेशन के अंदर की जाने वाली खरीदारियां और ईकॉमर्स इवेंट अपने आप कन्वर्ज़न इवेंट के रूप में सक्षम हो जाते हैं. दूसरे इवेंट को कन्वर्ज़न के रूप में ट्रैक करने के लिए आपको Firebase में ये इवेंट कन्वर्ज़न के रूप में चालू करने होंगे. Firebase के हर ऐप्लिकेशन में ज़्यादा से ज़्यादा 15 कन्वर्ज़न इवेंट हो सकते हैं.
  • Firebase में iOS ऐप्लिकेशन के लिए डाला गया ऐप्लिकेशन स्टोर आईडी: अगर आपने iOS प्रोजेक्ट के लिए Apple ऐप्लिकेशन स्टोर आईडी नहीं डाला है, तो आपको Google Ads में उन प्रोजेक्ट के कन्वर्ज़न इवेंट दिखाई नहीं देंगे. ऐप्लिकेशन स्टोर आईडी जोड़ने के लिए Firebase खोलें. "खास जानकारी" स्क्रीन में अपना iOS ऐप्लिकेशन खोजें और 3-बिंदुओं वाले मेन्यू से "प्रबंधित करें" चुनें.

अगर आप किसी प्रबंधक खाते में कन्वर्ज़न ट्रैक करने के लिए क्रॉस-खाता कन्वर्ज़न ट्रैकिंग का इस्तेमाल करते हैं, तो आपको Firebase को प्रबंधक खाते से लिंक करना होगा और वहां कन्वर्ज़न आयात करने होंगे.

निर्देश

नया Google Ads अनुभव अब ज़्यादातर उपयोगकर्ताओं के लिए अपने खातों को मैनेज करने का एक खास तरीका है. अगर आप अब भी AdWords के पिछले वर्शन का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो नीचे पिछला चुनें. ज़्यादा जानें

Firebase से कन्वर्ज़न कार्रवाइयां इंपोर्ट करना

  1. AdWords खाते में साइन इन करें.
  2. टूल टैब पर क्लिक करके ड्रॉप-डाउन मेन्यू से कन्वर्ज़न चुनें.
  3. बाईं ओर स्थित मेन्यू में Firebase चुनें.
  4. अब आपको सेटिंग और Firebase कन्वर्ज़न इवेंट वाली एक स्क्रीन दिखाई देगी. अगर आपको यह स्क्रीन दिखाई नहीं देती, तो पक्का करें कि आपने Firebase और AdWords को लिंक किया है.
  5. Firebase एट्रिब्यूशन पर क्लिक करें. इस सेटिंग की मदद से आप चुन सकते हैं कि अगर विज्ञापनों पर कई विज्ञापन नेटवर्क के ज़रिए क्लिक हुए हैं, तो AdWords में किसी कन्वर्ज़न की रिपोर्ट कब की जाए. ज़्यादा जानकारी के लिए नीचे दी गई Firebase एट्रिब्यूशन के बारे में जानकारी देखें. कोई विकल्प चुनें (या डिफ़ॉल्ट को चुना हुआ रहने दें) और सेव करें पर क्लिक करें.
  6. "Firebase कन्वर्ज़न इवेंट इंपोर्ट करें" के नीचे, आपको एक टेबल दिखाई देगी, जिसमें इंपोर्ट किए जा सकने वाले Firebase इवेंट दिए गए होंगे. अगर आपको यहां अपने सभी Firebase कन्वर्ज़न इवेंट दिखाई नहीं देते, तो पक्का करें कि आपने उन इवेंट के Firebase प्रोजेक्ट लिंक कर दिए हैं जिन्हें आप इंपोर्ट करना चाहते हैं.
  7. वे कन्वर्ज़न इवेंट चुनें, जिन्हें आप इंपोर्ट करना चाहते हैं.
  8. इंपोर्ट करें पर क्लिक करें.

आपने कन्वर्ज़न इवेंट इंपोर्ट कर लिए हैं और अब उन्हें AdWords में कन्वर्ज़न कार्रवाइयों के तौर पर ट्रैक किया जाएगा. अपनी नई कन्वर्ज़न कार्रवाइयों की सेटिंग में बदलाव करने के लिए नीचे दिए गए निर्देशों का पालन करें.

कन्वर्ज़न कार्रवाई की सेटिंग में बदलाव करने का तरीका

अब जबकि आपने कन्वर्ज़न इवेंट इंपोर्ट कर लिए हैं, तो उन्हें आपकी "कन्वर्ज़न कार्रवाई" टेबल में कन्वर्ज़न कार्रवाइयों के तौर पर सूचीबद्ध किया जाएगा.

  1. “कन्वर्ज़न कार्रवाइयां” टेबल में (अगर आप वहां पहले से नहीं हैं, तो टूल टैब पर क्लिक करके कन्वर्ज़न चुनें), उस Firebase कन्वर्ज़न कार्रवाई के नाम पर क्लिक करें जिसमें आप बदलाव करना चाहते हैं.
  2. इस कन्वर्ज़न कार्रवाई के लिए आपको मौजूदा सेटिंग वाला एक पेज दिखाई देगा. सेटिंग में बदलाव करें पर क्लिक करें.
  3. अपने बदलाव करें. (नीचे वे सेटिंग दी गई हैं जिनमें आप हर तरह की कन्वर्ज़न कार्रवाई के लिए बदलाव कर सकते हैं.) इसके बाद, सेव करें पर क्लिक करें.

कुछ सेटिंग के लिए आपको यह सूचना दिखाई दे सकती है कि Firebase की सेटिंग, AdWords की सेटिंग से अलग हैं. हर उत्पाद की सेटिंग अलग-अलग रखने में कोई बुराई नहीं है, लेकिन ध्यान रखें कि AdWords और Firebase में रिपोर्ट किया गया कन्वर्ज़न डेटा अलग-अलग हो सकता है.

आप जिन सेटिंग में बदलाव कर सकते हैं, वे इस आधार पर अलग-अलग होती हैं कि आप फ़र्स्ट ओपन कार्रवाइयां ट्रैक कर रहे हैं, अपने आप ऐप्लिकेशन के अंदर होने वाली खरीदारियां ट्रैक कर रहे हैं या दूसरे इवेंट ट्रैक कर रहे हैं. हरेक के लिए दी गई सेटिंग की सूची देखें. 

फ़र्स्ट ओपन कार्रवाइयों के लिए सेटिंग

  • नाम: उस कन्वर्ज़न कार्रवाई का नाम डालें, जिसे आप ट्रैक करना चाहेंगे. इसकी मदद से आप बाद में कन्वर्ज़न रिपोर्ट में इस कन्वर्ज़न कार्रवाई को पहचान पाएंगे. 

  • मूल्य: हर एक इंस्टॉल के लिए एक मूल्य डालें या अगर आप उसे ट्रैक नहीं करना चाहेंगे, तो "मूल्य असाइन न करें" चुनें. कन्वर्ज़न मानों के बारे में ज़्यादा जानें.

  • "कन्वर्ज़न" में शामिल करें: अगर आप अपने "कन्वर्ज़न" रिपोर्टिंग स्तंभ (या उस स्तंभ का इस्तेमाल करने वाली ऑटोमेटेड बिडिंग (अपने आप बोली की सुविधा) कार्यनीतियों) में इस कन्वर्ज़न कार्रवाई का डेटा शामिल नहीं करना चाहते, तो इस सेटिंग को अनचेक करें (iOS के लिए डिफ़ॉल्ट रूप से चुने गए, Android के लिए डिफ़ॉल्ट रूप से नहीं चुने गए). अगर आप कन्वर्ज़न के लिए ऑप्टिमाइज़ करने के लिए किसी ऑटोमेटेड बिडिंग (अपने आप बोली की सुविधा) कार्यनीति का इस्तेमाल करते हैं और चुनना चाहते हैं कि उस बोली कार्यनीति में कौन-कौन सी कन्वर्ज़न कार्रवाइयां शामिल करनी हैं, तो आप इस सेटिंग को अनचेक कर सकते हैं. डुप्लीकेट कन्वर्ज़न की गणना करने से बचने के लिए आपको प्रति ऐप्लिकेशन प्रति इवेंट सिर्फ़ एक कन्वर्ज़न कार्रवाई शामिल करनी चाहिए. "कन्वर्ज़न में शामिल करें'" के बारे में ज़्यादा जानें.

नोट: पहला खुला इवेंट प्रति ऐप्लिकेशन एक कन्वर्ज़न इवेंट होना चाहिए जिसे आपने हां सेट किया है.

अपने आप ट्रैक की जाने वाली ऐप्लिकेशन के अंदर होने वाली खरीदारियों के लिए सेटिंग

  • नाम: उस कन्वर्ज़न कार्रवाई का नाम डालें, जिसे आप ट्रैक करना चाहेंगे. इसकी मदद से आप बाद में कन्वर्ज़न रिपोर्ट में इस कन्वर्ज़न कार्रवाई को पहचान पाएंगे.
  • गणना: यह चुनें कि आप प्रति विज्ञापन क्लिक हर एक कन्वर्ज़न की गणना करना चाहते हैं या सिर्फ़ एक की. कन्वर्ज़न की गणना करने के बारे में ज़्यादा जानें.
  • कन्वर्ज़न विंडो: यह चुनें कि किसी व्यक्ति ने विज्ञापन पर क्लिक किए जाने के बाद कितने समय तक कन्वर्ज़न को ट्रैक करना है. कन्वर्ज़न विंडो के बारे में ज़्यादा जानें.
  • “कन्वर्ज़न" में शामिल करें: अगर आप अपने "कन्वर्ज़न" रिपोर्टिंग स्तंभ में इस कन्वर्ज़न कार्रवाई का डेटा शामिल नहीं करना चाहते, तो यह सेटिंग अनचेक करें (डिफ़ॉल्ट रूप से चुने गए). अगर आप कन्वर्ज़न के लिए ऑप्टिमाइज़ करके किसी ऑटोमैटेड बिडिंग रणनीति का इस्तेमाल करते हैं और अपनी बोली लगाने की रणनीति में इस खास कन्वर्ज़न कार्रवाई को शामिल नहीं करना चाहते हैं, तो आप इस सेटिंग का इस्तेमाल कर सकते हैं. "कन्वर्ज़न में शामिल करें'" के बारे में ज़्यादा जानें.

नोट: अपने आप ट्रैक की गई इन-ऐप्लिकेशन खरीदारी Firebase में डिफ़ॉल्ट रूप से ट्रैक की जाती है. अन्य सभी कन्वर्ज़न कार्रवाइयों को आपकी सेटिंग के अनुसार ट्रैक किया जा सकता है, लेकिन इसके लिए मैन्युअल कार्यान्वयन की ज़रूरत होती है.

अन्य सभी कन्वर्ज़न कार्रवाइयों की सेटिंग (ईकॉमर्स इवेंट सहित)

  • नाम: उस कन्वर्ज़न कार्रवाई का नाम डालें, जिसे आप ट्रैक करना चाहेंगे. इसकी मदद से आप बाद में कन्वर्ज़न रिपोर्ट में इस कन्वर्ज़न कार्रवाई को पहचान पाएंगे.
  • मान: हर कन्वर्ज़न इवेंट का मान Firebase में ट्रैक किया जाता है. यह मान अपने आप Google Ads में इंपोर्ट किया जाएगा. आप Google Ads में भी एक डिफ़ॉल्ट मान सेट कर सकते हैं. ध्यान रखें कि Firebase में आपको Google Ads में कन्वर्ज़न की रिपोर्ट करने के लिए एक संख्या के रूप में मान भेजना होगा. कन्वर्ज़न मानों के बारे में ज़्यादा जानें.
  • गणना: यह चुनें कि प्रति विज्ञापन क्लिक हर एक कन्वर्ज़न की गणना करनी है या फिर एक की. बिक्री के लिए; "हर एक" और लीड के लिए "एक" सर्वश्रेष्ठ होता है. कन्वर्ज़न की गणना करने के बारे में ज़्यादा जानें.
  • कन्वर्ज़न विंडो: यह चुनें कि किसी व्यक्ति ने विज्ञापन पर क्लिक किए जाने के बाद कितने समय तक कन्वर्ज़न को ट्रैक करना है. कन्वर्ज़न विंडो के बारे में ज़्यादा जानें.
  • श्रेणी: आपके कन्वर्ज़न का सर्वश्रेष्ठ तरीके से वर्णन करने वाली श्रेणी चुनें. आप इस श्रेणी का इस्तेमाल करके अपनी कन्वर्ज़न रिपोर्ट को सेगमेंट कर सकते हैं.
  • “कन्वर्ज़न" में शामिल करें: अगर आप अपने "कन्वर्ज़न" रिपोर्टिंग स्तंभ में इस कन्वर्ज़न कार्रवाई का डेटा शामिल नहीं करना चाहते, तो यह सेटिंग अनचेक करें (डिफ़ॉल्ट रूप से चुने गए). अगर आप कन्वर्ज़न के लिए ऑप्टिमाइज़ करके किसी ऑटोमैटेड बिडिंग रणनीति का इस्तेमाल करते हैं और अपनी बोली लगाने की रणनीति में इस खास कन्वर्ज़न कार्रवाई को शामिल नहीं करना चाहते हैं, तो आप इस सेटिंग का इस्तेमाल कर सकते हैं. "कन्वर्ज़न में शामिल करें'" के बारे में ज़्यादा जानें.

Firebase एट्रिब्यूशन के बारे में जानकारी

अगर आप अपने ऐप्लिकेशन का विज्ञापन करने के लिए एक से ज़्यादा विज्ञापन नेटवर्क का इस्तेमाल करते हैं, और अगर आपने यूज़र इंटरफ़ेस (यूआई) में नेटवर्क सेटिंग में नेटवर्क कॉन्फ़िगर किया है, तो Firebase एट्रिब्यूशन रिपोर्टिंग आपके कन्वर्ज़न पर भी दूसरे नेटवर्क को क्रेडिट देगी. Google Ads सिर्फ़ उन कन्वर्ज़न की रिपोर्ट करेगा जो किसी विज्ञापन पर एक क्लिक के ज़रिए हुए हैं. “Firebase एट्रिब्यूशन” सेटिंग की मदद से, आप और भी अच्छी तरह से तय कर सकते हैं कि Google Ads किन कन्वर्ज़न का क्रेडिट ले सकता है जो आपके Google Ads रिपोर्टिंग सेक्शन में दिखाई देंगे. आपके पास दो विकल्प हैं:

  • किसी Google Ads क्लिक से हुए सभी कन्वर्ज़न की रिपोर्ट करना, भले ही बाद के क्लिक दूसरे विज्ञापन नेटवर्क पर हुए हों. Google Ads क्लिक की वजह से हुए कन्वर्ज़न की रिपोर्ट करने के लिए यह विकल्प चुनें. यह एक डिफ़ॉल्ट विकल्प है, क्योंकि इसका मतलब है कि आपको हर वह कन्वर्ज़न दिखाई देगा जिसमें आपके Google Ads कैंपेन शामिल थे.
  • केवल उन्हीं कन्वर्ज़न की रिपोर्ट करना जिनमें अंतिम क्लिक किसी विज्ञापन पर हुआ था अगर आप नहीं चाहते कि Google Ads ऐसे कन्वर्ज़न की रिपोर्ट करे जहां अंतिम क्लिक किसी दूसरे विज्ञापन नेटवर्क के विज्ञापन पर हुआ था, तो यह विकल्प चुनें. भले ही खरीदार के कन्वर्ज़न पाथ में पहले Google Ads क्लिक हुए हों. इस विकल्प में, कन्वर्ज़न का क्रेडिट उस विज्ञापन नेटवर्क को दिया जाएगा जिस पर उपयोगकर्ता ने आखिरी बार क्लिक किया था.

प्रतिलिपि कन्वर्ज़न के बारे में जानकारी

अगर आपके पास ऐसी अनेक कन्वर्ज़न कार्रवाईयां हैं, जो एक ही ऐप्लिकेशन के ऐप्लिकेशन इंस्टॉल को ट्रैक करती प्रतीत होती हैं, तो आपको अपनी कन्वर्ज़न कार्रवाई के लिए “कन्वर्ज़न में शामिल करें’” सेटिंग में एक चेतावनी दिखाई देगी. अगर ये आपके ऐप्लिकेशन का एक ही वर्शन ट्रैक कर रही हैं, तो आपको सुझाव दिया जाता है कि आप एक कन्वर्ज़न कार्रवाई को छोड़कर बाकी सभी के लिए "कन्वर्ज़न में शामिल करें" से सही का निशान हटा दें. ऐसा करने पर, Google Ads "कन्वर्ज़न" स्तंभ में हर एक ऐप्लिकेशन इंस्टॉल के लिए सिर्फ़ एक कन्वर्ज़न की गणना करेगा. अगर आप कन्वर्ज़न को ऑप्टिमाइज़ करने के लिए अपने आप बोली लगाने की रणनीति का इस्तेमाल करते हैं, तो यह काफ़ी अहम है: इसकी मदद से आप एक ही ऐप्लिकेशन इंस्टॉल के लिए दो कन्वर्ज़न की बोली लगाने से बच सकते हैं.

अगर दो कन्वर्ज़न कार्रवाइयों का कोड आपके ऐप्लिकेशन के अलग-अलग वर्शन में इंस्टॉल किया गया है, तो आपको "कन्वर्ज़न" कॉलम से एक को निकालने की ज़रूरत नहीं है. अगर आप Google Ads SDK से Firebase पर जा रहे हैं, तो नीचे दिया गया नोट देखें.

नोट: सीमित विज़िबिलिटी की वजह से, आपको iOS सर्च कैंपेन के लिए Google Ads में रिपोर्ट किए गए कन्वर्ज़न दिखाई नहीं देंगे.

ध्यान दें: Google Ads SDK से Firebase पर जाना

अगर आप अभी Google Ads SDK का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो आपको Firebase का इस्तेमाल करने का सुझाव दिया जाता है, क्योंकि यह कन्वर्ज़न ट्रैकिंग के लिए Google का सुझाया गया समाधान है. यहां पर नया कन्वर्ज़न कोड इंस्टॉल करने का तरीका बताया गया है:

जैसा कि ऊपर बताया गया है, Firebase SDK जोड़ें और अपने ऐप्लिकेशन के नए वर्शन से Google Ads SDK को हटा दें. आप "कन्वर्ज़न" कॉलम में Firebase और Google Ads SDK कन्वर्ज़न कार्रवाई, दोनों को शामिल कर सकते हैं. आपकी पुरानी कन्वर्ज़न कार्रवाई आपके ऐप्लिकेशन के पुराने वर्शन के लिए कन्वर्ज़न की गणना करना जारी रखेगी, जबकि Firebase कन्वर्ज़न कार्रवाई आपके ऐप्लिकेशन के नए वर्शन के लिए कन्वर्ज़न की गणना करेगी.

क्या यह उपयोगी था?
हम उसे किस तरह बेहतर बना सकते हैं?
पिछला नया