Google Ads में Google Analytics के लक्ष्य और लेन-देन इंपोर्ट करना

जब आपकी वेबसाइट पर खरीदार की गतिविधि का विश्लेषण होता है, तो Google आपकी मदद के लिए तीन सुविधाएं देता है: Google Analytics लक्ष्य और लेन-देन, Google Analytics ऐप्लिकेशन और वेब कन्वर्ज़न, और Google Ads कन्वर्ज़न ट्रैकिंग. आप एक ही समय पर इन तीनों को मिलाकर भी इस्तेमाल कर सकते हैं. तुलना देखने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.

Google Analytics लक्ष्य और Google Ads कन्वर्ज़न ट्रैकिंग की तुलना करना

Google Analytics लक्ष्य

  • अगर आपकी दिलचस्पी सिर्फ़ कन्वर्ज़न में ही नहीं, बल्कि अपनी साइट पर आने वाले खरीदारों के पूरे प्रवाह में है, तो यह सुविधा आपके लिए एकदम सही है.
  • इसमें ऐसे स्रोतों के कन्वर्ज़न शामिल हो सकते हैं जो Google Ads के नहीं है. इसलिए, यह आपकी वेबसाइट पर आने वाले खरीदारों के पूरे ट्रैफ़िक की ट्रैकिंग के लिए अच्छा है.

Google Ads कन्वर्ज़न ट्रैकिंग

  • अगर आपकी दिलचस्पी सिर्फ़ कन्वर्ज़न में है, तो यह सुविधा आपके लिए सही है.
  • यह सुविधा सिर्फ़ Google Ads स्रोतों से होने वाले कन्वर्ज़न ट्रैक करती है.

Google Analytics ऐप्लिकेशन और वेब कन्वर्ज़न

फ़ायदे

Google Ads कन्वर्ज़न ट्रैकिंग में अपने Google Analytics लक्ष्य इंपोर्ट करने के कुछ फ़ायदे होते हैं. इनमें ये शामिल हैं :

  • Google Ads क्लिक से जुड़े Google Analytics कन्वर्ज़न और डेटा को ऐक्सेस करना.
  • Google Ads में Google Analytics कन्वर्ज़न डेटा देखना.
  • डेटा को स्मार्ट बोली लगाने की सुविधा का ऐक्सेस देना, जिससे बोलियां ऑप्टिमाइज़ करने में, रूपांतरण बढ़ाने मेंऔर लागतें घटाने में मदद मिलती है.

ध्यान रखें

अगर आप किसी खास पेज पर Google Ads कन्वर्ज़न ट्रैकिंग का पहले से इस्तेमाल कर रहे हैं, तो हो सकता है कि आपको Google Analytics लेन-देन करने की ज़रूरत न पड़े. (हो सकता है कि दोनों का इस्तेमाल करने पर कन्वर्ज़न की गिनती दो बार हो जाए.)

शुरू करने से पहले

डेटा इंपोर्ट शुरू करने के लिए, आपको इन चीज़ों की ज़रूरत होगी:

निर्देश

  1. Google Ads खाते में साइन इन करें.
  2. टूल आइकॉन पर क्लिक करें. उसके बाद टूल मेन्यू के "मापन" सेक्शन में कन्वर्ज़न पर क्लिक करें. 
  3. प्लस बटन पर क्लिक करें .
  4. इंपाेर्ट करें को चुनने के बाद Google Analytics पर क्लिक करें.
  5. जारी रखें पर क्लिक करें. 
  6. अगले पेज पर, वे लक्ष्य और लेन-देन चुनें जिन्हें आप इंपोर्ट करना चाहते हैं. उसके बाद, इंपोर्ट करें और जारी रखें पर क्लिक करें.
  7. हो गया पर क्लिक करें.

Google Ads में आपके Analytics खाते से डेटा आना शुरू हो जाएगा. इंपोर्ट से पहले का ऐतिहासिक डेटा शामिल नहीं किया जाएगा.

ध्यान रखें

Google Ads में लक्ष्य और लेन-देन डेटा उपलब्ध होने में 9 घंटे तक लग सकते हैं. ऐसा होने के बाद, आपका इंपोर्ट किया गया कन्वर्ज़न डेटा, कन्वर्ज़न पेज पर आपके मौजूदा कन्वर्ज़न डेटा के बगल में दिखाई देगा. आप कैंपेन टैब के कॉलम को पसंद के मुताबिक बनाकर यह डेटा शामिल कर पाएंगे. आपके इंपोर्ट किए गए कन्वर्ज़न डेटा के हिसाब से बनी रिपोर्ट में, आपकी रिपोर्ट के मॉडल किए गए कन्वर्ज़न, अनुमान के तौर पर शामिल हो सकते हैं. ऐसा उन मामलों में होता है जहां Google सभी कन्वर्ज़न की निगरानी नहीं कर सकता. ये एग्रीगेट किए गए और पहचान छिपाने वाले डेटा पर आधारित हैं.

Analytics का डेटा (जैसे कि लक्ष्य) Google Ads में इंपोर्ट हो जाने के बाद, उस पर Google Ads की सेवा की शर्तें लागू होती हैं.

इंपोर्ट किए गए लक्ष्यों के लिए कन्वर्ज़न सेटिंग में बदलाव करना

अपने Analytics लक्ष्यों को इंपोर्ट करने के बाद, आप उनमें उसी तरह बदलाव कर सकते हैं जिस तरह आप Google Ads में बनाई गई कन्वर्ज़न कार्रवाई में करते हैं.

  1. Google Ads खाते में साइन इन करें.
  2. टूल टैब पर क्लिक करके कन्वर्ज़न चुनें.
  3. इंपोर्ट किए गए उस लक्ष्य के नाम पर क्लिक करें जिसमें आप बदलाव करना चाहते हैं.
  4. निचले दाएं कोने में, सेटिंग में बदलाव करें पर क्लिक करें.
  5. बदलाव करने के बाद, सेव करें बटन पर क्लिक करें.

डेटा की गड़बड़ियां

आपको Google Analytics और Google Ads कन्वर्ज़न ट्रैकिंग के कन्वर्ज़न आंकड़ों में कुछ अंतर नज़र आ सकते हैं. आप लक्ष्यों, लेन-देन, और Google Ads कन्वर्ज़न में अंतर की समस्या हल कर सकते हैं.

अगर आपने इस बात की दोबारा जांच कर ली है कि आपका सेट अप ठीक है, तो यहां इसके नज़र आने की कुछ संभावित वजह बताए गए हैं:

लेन-देन की तारीख

Google Ads किसी सफल कार्रवाई को अंजाम देने वाले क्लिक की तारीख और समय के आधार पर कन्वर्ज़न की जानकारी देता है, किसी सफल कार्रवाई की तारीख के आधार पर नहीं.

उदाहरण के लिए, मान लें कि किसी आदमी ने 19 जुलाई को आपका विज्ञापन देखा और उस पर क्लिक किया, लेकिन उसने अगले दिन, यानी 20 जुलाई से पहले आपकी साइट पर कोई भी खरीदारी नहीं की. Google Ads में, कन्वर्ज़न की तारीख 19 जुलाई मानी जाएगी, यानी जिस दिन क्लिक हुआ था. जबकि Google Analytics में कन्वर्ज़न की तारीख 20 जुलाई मानी जाएगी, यानी जिस दिन वास्तव में कन्वर्ज़न हुआ.

गणना का तरीका

Google Ads में, आप हर कन्वर्ज़न कार्रवाई (Google Ads में इंपोर्ट किए गए Analytics लक्ष्यों और लेन-देन सहित) के लिए गणना का तरीका सेट करके सभी या यूनीक कन्वर्ज़न की गणना करने का विकल्प चुन सकते हैं. Google Ads के "कन्वर्ज़न" कॉलम में, आपके चुने गए गणना के तरीके के मुताबिक वे कन्वर्ज़न दिखाए जाएंगे जो आपकी चुनी गई कन्वर्ज़न विंडो से हुए हैं. हालांकि, Analytics ऐसे सभी लक्ष्यों और लेन-देन की गिनती करता है जिनकी वजह से अंतर आ सकते हैं.

उदाहरण

आपने लीड फ़ॉर्म भरने के लिए Analytics लक्ष्य निर्धारित किया है. जब कोई व्यक्ति किसी विज्ञापन पर क्लिक करने के बाद 2 लीड फ़ॉर्म भरता है (अलग-अलग सेशन में), तो Analytics उन्हें 2 लक्ष्य प्राप्तियों के तौर पर दिखाता है. आप इस लक्ष्य को Google Ads में इंपोर्ट करते हैं और अपनी गणना के तरीके को "यूनीक" पर सेट करते हैं, इसलिए आपको सिर्फ़ 1 कन्वर्ज़न दिखाई देता है.

अमान्य क्लिक
Analytics में रिपोर्ट किए गए कुछ लक्ष्य, आपके Google Ads खाते में इंपोर्ट करते वक्त फ़िल्टर करके बाहर किए जा सकते हैं. ऐसा अमान्य क्लिक की तकनीक की वजह से होता है. यह तकनीक संदिग्ध या अमान्य क्लिक की गतिविधि को रिकॉर्ड नहीं करती है.
कुकी के खत्म होने की तारीखें
Google Ads कुकी, किसी ग्राहक के क्लिक के 90 दिन बाद खत्म हो जाती हैं. वहीं, Analytics ऐसी कुकी का इस्तेमाल करता है जो 2 साल बाद खत्म होती है. Google Ads कन्वर्ज़न में कन्वर्ज़न विंडो 1 से 90 दिनों के बीच हो सकती है. यानी अगर कोई खरीदार दी गई कन्वर्ज़न विंडो के बाद कोई कन्वर्ज़न पूरा करता है, तो Google Ads उस कन्वर्ज़न को रिकॉर्ड नहीं करेगा. हालांकि, अगर क्लिक करने की तारीख के बाद 2 साल के अंदर ऐसा होता है, तो Analytics उसे अब भी रिकॉर्ड करेगा.
इंपोर्ट किए गए लक्ष्य में देरी
Analytics कन्वर्ज़न डेटा को कन्वर्ज़न होने के बाद 9 घंटे तक कन्वर्ज़न ट्रैकिंग में इंपोर्ट किया जा सकता है.
Analytics में लक्ष्य या व्यू के नाम में बदलाव
अगर आप ऐसे लक्ष्य या व्यू का नाम बदलते हैं जिसमें इंपोर्ट किए गए Analytics लक्ष्य होते हैं, तो ये नाम Google Ads में तब ही नज़र आएंगे जब उस लक्ष्य को कोई खरीदार पूरा कर लेगा. आपके Google Ads खाते में बदलाव दिखाई देने में 24 घंटे तक का समय लग सकता है.
Analytics से इंपोर्ट किए गए लेन-देन की डुप्लीकेट कॉपी हटाने की तकनीक

ध्यान रखें कि Analytics के लेन-देन आईडी को Google Ads में ऑर्डर आईडी के तौर पर इंपोर्ट किया जाएगा. ओवरलैप होने वाले कन्वर्ज़न अपने-आप आपके Google Ads खाते से डुप्लीकेट कॉपी हटा देंगे. ज़्यादा जानें

एक ही आईडी वाले Analytics में लेन-देन की डुप्लीकेट कॉपी सिर्फ़ तब ही हटाई जाती हैं, जब वे एक ही सेशन के अंदर होते हैं. ज़्यादा जानें

अगर एक ही लेन-देन आईडी कई सेशन से मिलती-जुलती है, तो Analytics हर सेशन के एक लेन-देन की गिनती करता है. Google Ads में इंपोर्ट किए जाने पर, हर लेन-देन आईडी के मुताबिक सिर्फ़ एक लेन-देन की गिनती की जाती है. इस वजह से, आपको Google Analytics रिपोर्ट की बजाय Google Ads में कम कन्वर्ज़न (लेन-देन) दिखाई दे सकते हैं.

क्या यह उपयोगी था?
हम उसे किस तरह बेहतर बना सकते हैं?

और मदद चाहिए?

मदद के दूसरे तरीकों के लिए साइन इन करें ताकि आपकी समस्या झटपट सुलझ सके