ध्यान खींचने वाले विज्ञापन की सीपीएम का इस्तेमाल करके, दिखने वाले इंप्रेशन पर बोली लगाना

मैक्स सीपीएम अब बोली लगाने की रणनीति के तौर पर उपलब्ध नहीं है.

अगर आप दिखने वाले विज्ञापन इंप्रेशन के लिए ही पैसे चुकाना चाहते हैं, तो ध्यान खींचने वाले विज्ञापन की सीपीएम (हर हज़ार इंप्रेशन की लागत) की मदद लें. किसी विज्ञापन को "दिखने वाला" तब माना जाता है, जब विज्ञापन का 50 प्रतिशत हिस्सा स्क्रीन पर दिखे. डिसप्ले विज्ञापनों के लिए 1 सेकंड या इससे ज़्यादा देर तक दिखना ज़रूरी है या अगर विज्ञापन वीडियो फ़ॉर्मैट में है, तो लगातार 2 सेकंड या इससे ज़्यादा देर तक दिखना ज़रूरी है. आप अपने "सिर्फ़ डिसप्ले नेटवर्क" कैंपेन के लिए सीपीएम बोली लगाते समय, बोली लगाने की रणनीति के रूप में ध्यान खींचने वाले विज्ञापन की सीपीएम चुन सकते हैं.

यह कैसे काम करता है

ध्यान खींचने वाले विज्ञापन की सीपीएम की मदद से, आप दिखने वाले 1,000 इंप्रेशन के लिए बोली लगाते हैं. साथ ही, आप दिखने वाले इंप्रेशन के लिए पैसे चुकाते हैं. ध्यान खींचने वाले विज्ञापन की सीपीएम की मदद से, आप विज्ञापन की असली वैल्यू पर बोली लगा सकते हैं. ऐसा आप उस विज्ञापन के लिए कर सकते हैं जो सबसे ज़्यादा दिखने वाली जगह पर डाला गया है. ध्यान रखें कि सीपीएम बोली के बजाय, ऊंची vCPM बोली का इस्तेमाल करना चाहिए. ऐसा इसलिए, क्योंकि आम तौर पर यह तरीका, काम के इंप्रेशन पाने में ज़्यादा असरदार होता है. इससे आप बोलियों को प्रतिस्पर्धी बनाए रख सकते हैं. साथ ही, रोज़ के औसत बजट को पूरा खर्च कर सकते हैं. ध्यान खींचने वाले विज्ञापन की सीपीएम के बारे में ज़्यादा जानें

फ़ायदे

  • सिर्फ़ उन इंप्रेशन के लिए पैसे चुकाएं जिन्हें दिखने वाले के तौर पर मापा जाता है
  • आपकी बोलियां ऐसे विज्ञापन स्लॉट को ध्यान में रखकर ऑप्टिमाइज़ की जाती हैं जिन्हें देखे जाने की संभावना सबसे ज़्यादा होती है

दिखने वाले इंप्रेशन के लिए अगर आप क्लिक के बजाय, मैन्युअल रूप से बोलियां सेट करना चाहते हैं, तो बोली लगाने की इस रणनीति का इस्तेमाल करें. यह रणनीति, इस लक्ष्य को हासिल करने में बोली लगाने की दूसरी रणनीतियों के मुकाबले ज़्यादा कारगर हो सकती है.

ध्यान दें:
  • ध्यान खींचने वाले विज्ञापन की सीपीएम की मदद से, आप दिखने वाले 1,000 इंप्रेशन के लिए बोली लगाते हैं. साथ ही, आप दिखने वाले इंप्रेशन के लिए पैसे चुकाते हैं.
  • आम तौर पर अपनी लागतों और ट्रैफ़िक को सीपीएम कैंपेन के बराबर रखने के लिए, आपको अपनी ध्यान खींचने वाले विज्ञापन की सीपीएम की बोली किसी मानक सीपीएम कैंपेन की बोली से ज़्यादा रखनी पड़ सकती है. हालांकि, आपको एक ऐसी बोली के साथ प्रयोग करना चाहिए जो आपके कैंपेन के लक्ष्यों के नज़रिये से कारगर हो.
  • ध्यान खींचने वाले विज्ञापन की सीपीएम की बोली लगाने की रणनीति, सिर्फ़ सर्च नेटवर्क कैंपेन के लिए उपलब्ध नहीं है.
  • अगर आप ध्यान खींचने वाले विज्ञापन की सीपीएम की बोली के इस्तेमाल से अपना कैंपेन बनाते हैं और इसके बाद ऐसे विज्ञापन बनाते हैं जो साथ-साथ काम नहीं करते हैं, तो आपके विज्ञापन नहीं चलेंगे.
  • दिखाए गए इंप्रेशन के एक छोटे से हिस्से का शुल्क लिया जा सकता है.

अपने दिखने वाले इंप्रेशन की निगरानी कैसे करें

दिखने वाले इंप्रेशन की संख्या, आपके कैंपेन की रिपोर्ट में दिखती है. ध्यान खींचने वाले विज्ञापन की सीपीएम सेटिंग वाले कैंपेन के इंप्रेशन और दिखने वाले इंप्रेशन को देखने के लिए, नीचे दिया गया तरीका इस्तेमाल करें.

  1. Google Ads खाते में साइन इन करें.
  2. बाईं ओर मौजूद नेविगेशन पैनल से अपनी पसंद के हिसाब से देखने के लिए डिसप्ले कैंपेन या वीडियो कैंपेन चुनें.
  3. इसके बाद, बाईं ओर दिए पेज मेन्यू से कैंपेन, विज्ञापन समूह या विज्ञापन और एक्सटेंशन चुनें.
  4. आंकड़ा टेबल के ऊपर मौजूद ड्रॉप-डाउन मेन्यू कॉलम में कॉलम पर क्लिक करने के बाद, कॉलम में बदलाव करें चुनें.
  5. विज्ञापन दिखने से जुड़े आंकड़े ड्रॉप-डाउन मेन्यू पर क्लिक करें.
  6. आप रिपोर्ट में खास कॉलम भी जोड़ सकते हैं. इसके लिए मनपसंद कॉलम के बाईं ओर दिए गए बॉक्स को चुनें.
  7. हर “विज्ञापन दिखने से जुड़े आंकड़े” कॉलम विकल्प का मतलब समझें:
    • दिखने वाला इंप्रेशन: दिखने वाले इंप्रेशन की संख्या
    • ध्यान खींचने वाले विज्ञापन की औसत सीपीएम: दिखने वाले 1,000 इंप्रेशन की औसत लागत
    • मापी की जा सकने वाली दर: इससे पता चलता है कि आपके कुल इंप्रेशन के कितने प्रतिशत को मापा जा सकता था.
    • विज्ञापन दिखने की दर: इससे पता चलता है कि मापे जा सकने वाले कितने प्रतिशत इंप्रेशन देखे गए. इससे यह अनुमान मिलता है कि खरीदारों ने असल में कितने इंप्रेशन देखे.
    • जिन इंप्रेशन को मापा नहीं जा सकता उनका बंटवारा: इससे पता चलता है कि आपके कुल इंप्रेशन के कितने प्रतिशत इंप्रेशन ऐसी जगहों पर दिखाई दिए जहां विज्ञापन दिखने से जुड़े आंकड़े मापे नहीं जा सकते थे.
    • न दिखने वाले इंप्रेशन का बंटवारा: यह आपके कुल विज्ञापन इंप्रेशन का वह प्रतिशत है जिन्हें न दिखने वाला माना गया.
    • दिखने वाले इंप्रेशन का बंटवारा: यह आपके कुल विज्ञापन इंप्रेशन के उस प्रतिशत को दिखाता है जिन्हें दिखने वाला माना गया.
    • मापी जा सकने वाली लागत: मापे जा सकने वाले इंप्रेशन की कुल लागत दिखाता है.
    • जिन इंप्रेशन को मापा जा सकता है: मापे जा सकने वाले इंप्रेशन की संख्या दिखाता है. ध्यान दें कि दिखाए गए सभी इंप्रेशन मापे नहीं जा सकते.
    • जिन इंप्रेशन को मापा नहीं जा सका: ऐसी जगहों पर आपके विज्ञापन को दिखाने की संख्या दिखाता है जहां विज्ञापन दिखने से जुड़े आंकड़े मापे नहीं जा सकते.
    • न दिखने वाले इंप्रेशन: यह दिखाता है कि आपके विज्ञापन को कितनी बार न दिखने वाला माना गया.

सलाह

आपके विज्ञापन ग्रुप के लिए डिफ़ॉल्ट बोली, "(दिखने वाले)" लेबल के बगल में मौजूद आंकड़ों की टेबल में दिखती है. इसकी मदद से, आप अपनी आंकड़ों की टेबल में, ध्यान खींचने वाले विज्ञापन की सीपीएम को ज़्यादा जल्दी खोज सकते हैं.

 

क्या यह उपयोगी था?
हम उसे किस तरह बेहतर बना सकते हैं?

और मदद चाहिए?

मदद के दूसरे तरीकों के लिए साइन इन करें ताकि आपकी समस्या झटपट सुलझ सके