प्राइमरी और सेकंडरी कन्वर्ज़न कार्रवाइयों के बारे में जानकारी

Google Ads में, ऐसे ऐक्शन जो आपको अपनी साइट पर ग्राहकों से चाहिए या कन्वर्ज़न ऐक्शन, कन्वर्ज़न लक्ष्यों के तौर पर एक साथ ग्रुप किए जाते हैं. उदाहरण के लिए, “परचेज़” कन्वर्ज़न लक्ष्य में, वे सभी कन्वर्ज़न ऐक्शन शामिल होते हैं जिनमें ग्राहक खरीदारी करते हैं.

अगर लक्ष्य पूरा करना है, तो आपको यह चुनना होता है कि बिडिंग ऑप्टिमाइज़ेशन और आपकी रिपोर्टिंग में शामिल करने के लिए, कौनसे कन्वर्ज़न ऐक्शन इस्तेमाल किए जाएं. इन ज़रूरी ऐक्शन को “प्राइमरी कन्वर्ज़न ऐक्शन” कहा जाता है. ऐसे संभावित कन्वर्ज़न ऐक्शन जो कैंपेन ऑप्टिमाइज़ेशन के लिए सीधे तौर पर इस्तेमाल नहीं किए जाते, उन्हें “सेकंडरी” कहा जाता है. ज़्यादातर कन्वर्ज़न ऐक्शन, प्राइमरी या सेकंडरी ऐक्शन पर सेट किए जा सकते हैं. हालांकि, कुछ को सेट नहीं किया जा सकता. उदाहरण के लिए, स्टोर बिक्री से जुड़े सीधे तौर पर होने वाले कन्वर्ज़न ऐक्शन, प्राइमरी ऐक्शन के तौर पर सेट नहीं किए जा सकते. साथ ही, स्टोर विज़िट, सेकंडरी ऐक्शन के तौर पर सेट नहीं किए जा सकते.

कन्वर्ज़न ट्रैकिंग सेट अप किए जाने के दौरान, आपको ऐसे प्राइमरी और सेकंडरी कन्वर्ज़न ऐक्शन चुनने होंगे जो तय किए गए किसी लक्ष्य को हासिल करने में मदद करें:

  • प्राइमरी कार्रवाइयां: ये कन्वर्ज़न कार्रवाइयां, आपकी रिपोर्ट के “कन्वर्ज़न” कॉलम में दिखती हैं. जब तक स्टैंडर्ड लक्ष्य का इस्तेमाल बोली लगाने के लिए किया जाता है, तब तक इनका भी इस्तेमाल किया जाता है, क्योंकि ये उसका हिस्सा होती हैं.
  • सेकंडरी ऐक्शन: ये कन्वर्ज़न ऐक्शन सिर्फ़ निगरानी के लिए होते हैं. इनकी मदद से, आपकी रिपोर्ट के “सभी कन्वर्ज़न” कॉलम में रिपोर्टिंग की जाती है, लेकिन बिडिंग के लिए इन ऐक्शन की मदद नहीं ली जा सकती. भले ही, वे ऐसे लक्ष्य का हिस्सा हों जिसे बिडिंग के लिए इस्तेमाल किया जाता है. अगर सेकंडरी ऐक्शन किसी कस्टम लक्ष्य का हिस्सा है, तो बिडिंग के लिए इसकी मदद ली जा सकती है. हालांकि, ध्यान दें कि स्टोर बिक्री से जुड़े सीधे तौर पर होने वाले कन्वर्ज़न ऐक्शन, बिडिंग के लिए इस्तेमाल नहीं किए जा सकते. भले ही, वे कस्टम लक्ष्य के लिए इस्तेमाल किए जाते हों.

इस लेख में, प्राइमरी और सेकंडरी कन्वर्ज़न ऐक्शन और उन्हें इस्तेमाल करने के तरीके के बारे में बताया गया है.

उदाहरण

आपके पास "खरीदारी" नाम का एक स्टैंडर्ड लक्ष्य हो सकता है, जो आपके खाते में मौजूद कैंपेन पर डिफ़ॉल्ट तौर पर लागू होता हो. “खरीदारी” के लक्ष्य में, आपके पास दो कन्वर्ज़न ऐक्शन हो सकते हैं. पहला, “सदस्यता” वाला कन्वर्ज़न ऐक्शन, जिसे आपने प्राइमरी ऐक्शन के तौर पर मार्क किया है. दूसरा, “एक बार की खरीदारी” वाला कन्वर्ज़न ऐक्शन, जिसे आपने सेकंडरी ऐक्शन के तौर पर मार्क किया है. प्राइमरी कार्रवाई को “कन्वर्ज़न” कॉलम में रिपोर्ट किया जाएगा और इसका इस्तेमाल उन सभी कैंपेन में बोली लगाने के लिए किया जाएगा जो आपके “खरीदारी” लक्ष्य का इस्तेमाल करते हैं. वहीं, सेकंडरी कार्रवाई का इस्तेमाल सिर्फ़ निगरानी के लिए किया जाएगा.

अगर आपने कोई कस्टम लक्ष्य बनाया है और उसमें “एक बार खरीदना” वाला कन्वर्ज़न ऐक्शन जोड़ा है, तो रिपोर्टिंग और बिडिंग के लिए इस कन्वर्ज़न ऐक्शन का इस्तेमाल अपने-आप होगा. साथ ही, इसकी मदद से किसी ऐसे कैंपेन में बिडिंग की जा सकती है जिसमें कस्टम लक्ष्य का इस्तेमाल किया जाता हो, फिर चाहे उसे सेकंडरी ऐक्शन के तौर पर मार्क किया गया हो.

ध्यान दें: कस्टम लक्ष्य में शामिल कन्वर्ज़न ऐक्शन का इस्तेमाल, रिपोर्टिंग और बिडिंग के लिए किया जाता है, फिर चाहे उन्हें “प्राइमरी” ऐक्शन के तौर पर सेट किया गया हो या “सेकंडरी”. हालांकि, कुछ मामलों में स्थिति अलग हो सकती है, जैसे कि स्टोर में होने वाली बिक्री से सीधे तौर पर होने वाले कन्वर्ज़न ऐक्शन. कस्टम लक्ष्य में शामिल होने के बावजूद, बिडिंग के लिए इनका इस्तेमाल नहीं किया जा सकता.

कन्वर्ज़न ऐक्शन के लिए प्राइमरी और सेकंडरी सेटिंग को अपडेट करने का तरीका

ध्यान दें: नीचे दिए गए निर्देश, Google Ads के नए वर्शन को ध्यान में रखकर तैयार किए गए हैं. पिछले वर्शन का इस्तेमाल करने के लिए, "थीम" आइकॉन पर क्लिक करें और पिछले वर्शन का यूज़र इंटरफ़ेस (यूआई) इस्तेमाल करें चुनें. अगर Google Ads के पिछले वर्शन का इस्तेमाल किया जा रहा है, तो किसी पेज को खोजने के लिए, Google Ads में उपलब्ध प्रमुख सुविधाओं को झटपट ढूंढने की सुविधा या सबसे ऊपर मौजूद नेविगेशन पैनल में खोज बार का इस्तेमाल करें.

इस इमेज में, Google Ads में कन्वर्ज़न लक्ष्य के लिए "खाते की डिफ़ॉल्ट सेटिंग" सेटिंग चालू करने का तरीका दिखाया गया है.

  1. Google Ads खाते में लक्ष्य आइकॉन लक्ष्य आइकॉन पर क्लिक करें.
  2. सेक्शन मेन्यू में, कन्वर्ज़न ड्रॉप-डाउन पर क्लिक करें.
  3. खास जानकारी पर क्लिक करें.
  4. उस लक्ष्य को खोजें जिसमें वह कन्वर्ज़न कार्रवाई शामिल है जिसमें आपको बदलाव करना है.
  5. सेटिंग में बदलाव करें पर क्लिक करें.
  6. "कन्वर्ज़न लक्ष्य और ऐक्शन ऑप्टिमाइज़ेशन" सेक्शन में, प्राइमरी या सेकंडरी चुनें.
  7. सेव करें पर क्लिक करें.
वेब से ऐप्लिकेशन को कनेक्ट करने वाले टूल का इस्तेमाल करके, ऐप्लिकेशन कन्वर्ज़न ट्रैकिंग सेट अप करें. कन्वर्ज़न ट्रैकिंग और डीप लिंकिंग सेट अप करने के लिए, Google Ads में वेब से ऐप्लिकेशन को कनेक्ट करने वाले टूल के इंटरफ़ेस का इस्तेमाल करने के बाद, ग्राहक अपनी वेबसाइट को अपने ऐप्लिकेशन के साथ आसानी से जोड़ सकते हैं. साथ ही, वे विज्ञापन पर क्लिक करके, आपकी मोबाइल वेबसाइट की तुलना में आपके ऐप्लिकेशन पर लैंड कर सकते हैं, जिससे औसतन दो गुना ज़्यादा कन्वर्ज़न रेट हासिल किया जा सकता है.

इस बेहतर अनुभव की मदद से, खरीदार अपनी मनचाही कार्रवाई आसानी से पूरा कर सकते हैं. फिर चाहे उन्हें खरीदारी करनी हो, साइन अप करना हो या कार्ट में आइटम जोड़ने हों. साथ ही, वेब से ऐप्लिकेशन को कनेक्ट करने वाले टूल के इंटरफ़ेस में जाकर, इन-ऐप्लिकेशन कन्वर्ज़न ऐक्शन को ट्रैक किया जा सकता है. साथ ही, कैंपेन को बेहतर बनाने के सुझाव भी पाए जा सकते हैं.

वेब से ऐप्लिकेशन को कनेक्ट करने वाले टूल का इस्तेमाल करने के लिए, नीचे दिए गए तीन चरणों वाले तरीके को अपनाएं:

  1. Google Ads खाते में, टूल आइकॉन टूल आइकॉन पर क्लिक करें.
  2. सेक्शन मेन्यू में, प्लानिंग ड्रॉप-डाउन पर क्लिक करें.
  3. ऐप्लिकेशन विज्ञापन हब पर क्लिक करें. यह आपको वेब से ऐप्लिकेशन को कनेक्ट करने वाले टूल के इंटरफ़ेस पर ले जाएगा.

वेब से ऐप्लिकेशन को कनेक्ट करने वाले टूल के इंटरफ़ेस से, बेहतर तरीके से कन्वर्ज़न पाने के बारे में ज़्यादा जानें.

क्या यह उपयोगी था?

हम उसे किस तरह बेहतर बना सकते हैं?
खोजें
खोज हटाएं
खोज बंद करें
Google ऐप
मुख्य मेन्यू