साइटमैप रिपोर्ट का इस्तेमाल करके साइटमैप मैनेज करना

साइटमैप रिपोर्ट का इस्तेमाल, अपनी प्रॉपर्टी के नए साइटमैप के बारे में Google को बताने और साइटमैप सबमिट करने का इतिहास देखने के लिए करें. इस रिपोर्ट की मदद से, सबमिट किए गए साइटमैप को पार्स करते समय Google को मिली गड़बड़ियों की जानकारी भी देखी जा सकती है.

साइटमैप की रिपोर्ट खोलें

 

साइटमैप क्या होता है? क्या मुझे इस रिपोर्ट की ज़रूरत है?

साइटमैप, आपकी साइट की एक ऐसी फ़ाइल होती है जिससे Google को यह पता चलता है कि उसे आपकी साइट पर मौजूद किन पेजों की जानकारी होनी चाहिए.

  • Squarespace या Wix जैसी कंपनियों की वेब होस्टिंग की सेवा लेने पर, हो सकता है कि वे आपके लिए साइटमैप मैनेज करें. ऐसे में, आपको साइटमैप बनाने या इस रिपोर्ट का इस्तेमाल करने की ज़रूरत नहीं होती. साइटमैप से जुड़ी जानकारी के लिए, उस कंपनी से संपर्क करें जो आपको सर्वर की सुविधा देती है.
  • अगर आपकी साइट छोटी है (पेजों की संख्या 100 से कम है) और होम पेज पर मौजूद एक या इससे ज़्यादा लिंक पर क्लिक करके, साइट के किसी भी पेज पर पहुंचा जा सकता है, तो आपको साइटमैप बनाने या इस रिपोर्ट को इस्तेमाल करने की ज़रूरत नहीं है. ऐसे में, बस अपने होम पेज को इंडेक्स करने का अनुरोध करें. जैसा कि ऊपर बताया गया है, वेब होस्टिंग की सेवा का इस्तेमाल करने पर, आपको कुछ भी करने की ज़रूरत नहीं है.

साइटमैप के बारे में ज़्यादा जानें.

अपने साइटमैप मैनेज करना

Sitemaps API
अपने साइटमैप को मैनेज करने के लिए, Search Console Sitemaps API का भी इस्तेमाल किया जा सकता है. एपीआई में इस रिपोर्ट के जैसी ही सुविधाएं और जानकारी होती है.
साइटमैप सबमिट करना
साइटमैप "सबमिट करके", Google को यह बताया जाता है कि वह आपकी साइट पर फ़ाइल को कहां खोजे. असल में, साइटमैप को Google पर अपलोड नहीं किया जा सकता.

क्रॉल करने के लिए एक नया साइटमैप सबमिट करने का तरीका:

  1. साइटमैप रिपोर्ट का इस्तेमाल करके साइटमैप सबमिट करने के लिए, आपके पास साइट के मालिक वाली अनुमतियां होनी चाहिए. अगर आपके पास साइट के मालिक वाली अनुमतियां नहीं हैं, तो इस रिपोर्ट का इस्तेमाल करके साइटमैप सबमिट करने के बजाय, साइटमैप को robots.txt फ़ाइल में शामिल करें.
  2. अपनी साइट पर साइटमैप पोस्ट करें.
    • साइटमैप बनाते समय साइटमैप के लिए स्वीकार किए जाने वाले किसी एक फ़ॉर्मैट का इस्तेमाल किया जाना चाहिए. सिंटैक्स, फ़ाइल की लोकेशन वगैरह के लिए, साइटमैप के दिशा-निर्देशों का पालन करें.
    • हमारा सुझाव है कि साइटमैप को अपने साइट रूट पर रखें. हालांकि, अगर Blogger, Wix या GoDaddy जैसी किसी साइट होस्टिंग सेवा का इस्तेमाल किया जा रहा है, तो आपको अपनी सेवा से जुड़ा दस्तावेज़ पढ़ना चाहिए. इसमें आपको पता चलेगा कि अपना साइटमैप कहां और कैसे पोस्ट करना है या क्या ऐसा करना ज़रूरी है.
    • अपना साइटमैप बनाने और सिंटैक्स की गड़बड़ियों की जांच करने के लिए, एक्सएमएल साइटमैप जनरेटर का इस्तेमाल करें.
  3. देखें कि Google आपके साइटमैप को ऐक्सेस कर सकता है या नहीं. साइटमैप ऐसा होना चाहिए कि Googlebot उसे ऐक्सेस कर सके. साथ ही, उसे ऐक्सेस करने के लिए लॉगिन की ज़रूरत जैसी कोई रोक नहीं होनी चाहिए. Googlebot, साइटमैप को ऐक्सेस कर सकता है या नहीं, इसकी जांच की जा सकती है. ऐसा करने के लिए, लाइव यूआरएल जांचने वाले टूल का इस्तेमाल करें और देखें कि पेज को फ़ेच करने की स्थिति, "फ़ेच किया गया" है या नहीं.
  4. साइटमैप रिपोर्ट खोलें. तीसरे चरण में जिस यूआरएल की जांच की गई थी उसे कॉपी करें. इसके बाद, साइटमैप रिपोर्ट में मौजूद नया साइटमैप जोड़ें वाले बॉक्स में इस यूआरएल को चिपकाएं, फिर सबमिट करें पर क्लिक करें.
  5. साइटमैप तुरंत फ़ेच होना चाहिए. हालांकि, साइटमैप में मौजूद यूआरएल को क्रॉल करने में कुछ समय लग सकता है. ऐसा हो सकता है कि साइटमैप में मौजूद सभी यूआरएल क्रॉल न किए जाएं. साइटमैप में मौजूद यूआरएल को क्रॉल करने के लिए, साइट के साइज़, उस पर की जाने वाली गतिविधि, और ट्रैफ़िक के साथ-साथ दूसरी चीज़ों को ध्यान में रखा जाता है.
  6. अगर साइटमैप की स्थिति फ़ेच किया गया नहीं है, तो रिपोर्ट में मौजूद पंक्ति पर क्लिक करके, ऐसा होने के बारे में जानकारी देखें. साथ ही, गड़बड़ियों के बारे में नीचे पढ़ें.

समय-समय पर इसकी जांच करते रहें कि Google आपके साइटमैप को फ़ेच और प्रोसेस कर सकता है या नहीं.

साइटमैप फिर से सबमिट करना

साइटमैप क्रॉल हो जाने के बाद, Google उसे बार-बार क्रॉल करता रहेगा. हालांकि, इसकी फ़्रीक्वेंसी, साइट की नियमित क्रॉलिंग पर निर्भर नहीं करती है.
साइटमैप में कुछ बड़े बदलाव करने पर, उसे नए अनुरोध के साथ फिर से सबमिट करें. अगर आपके साइटमैप में ज़रूरी अपडेट नहीं किया गया है, तो उन्हें तुरंत प्रोसेस हो जाना चाहिए. Google अपने नियमित शेड्यूल के हिसाब से क्रॉल करता रहेगा.
अगर क्रॉल करने के पहले अनुरोध या शेड्यूल किए गए दोबारा क्रॉल के अनुरोध के बावजूद Google, साइटमैप को फ़ेच नहीं कर पाता है, तो वह कुछ दिनों तक उसे फ़ेच करने की कोशिश करता रहेगा. अगर इसके बाद भी साइटमैप उपलब्ध नहीं होता है या उसमें गंभीर गड़बड़ियां होती हैं, तो Google उसे फ़ेच करने की कोशिश करना बंद कर देगा. ऐसी स्थिति में इस समस्या को ठीक करें और नए अनुरोध की मदद से अपना साइटमैप फिर से सबमिट करें. इस रिपोर्ट में, हर अनुरोध के लिए हाल ही में किए गए क्रॉल का स्टेटस दिखता है.

साइटमैप मिटाना

अगर किसी साइटमैप को मिटाया जाता है, तो इस रिपोर्ट से वह साइटमैप हट जाता है. हालांकि, Google के पास उस साइटमैप या उसमें मौजूद किसी यूआरएल की जानकारी मौजूद रहती है. अगर Google को साइटमैप में मौजूद यूआरएल को क्रॉल करने से रोकना है, तो आपको robots.txt नियम का इस्तेमाल करना होगा.

रिपोर्ट से किसी साइटमैप को मिटाने के लिए:

  1. मुख्य साइटमैप की रिपोर्ट पर मौजूद टेबल में, जिस साइटमैप को मिटाना है उसे खोजें और उस पर क्लिक करें.
  2. साइटमैप की ज़्यादा जानकारी वाले पेज में, ज़्यादा विकल्प बटन ज़्यादा पर क्लिक करें.
  3. साइटमैप हटाएं पर क्लिक करें.
  4. साइटमैप या उसमें दिए गए किसी पेज के यूआरएल को Google क्रॉल न कर पाए, इसके लिए इनमें से कोई भी तरीका अपनाएं:

साइटमैप की क्रॉलिंग शेड्यूल करना

साइटमैप सबमिट किए जाने के बाद, Google उसे तुरंत क्रॉल करने की कोशिश करता है. साइटमैप क्रॉल हो जाने के बाद, Google उसे बार-बार क्रॉल करता रहेगा. हालांकि, इसकी फ़्रीक्वेंसी, साइट क्रॉल करने के शेड्यूल पर निर्भर नहीं करती है.

अगर साइटमैप को फ़ेच या पार्स करने की प्रोसेस पूरी नहीं हो पाती है, तो Google कुछ दिनों तक साइटमैप को फ़ेच और प्रोसेस करने की कोशिश करता रहेगा. अगर इसके बाद भी Google साइटमैप को फ़ेच और प्रोसेस नहीं कर पाता है, तो वह उस यूआरएल को क्रॉल करने की कोशिश बंद कर देगा. साइटमैप में मौजूद अलग-अलग यूआरएल में समस्याएं होने पर भी Google, साइटमैप को ऐक्सेस करता रहेगा. ऐसा तब तक होगा, जब तक वह साइटमैप फ़ेच कर सकता है और पढ़ सकता है.

रिपोर्ट को समझना

  1. साइटमैप के डोमेन से ऊपर वाले लेवल की साइटमैप रिपोर्ट के पेज में, उन सभी साइटमैप के लिए किए गए Google के अनुरोधों की स्थिति दिखती है जिन्हें इस रिपोर्ट या एपीआई का इस्तेमाल करके सबमिट किया गया था. इस रिपोर्ट में, हर साइटमैप के लिए किए गए आखिरी अनुरोध की स्थिति दिखती है. हर साइटमैप के लिए इनमें से एक वैल्यू दिखती है, जिससे साइटमैप के लिए आखिरी बार किए गए अनुरोध की स्थिति का पता चलता है:
    1. फ़ेच किया गया: साइटमैप को फ़ेच किया गया और उसे पढ़ने पर कोई गड़बड़ी नहीं मिली.
    2. फ़ेच नहीं किया जा सका: Google, साइटमैप को फ़ेच नहीं कर सका.
    3. साइटमैप में X गड़बड़ियां थीं: साइटमैप को फ़ेच किया गया, लेकिन उसे पूरा नहीं पढ़ा जा सका. साइटमैप में कुछ गड़बड़ियां मिलीं.
  2. किसी साइटमैप पर क्लिक करके, ज़्यादा जानकारी देने वाला पेज देखें. इस पेज पर आपको अनुरोध और साइटमैप के बारे में जानकारी मिलेगी.
    • अगर ज़्यादा जानकारी वाले पेज पर, साइटमैप को पढ़ा नहीं जा सका स्थिति दिखती है, तो इसे इनमें से किसी वजह से फ़ेच नहीं किया जा सका, जैसा कि ज़्यादा जानकारी वाले पेज पर दिखाया गया है. गड़बड़ी के नीचे मौजूद सेक्शन को बड़ा करके, ज़्यादा जानकारी देखें. समस्या को ठीक करें और रिपोर्ट में साइटमैप को फिर से सबमिट करें. अगर साइटमैप को अब भी फ़ेच नहीं किया जा सकता है, तो Google कुछ समय और कोशिश करेगा, लेकिन फिर भी ऐसा न कर पाने पर वह इसकी कोशिश करना बंद कर देगा.
    • अगर ज़्यादा जानकारी देने वाले पेज पर, साइटमैप को पढ़ा जा सका, लेकिन इसमें कुछ गड़बड़ियां हैं स्थिति दिखती है, तो आपको ज़्यादा जानकारी देने वाले पेज पर उस साइटमैप में मिली गड़बड़ियां दिखेंगी. गड़बड़ी के नीचे मौजूद सेक्शन को बड़ा करके, उसके बारे में ज़्यादा जानकारी देखें. इन गड़बड़ियों और इन्हें ठीक करने के बारे में ज़्यादा जानने के लिए यहां पढ़ें.

अहम जानकारी:

  • इस रिपोर्ट में सिर्फ़ उन साइटमैप को दिखाया जाता है जिन्हें इस रिपोर्ट या एपीआई का इस्तेमाल करके सबमिट किया गया था. इसमें, ऐसे किसी साइटमैप की जानकारी नहीं होती है जिसे robots.txt रेफ़रंस या किसी दूसरे तरीके से खोजा गया हो. हालांकि, Google जिन साइटमैप को दूसरे तरीकों से खोजता है उन्हें भी इस रिपोर्ट की मदद से सबमिट किया जा सकता है. इससे, हमारी सफलता और गड़बड़ियों की दर को ट्रैक किया जा सकता है.
  • इस रिपोर्ट में सिर्फ़ ऐसे साइटमैप दिखते हैं जो मौजूदा प्रॉपर्टी में शामिल हैं. अगर आपको ऐसा साइटमैप नहीं मिल रहा है जिसकी आपको उम्मीद थी, तो पक्का करें कि आपने http/https या www/बिना www प्रॉपर्टी का ध्यान रखा हो.
  • अगर कई बार कोशिश करने के बाद भी Google, साइटमैप को फ़ेच नहीं कर पाता है, तो वह उस साइटमैप को पढ़ने की कोशिश करना बंद कर देगा. ऐसे में, उन गड़बड़ियों को ठीक करके साइटमैप को फिर से सबमिट करें.
  • अगर Google किसी साइटमैप को पढ़ पाता है, तो वह साइटमैप में मौजूद जानकारी सेव कर लेता है. अगर Google बाद में उस साइटमैप को फ़ेच नहीं कर पाता या पढ़ नहीं पाता है, तो इसका मतलब यह नहीं है कि वह पिछली बार सेव की गई जानकारी को "मिटा" देगा. हालांकि, किसी यूआरएल के बारे में नई जानकारी मिलने पर, पुरानी जानकारी को हटाकर नई जानकारी को सुरक्षित कर लिया जाता है.
  • आपके पास साइटमैप में इमेज, वीडियो या खबर के यूआरएल सबमिट करने का विकल्प होता है. हालांकि, रिपोर्ट में इस तरह के यूआरएल का डेटा फ़िलहाल नहीं दिखाया जाता है.
  • रिपोर्ट में, सबमिट किए गए ज़्यादा से ज़्यादा 1,000 अनुरोध दिखाए जा सकते हैं. आपके पास और साइटमैप सबमिट करने का विकल्प होता है, लेकिन रिपोर्ट में सिर्फ़ 1,000 साइटमैप दिखाए जा सकते हैं. हालांकि, इन्हें सबमिट करने के क्रम में नहीं दिखाया जाता. फ़िलहाल, Search Console में, सबमिट किए गए अतिरिक्त अनुरोध देखने का कोई तरीका नहीं है.

 

हर साइटमैप के लिए, यहां दी गई जानकारी दिखती है:

साइटमैप का यूआरएल
यह वह यूआरएल होता है जिसे साइटमैप सबमिट करते समय दिया गया था. दूसरे वेबलिंक पर ले जाने वाले यूआरएल को इसमें शामिल नहीं किया जाता है. यहां सिर्फ़ वे साइटमैप दिखते हैं जिन्हें इस रिपोर्ट या एपीआई का इस्तेमाल करके सबमिट किया जाता है.
अनुरोध किस तरह का है
साइटमैप किस तरह का है. वैल्यू इस तरह की हो सकती हैं:
सबमिट किया गया
वह तारीख जब इस रिपोर्ट का इस्तेमाल करते हुए Google को साइटमैप सबमिट किया गया.
पिछली बार फ़ेच किया गया
वह तारीख जब Google ने पिछली बार साइटमैप को फ़ेच किया था. यह जानकारी सिर्फ़ तब दिखती है, जब Google ने साइटमैप को फ़ेच किया हो.
स्टेटस
हाल ही में किए गए क्रॉल का स्टेटस. वैल्यू इस तरह की हो सकती हैं:
  • हो गया: साइटमैप लोड किया गया और बिना किसी गड़बड़ी के प्रोसेस किया गया. सभी यूआरएल, क्रॉल करने की सूची में जोड़ दिए जाएंगे.
  • इसमें गड़बड़ियां हैं: साइटमैप को फ़ेच किया जा सकता है, लेकिन इसमें एक या इससे ज़्यादा गड़बड़ियां हैं. अगर किसी यूआरएल को साइटमैप से बिना गड़बड़ी के पार्स कर लिया जाता है, तो उसे क्रॉल करने की सूची में जोड़ दिया जाता है. गड़बड़ियों की ज़्यादा जानकारी वाली सूची देखने के लिए, टेबल में मौजूद साइटमैप पर क्लिक करें. पार्स करने में हुई गड़बड़ी की पूरी जानकारी यहां देखें.
  • फ़ेच नहीं किया जा सका: किसी वजह से साइटमैप को फ़ेच नहीं किया जा सका. फ़ेच से जुड़ी गड़बड़ियों को ठीक करने का तरीका जानें.
पार्स किए गए पेज
इससे साइटमैप से, पेजों के पार्स किए गए यूआरएल की संख्या का पता चलता है. अगर यह जानकारी किसी साइटमैप इंडेक्स के बारे में है, तो यह संख्या सभी चाइल्ड साइटमैप में मौजूद यूआरएल की संख्या होगी. डुप्लीकेट यूआरएल सिर्फ़ एक बार गिने जाते हैं. इस बात की कोई गारंटी नहीं है कि साइटमैप में मिले पेज का यूआरएल, Google ने क्रॉल या इंडेक्स कर लिया है या इसे क्रॉल या इंडेक्स किया ही जाएगा. पेज के इंडेक्स होने की रिपोर्ट को साइटमैप के हिसाब से फ़िल्टर किया जा सकता है. इससे आपको इस साइटमैप में मौजूद उन यूआरएल की संख्या पता चलती है जिन्हें इंडेक्स किया जा चुका है.
पार्स किए गए वीडियो
इससे साइटमैप से, वीडियो के पार्स किए गए यूआरएल की संख्या का पता चलता है. इस बात की कोई गारंटी नहीं है कि इन यूआरएल को Google ने क्रॉल या इंडेक्स कर लिया गया है या इन्हें क्रॉल या इंडेक्स किया ही जाएगा. वीडियो वाले पेज के इंडेक्स होने से जुड़ी रिपोर्ट को साइटमैप के हिसाब से फ़िल्टर किया जा सकता है. इससे आपको उन पेजों के यूआरएल की संख्या मिलेगी जिन पर वीडियो मौजूद है और जिसे इंडेक्स किया जा चुका है. अगर किसी पेज पर ऐसे वीडियो का यूआरएल इंडेक्स किया जाता है जो साइटमैप में दिए गए वीडियो के यूआरएल से अलग है, तो ध्यान दें कि Search Console आपको इसकी जानकारी दिखाता है. अगर यहां मौजूद साइटमैप में कोई ऐसा पेज शामिल है जिसे क्रॉल किए जाने पर Google को कोई वीडियो मिला था, तो उस साइटमैप को वीडियो वाले पेज के इंडेक्स होने की रिपोर्ट से लिंक किया जाएगा.
इंडेक्स की कवरेज देखना
रिपोर्ट को खोलने के लिए इस पर क्लिक करें. इसमें साइटमैप में शामिल सभी यूआरएल के इंडेक्स कवरेज की जानकारी दिखेगी. साइटमैप इंडेक्स में वे सभी यूआरएल शामिल होते हैं जो किसी भी चाइल्ड साइटमैप में मौजूद होते हैं.

 

रिपोर्ट में मेरा साइटमैप मौजूद नहीं है!

अगर आपका साइटमैप रिपोर्ट में मौजूद नहीं है, तो ऐसा नीचे दी गई वजहों से हो सकता है:

  • वह दूसरी प्रॉपर्टी में मौजूद है. एक प्रॉपर्टी का साइटमैप दूसरी प्रॉपर्टी में नहीं दिखेगा. इसलिए, आपने http://example.com के लिए जो साइटमैप सबमिट किए हैं वे http://m.example.com या https://example.com की साइटमैप रिपोर्ट में नहीं दिखेंगे. इस समस्या को ठीक करने के लिए, पक्का करें कि आपने साइट के सभी वर्शन जोड़े हैं.
  • आपने इस रिपोर्ट या एपीआई का इस्तेमाल करके साइटमैप सबमिट नहीं किया था. यहां सिर्फ़ इस रिपोर्ट या Search Console API का इस्तेमाल करके सबमिट किए गए साइटमैप दिखते हैं. किसी दूसरे तरीकों से खोजे या सबमिट किए गए साइटमैप नहीं दिखाए जाएंगे. भले ही, Google उन साइटमैप को खोजकर उनका इस्तेमाल कर सकता हो.

साइटमैप में होने वाली गड़बड़ियां

साइटमैप रिपोर्ट में यहां दी गई गड़बड़ियाें की जानकारी शामिल होती है. इस सूची में सारी गड़बड़ियां शामिल नहीं हैं. हालांकि, इसमें वे सभी गड़बड़ियां मौजूद हैं जो आम तौर पर साइटमैप में आ सकती हैं.

साइटमैप को फ़ेच करने से जुड़ी गड़बड़ियां
अगर साइटमैप के डोमेन से ऊपर वाले लेवल की साइटमैप रिपोर्ट के पेज में, साइटमैप की स्थिति फ़ेच नहीं किया जा सका दिखती है, तो इसका मतलब है कि Google खुद साइटमैप फ़ाइल को फ़ेच नहीं कर सका. इसकी कई वजहें हो सकती हैं:
  • robots.txt फ़ाइल से साइटमैप को ब्लॉक किया गया है. Google, साइटमैप को फ़ेच करते समय robots.txt का पालन करता है. आपको उस नियम को हटाना होगा जो Google को आपका साइटमैप फ़ेच करने से रोकता है.
  • आपकी साइट पर कोई मैन्युअल ऐक्शन लिया गया है. अगर साइट से मैन्युअल ऐक्शन को हटाया नहीं गया है, तो साइटमैप को पढ़ा नहीं जा सकता. मैन्युअल ऐक्शन की रिपोर्ट देखें. समस्या को ठीक करें और अपना साइटमैप फिर से सबमिट करें.
  • साइटमैप के लिए दिया गया यूआरएल गलत है (एचटीटीपी 404 गड़बड़ी: दिए गए पते पर साइटमैप नहीं मिला). अपने ब्राउज़र में यूआरएल पर जाएं और देखें कि साइटमैप मौजूद है या नहीं.
  • आम तौर पर होने वाली कुछ अन्य गड़बड़ियां: कभी-कभी अन्य गड़बड़ियां, Google को आपकी साइट से साइटमैप फ़ेच करने से रोक सकती हैं, जैसे कि सर्वर का उपलब्ध न होना. इनमें से कुछ गड़बड़ियां थोड़े समय के लिए होती हैं: कुछ देर इंतज़ार करें और देखें कि क्या साइट को बाद में क्रॉल करने पर भी Google को यही गड़बड़ी मिल रही है.

फ़ेच करने से जुड़ी गड़बड़ियां डीबग करना

  1. आखिरी बार फ़ेच करने के अनुरोध की जानकारी देखने के लिए, सूची में साइटमैप पर क्लिक करें.
  2. गड़बड़ी के बारे में ज़्यादा जानकारी देखने के लिए, ज़्यादा जानकारी वाले पेज में गड़बड़ी के नाम पर क्लिक करें.
  3. यूआरएल जांचने वाले टूल में, गड़बड़ी की पुष्टि करें:
    1. साइटमैप रिपोर्ट के पेज पर जाकर, साइटमैप का यूआरएल कॉपी करें.
    2. यूआरएल जांचने वाले टूल में यूआरएल चिपकाएं और Enter दबाएं.
    3. यूआरएल जांचने वाले टूल में लाइव टेस्ट पर क्लिक करें.
    4. पेज की उपलब्धता सेक्शन को बड़ा करें और देखें कि Google, साइटमैप को फ़ेच क्यों नहीं कर पा रहा है. आपको सभी फ़ील्ड की जानकारी यहां मिल सकती है, लेकिन आपको देखना है कि क्रॉल करने की अनुमति है? = "हां", पेज को फ़ेच करने की स्थिति = "फ़ेच किया गया."
साइटमैप को पार्स करने में हुई गड़बड़ियां

फ़ेच किए गए साइटमैप को प्रोसेस करते समय, ये गड़बड़ियां हो सकती हैं:

यूआरएल ऐक्सेस नहीं किए जा सकते

Google को आपके साइटमैप में मौजूद किसी यूआरएल को क्रॉल करने पर गड़बड़ी मिली. यूआरएल की जांच करने वाले टूल की मदद से साइटमैप में मौजूद यूआरएल की जांच करके देखें कि Google उसे क्रॉल कर सकता है या नहीं.

यूआरएल को क्रॉल नहीं किया गया

साइटमैप में शामिल सभी यूआरएल को Google क्रॉल नहीं कर पाया. इसकी कुछ वजहें हो सकती हैं:

  • यूआरएल में काफ़ी ज़्यादा रीडायरेक्ट मौजूद हैं, जिन्हें Google के वेब क्रॉलर को क्रॉल करने में मुश्किल हो रही है. हमारा सुझाव है कि आप ऐसे किसी भी रीडायरेक्ट करने वाले यूआरएल को साइटमैप से हटा कर वह यूआरएल डालें जिसे क्रॉल किया जा सके.
    • अगर एक पेज से दूसरे पेज पर हमेशा के लिए रीडायरेक्ट किया जा रहा है, तो स्थायी रीडायरेक्ट का इस्तेमाल करें.
    • JavaScript और मेटा-रीफ़्रेश, जैसे रीडायरेक्ट का इस्तेमाल करने से बचें.
  • साइटमैप में मौजूद मिलते-जुलते यूआरएल को क्रॉल करने में Google को समस्या आ रही है. जहां भी हो सके, मिलते-जुलते लिंक के बजाय बिलकुल सटीक और पूरे लिंक का इस्तेमाल करें. उदाहरण के लिए, अपनी साइट पर किसी दूसरे पेज का लिंक देते समय mypage.html के बजाय https://www.example.com/mypage.html का इस्तेमाल करें.

यूआरएल की अनुमति नहीं है

आपके साइटमैप में कुछ ऐसे यूआरएल मौजूद हैं जो साइटमैप फ़ाइल के डाेमेन से ऊपर वाले लेवल के यूआरएल हैं या इनके डोमेन, साइटमैप फ़ाइल के डोमेन से अलग हैं.

ऊपर वाले लेवल के यूआरएल:अगर आपका साइटमैप http://www.example.com/mysite/sitemap.xml पर मौजूद है, तो नीचे दिए गए यूआरएल इस साइटमैप के लिए मान्य नहीं हैं:

  • http://www.example.com/ - यह साइटमैप के डोमेन से ऊपर वाले लेवल का यूआरएल है
  • http://www.example.com/yoursite/ - साइटमैप की सिबलिंग डायरेक्ट्री में आपको इस तक पहुंचने के लिए पहले ऊपर और फिर नीचे जाना होगा.

अलग डोमेन: जांच करें कि सभी यूआरएल उसी डोमेन से शुरू होते हैं जिस पर आपकी साइट का साइटमैप मौजूद है. उदाहरण के लिए, अगर आपका साइटमैप http://www.example.com/sitemap.xml पर मौजूद है, तो नीचे दिए गए यूआरएल इस साइटमैप के लिए मान्य नहीं हैं:

  • http://example.com/ - इसमें "www" नहीं है
  • www.example.com/ - इसमें "http" नहीं है
  • https://www.example.com/ - इसमें http की जगह https का इस्तेमाल हुआ है

कंप्रेस करने से जुड़ी गड़बड़ी.

कंप्रेस की गई आपकी साइटमैप फ़ाइल को खोलने की कोशिश करते समय Google को गड़बड़ी मिली. साइटमैप को gzip, जैसे टूल की मदद से फिर से कंप्रेस करें. इसके बाद, कंप्रेस की गई फ़ाइल को अपनी साइट पर अपलोड करें और इसे फिर से सबमिट करें.

बिना यूआरएल वाला साइटमैप

आपके साइटमैप में कोई यूआरएल नहीं है. अपने साइटमैप की जांच करके पक्का करें कि यह खाली न हो.

साइटमैप फ़ाइल के साइज़ की गड़बड़ी: आपके साइटमैप का साइज़ तय सीमा से ज़्यादा है.

बिना कंप्रेस किए, आपके साइटमैप की फ़ाइल का साइज़ 50 एमबी से ज़्यादा है. अगर आपके साइटमैप का साइज़ तय सीमा से ज़्यादा है, तो उसे कई छोटे साइटमैप में बांट लें. इसके बाद, छोटे किए गए इन साइटमैप को साइटमैप की इंडेक्स फ़ाइल में डालें और साइटमैप इंडेक्स फ़ाइल (फ़ाइलें) सबमिट करें.

एट्रिब्यूट की अमान्य वैल्यू

आपने एक्सएमएल टैग के एट्रिब्यूट के लिए अमान्य वैल्यू डाली है. अपने साइटमैप की जांच करें और पक्का करें कि इसमें सिर्फ़ ऐसे एट्रिब्यूट मौजूद हों जिन्हें इस्तेमाल करने की मंज़ूरी है. साथ ही, एट्रिब्यूट के लिए वे वैल्यू डालें जिन्हें साइटमैप के निर्देशों के हिसाब से इस्तेमाल किया जा सकता है. इसकी भी जांच करें कि एट्रिब्यूट और वैल्यू डालने में कोई गलती न हुई हाे.

अमान्य तारीख

आपके साइटमैप में एक या एक से ज़्यादा अमान्य तारीखें हैं. यह गड़बड़ी तब हो सकती है, जब तारीख गलत फ़ॉर्मैट में हाे या तारीख मान्य न हाे. तारीख को समय और तारीख की W3C एन्काेडिंग के हिसाब से लिखा जाना चाहिए. हालांकि, समय वाले हिस्से को छोड़ा जा सकता है. पक्का कर लें कि तारीखों को नीचे दिए गए समय और तारीख के W3C फ़ॉर्मैट में लिखा गया हाे:

2005-02-21 
2005-02-21T18:00:15+00:00

समय डालना ज़रूरी नहीं है. समय डिफ़ॉल्ट रूप से 00:00:00Z पर सेट हो जाता है. लेकिन, समय डालने पर आपको समय क्षेत्र भी डालना होगा.

टैग की अमान्य वैल्यू

आपके साइटमैप में अमान्य वैल्यू वाले एक या एक से ज़्यादा टैग हैं. आपका साइटमैप किस तरह का है, इसके लिए तय की गई ज़रूरी शर्तें देखें. जैसे- इंडेक्स, स्टैंडर्ड, वीडियो वगैरह.

अमान्य यूआरएल

आपके साइटमैप में माैजूद एक यूआरएल मान्य नहीं है. यह गड़बड़ी तब हो सकती है, जब यूआरएल में ऐसे वर्ण हों जिनका इस्तेमाल नहीं किया जा सकता. इसके अलावा, उसमें खाली जगह हो या कोट जैसे दूसरे वर्ण मौजूद हों. ऐसा तब भी हो सकता है, जब यूआरएल का फ़ॉर्मैट गलत हो, जैसे कि http:// के बजाय htp:// दिया हो.

देखें कि आपके साइटमैप में माैजूद यूआरएल इस हिसाब से एन्काेड किए गए हाें कि वे ठीक से पढ़े जा सकें और वे सही तरीके से एस्केप किए गए हों. इस बात की जांच कर लें कि यूआरएल में खाली जगह या काेट जैसे गलत वर्ण न डाले गए हाें. यूआरएल को किसी ब्राउज़र में कॉपी करके भी यह देखा जा सकता है कि इससे पेज लोड होता है या नहीं.

साइटमैप इंडेक्स फ़ाइल में अमान्य यूआरएल मौजूद है: अधूरा यूआरएल

आपकी साइटमैप इंडेक्स फ़ाइल में डाली गई, हर साइटमैप फ़ाइल के लिए पूरा यूआरएल माैजूद नहीं है. साइटमैप इंडेक्स फ़ाइल में माैजूद साइटमैप फ़ाइलें देखने के लिए, हम वही डायरेक्ट्री इस्तेमाल करते हैं जाे साइटमैप इंडेक्स फ़ाइल में दी गई होती है. उदाहरण के लिए, अगर आपकी साइटमैप इंडेक्स फ़ाइल http://www.example.com/folder1/sitemap_index.xml है और इसमें साइटमैप sitemap.xml के तौर पर है (शुरुआत में / नहीं है), तो हम उस साइटमैप को http://www.example.com/folder1/sitemap.xml पर देखेंगे. अगर हमें वह वहां नहीं मिलता, तो आपको यह गड़बड़ी दिखेगी.

साइटमैप की इंडेक्स फ़ाइल में दी गई सभी साइटमैप फ़ाइलों का पूरा पाथ शामिल करने के लिए, साइटमैप की इंडेक्स फ़ाइल को अपडेट करें और इसे फिर से सबमिट करें.

अमान्य एक्सएमएल: ज़रूरत से ज़्यादा टैग

आपके साइटमैप में डुप्लीकेट टैग हैं. उदाहरण के लिए, नीचे दिए गए यूआरएल में यह गड़बड़ी दिखेगी, क्योंकि <loc> टैग का इस्तेमाल दो बार किया गया है:

<url>
  <loc>http://www.example.com/</loc>
  <loc>http://www.example.com/page1.html</loc>
  <lastmod>2005-01-01</lastmod>
  <changefreq>monthly</changefreq>
  <priority>0.8</priority>
</url>

गड़बड़ी की जानकारी में समस्या वाला टैग और उसकी लाइन का नंबर माैजूद होता है. डुप्लीकेट टैग हटाएं और अपना साइटमैप फिर से सबमिट करें.

एक्सएमएल एट्रिब्यूट मौजूद नहीं है

आपके साइटमैप के एक टैग में ज़रूरी एट्रिब्यूट मौजूद नहीं है. अपने साइटमैप की जांच करके देख लें कि इसमें सभी ज़रूरी एट्रिब्यूट माैजूद हाें. सभी ज़रूरी एट्रिब्यूट को शामिल करने के बाद, अपना साइटमैप फिर से सबमिट करें.

एक्सएमएल टैग मौजूद नहीं है

आपके साइटमैप के एक या ज़्यादा यूआरएल में ज़रूरी टैग मौजूद नहीं है. गड़बड़ी के मैसेज में लाइन नंबर माैजूद होता है. ज़रूरी टैग के बारे में जानकारी के लिए साइटमैप के बारे में बुनियादी बाताें वाला पेज देखें.

थंबनेल का यूआरएल मौजूद नहीं है

साइटमैप के एक या ज़्यादा वीडियो के यूआरएल में थंबनेल की इमेज का यूआरएल मौजूद नहीं है. यह पक्का कर लें कि <video:thumbnail_loc> टैग का इस्तेमाल करके थंबनेल के यूआरएल की जगह बताई गई हो.

वीडियाे का टाइटल मौजूद नहीं है

साइटमैप में मौजूद एक या एक से ज़्यादा वीडियो का टाइटल नहीं डाला गया है. यह पक्का कर लें कि आपके साइटमैप में मौजूद हर वीडियो का टाइटल डाला गया हाे और इसके बारे में <video:title> टैग का इस्तेमाल करके बताया गया हाे.

साइटमैप इंडेक्स फ़ाइल का फ़ॉर्मैट गलत है: नेस्ट किए गए साइटमैप इंडेक्स

आपकी साइटमैप इंडेक्स फ़ाइल की एक या एक से ज़्यादा फ़ाइल का ही यूआरएल डाला गया है. ऐसा भी हो सकता है कि उसमें किसी दूसरी साइटमैप इंडेक्स फ़ाइल का यूआरएल मौजूद है. साइटमैप इंडेक्स फ़ाइल में दूसरी साइटमैप इंडेक्स फ़ाइलें शामिल नहीं की जा सकतीं. इसमें सिर्फ़ साइटमैप फ़ाइलें डाली जा सकती हैं.

साइटमैप इंडेक्स फ़ाइल के यूआरअल हटाएं. इसके बाद, अपना साइटमैप फिर से सबमिट करें.

पार्स करने में गड़बड़ी

Google, साइटमैप के एक्सएमएल को पार्स नहीं कर सका.

अक्सर यह समस्या तब आती है, जब यूआरएल में ऐसे वर्ण शामिल हों जिन्हें एस्केप न किया गया हो. सभी एक्सएमएल फ़ाइलों की तरह, डेटा से जुड़े किसी भी वैल्यू (जिसमें यूआरएल भी शामिल हैं) के लिए & ' " < >, जैसे खास वर्णों के लिए एंटिटी एस्केप कोड इस्तेमाल करना चाहिए. यह ज़रूर देख लें कि आपके यूआरएल सही तरीके से एस्केप किए गए हाें.

कुछ समय तक रहने वाली गड़बड़ी

हमारे सिस्टम में कुछ समय के लिए ऐसी समस्या हुई, जिसकी वजह से हम आपके साइटमैप को प्राेसेस नहीं कर पाए. आम ताैर पर, यह गड़बड़ी मिलने पर आपको अपना साइटमैप फिर से सबमिट करने की ज़रूरत नहीं होती. Google, आपके साइटमैप को बाद में प्रोसेस करने की काेशिश कर सकता है. अगर कई घंटों के बाद भी यह गड़बड़ी बनी रहती है, तो अपने साइटमैप को फिर से सबमिट करें.

कई साइटमैप

आपकी साइटमैप की इंडेक्स फ़ाइल में 50,000 से ज़्यादा साइटमैप हैं. अपनी साइटमैप की इंडेक्स फ़ाइल को एक से ज़्यादा फ़ाइलों में बांटें. साथ ही, पक्का करें कि हर फ़ाइल में 50,000 से कम साइटमैप हाें.

काफ़ी ज़्यादा यूआरएल

आपके साइटमैप में 50,000 से ज़्यादा यूआरएल हैं. अपने साइटमैप काे एक से ज़्यादा साइटमैप में बांटें. साथ ही, पक्का करें कि हर साइटमैप में 50,000 से कम यूआरएल हों. अपने साइटमैप मैनेज करने के लिए, साइटमैप की इंडेक्स फ़ाइल का भी इस्तेमाल किया जा सकता है.

काम न करने वाले फ़ॉर्मैट

आपका साइटमैप जिस फ़ॉर्मैट में है, वह Search Console पर काम नहीं करता.

एक्सएमएल से जुड़ी कुछ आम गलतियां:

  • आपके साइटमैप का हेडर सही हाेना चाहिए. उदाहरण के लिए, अगर आपके साइटमैप में वीडियो की जानकारी शामिल है, तो इसमें यह हेडर होगा:
    <?xml version="1.0" encoding="UTF-8"?>
    <urlset xmlns="http://www.sitemaps.org/schemas/sitemap/0.9"
            xmlns:video="http://www.google.com/schemas/sitemap-video/1.1">
  • हेडर में नेमस्पेस "http://www.sitemaps.org/schemas/sitemap/0.9" होना चाहिए, न कि .9.
  • सभी एक्सएमएल एट्रिब्यूट को सिंगल काेट (') या डबल काेट (") में रखा जाना चाहिए. ये काेट सीधे होने चाहिए, कर्ली कोट इस्तेमाल नहीं किए जा सकते. Microsoft Word, जैसे वर्ड प्राेसेसिंग प्रोग्राम में कर्ली काेट का इस्तेमाल किया जा सकता है.

पाथ एक जैसा नहीं है: www शामिल नहीं है

आपके साइटमैप के पाथ में www प्रीफ़िक्स शामिल नहीं है. उदाहरण के लिए, http://example.com/sitemap.xml. हालांकि, इसमें माैजूद यूआरएल में www प्रीफ़िक्स है. उदाहरण के लिए, http://www.example.com/myfile.html.

अपने साइटमैप में बदलाव करें और सभी यूआरएल से "www" हटाएं, ताकि वे आपके साइटमैप के डोमेन से मेल खाएं.

पाथ एक जैसा नहीं है: www शामिल है

आपके साइटमैप के पाथ में www प्रीफ़िक्स शामिल है. उदाहरण के लिए, http://www.example.com/sitemap.xml) है. हालांकि, साइटमैप में मौजूद यूआरएल में www प्रीफ़िक्स नहीं है. उदाहरण के लिए, http://example.com/myfile.xml.

अपने साइटमैप में बदलाव करें और सभी यूआरएल में "www" जोड़ें, ताकि वे आपके साइटमैप के डोमेन से मेल खाएं.

गलत नेमस्पेस

आपके साइटमैप के रूट एलिमेंट में सही नेमस्पेस नहीं है या नेमस्पेस के बारे में गलत जानकारी दी गई है या उसे गलत तरह से लिखा गया है या उसका यूआरएल गलत है.

देख लें कि फ़ाइल टाइप के लिए सही नेमस्पेस का इस्तेमाल किया जा रहा है. उदाहरण के लिए:

  • साइटमैप फ़ाइल: xmlns="http://www.sitemaps.org/schemas/sitemap/0.9"
  • वीडियो साइटमैप फ़ाइल: xmlns:video="http://www.google.com/schemas/sitemap-video/1.1"
  • साइटमैप इंडेक्स फ़ाइल: <sitemapindex xmlns="http://www.sitemaps.org/schemas/sitemap/0.9">
  • दूसरी तरह के साइटमैप...

साइटमैप की शुरुआत खाली सफ़ेद जगह से होती है

आपका साइटमैप, नेमस्पेस की जानकारी के बजाय खाली सफ़ेद जगह से शुरू होता है. एक्सएमएल फ़ाइलों की शुरुआत एक्सएमएल की जानकारी से होनी चाहिए, जिसमें बताया जाता है कि एक्सएमएल के किस वर्शन का इस्तेमाल किया जा रहा है.

यह गड़बड़ी Google को आपका साइटमैप प्राेसेस करने से नहीं रोकेगी. हालांकि, खाली जगह हटाकर फ़ाइल को एक्सएमएल के मानक के हिसाब से बनाया जा सकता है. ऐसा करने के बाद आपको यह गड़बड़ी नहीं दिखेगी.

एचटीटीपी की गड़बड़ी [खास कोड]

आपके साइटमैप को डाउनलाेड करते समय, Google को 400 लेवल वाली एचटीटीपी गड़बड़ी मिली. यह मैसेज दिखाता है कि हमें गड़बड़ी के लिए कौनसा स्टेटस कोड मिला. उदाहरण के लिए, गड़बड़ी कोड 404. देख लें कि आपने साइटमैप का जाे यूआरएल दिया है, वह सही है और इससे साइटमैप ऐक्सेस किया जा सकता है. इसके बाद, अपना साइटमैप फिर से सबमिट करें.

सामान्य एचटीटीपी गड़बड़ी

Google को एक और HTTP गड़बड़ी मिली है, जो यहां दी गई गड़बड़ी की सूची में मौजूद नहीं है. यह देखने के लिए कि किस तरह की गड़बड़ी हुई, जानकारी वाले सेक्शन को बड़ा करें. ऐसा किसी 404 (पेज मौजूद नहीं है) गड़बड़ी की वजह से भी हो सकता है, जो फ़ेच करने के दौरान होती है.

थंबनेल का साइज़ बहुत बड़ा है

आपके साइटमैप में मौजूद वीडियो के थंबनेल की इमेज का साइज़ बहुत बड़ा है. अपने वीडियो के थंबनेल की इमेज का साइज़ बदलकर 160 x 120 पिक्सल करें. नई जानकारी डालकर अपना साइटमैप अपडेट करें और इसे फिर से सबमिट करें. साइटमैप में वीडियो की जानकारी जोड़ने के बारे में ज़्यादा जानकारी.

थंबनेल का साइज़ बहुत छोटा है

आपके साइटमैप में मौजूद वीडियो के थंबनेल की इमेज का साइज़ बहुत छाेटा है. अपने वीडियो के थंबनेल की इमेज का साइज़ बदलकर 160 x 120 पिक्सल करें. अगर ज़रूरी हो, तो अपना साइटमैप अपडेट करें. साइटमैप में वीडियो की जानकारी जोड़ने के बारे में ज़्यादा जानकारी.

वीडियो का यूआरएल और वीडियो चलाने पर खुलने वाले पेज का यूआरएल, एक जैसा है

वीडियो साइटमैप में, वीडियो का यूआरएल और उसे चलाने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले प्लेयर के पेज का यूआरएल एक जैसा नहीं हो सकता. अगर <video:player_loc> और <video:content_loc>, दोनों ही दिए जाते हैं, तो उनके यूआरएल अलग-अलग होने चाहिए. साइटमैप में वीडियो की जानकारी जोड़ने के बारे में ज़्यादा जानकारी.

ऐसा लगता है कि वीडियो के यूआरएल के बजाय, उस प्लेयर के पेज का यूआरएल दिया गया है जिस पर वीडियो चलता है

वीडियो साइटमैप में <video:content_loc> का यूआरएल उस प्लेयर के पेज पर ले जाता है जिस पर वीडियो चलता है. साइटमैप में वीडियो की जानकारी जोड़ने के बारे में ज़्यादा जानकारी.

खबर के बहुत ज़्यादा यूआरएल

साइटमैप फ़ाइल में यूआरएल के खुले रहने के लिए जो सीमा (1,000) हमने तय की है उससे ज़्यादा यूआरएल खुले हैं. साइटमैप में वीडियो की जानकारी जोड़ने के बारे में ज़्यादा जानकारी.

<publication> टैग मौजूद नहीं है

'समाचार साइटमैप' के हर एक यूआरएल में <publication>  टैग होना चाहिए. साइटमैप में वीडियो की जानकारी जोड़ने के बारे में ज़्यादा जानकारी.

साइटमैप में माैजूद यूआरएल पर robots.txt की मदद से राेक लगी है

Google, आपके साइटमैप को ऐक्सेस नहीं कर सकता या आपके साइटमैप में माैजूद सभी यूआरएल को ऐक्सेस नहीं कर सकता. ऐसा इसलिए है, क्योंकि इस पर robots.txt फ़ाइल से राेक लगी है. यूआरएल जांचने वाला टूल इस्तेमाल करके देखें कि यह रोक किस फ़ाइल पर लगी है. साथ ही, Googlebot को साइटमैप ऐक्सेस करने की अनुमति देने के लिए अपनी robots.txt फ़ाइल में बदलाव करें.

क्या यह उपयोगी था?

हम उसे किस तरह बेहतर बना सकते हैं?

और मदद चाहिए?

आगे दिए गए कदमों को आज़माएं:

true
क्या आप Search Console पहली बार इस्तेमाल कर रहे हैं?

क्या आपने पहले कभी Search Console इस्तेमाल नहीं किया? चाहे आप इसे सीखना चाहते हों, एसईओ विशेषज्ञ हों या वेबसाइट डेवलपर हों, आप यहां से शुरुआत कर सकते हैं.

खोजें
खोज हटाएं
खोज बंद करें
Google ऐप
मुख्य मेन्यू