[GA4] इवेंट के बारे में जानकारी

Google Analytics के इवेंट के बारे में ज़्यादा जानें. इवेंट के अलग-अलग टाइप, उनका ग्रुप बनाने, और उनका इस्तेमाल करने बारे में भी जानकारी पाएं.

इवेंट का इस्तेमाल करके, अपनी वेबसाइट या ऐप्लिकेशन पर होने वाले किसी इंटरैक्शन या गतिविधि को मेज़र किया जा सकता है. उदाहरण के लिए, जब कोई व्यक्ति किसी पेज को लोड करता है, किसी लिंक पर क्लिक करता है या किसी खरीदारी को पूरा करता है, तो इन्हें मेज़र करने के लिए इवेंट का इस्तेमाल किया जा सकता है. इवेंट से सिस्टम की परफ़ॉर्मेंस को भी मेज़र करने में मदद मिलती है. जैसे, कोई ऐप्लिकेशन कब क्रैश हुआ या कोई इंप्रेशन कब मिला.

Universal Analytics से माइग्रेट करने के लिए, डेटा को दूसरी जगह भेजने से जुड़ी यह गाइड पढ़ें.

इवेंट के टाइप

इस तरह के इवेंट अपने-आप इकट्ठा होते हैं:

  • अपने-आप इकट्ठा होने वाले इवेंट ऐसे इवेंट होते हैं जो डिफ़ॉल्ट रूप से इकट्ठा होते हैं. ऐसा तब होता है, जब आपने अपनी वेबसाइट या ऐप्लिकेशन पर Google Analytics को सेट अप किया हो.
  • बेहतर मेज़रमेंट की सुविधा वाले इवेंट ऐसे इवेंट होते हैं जिन्हें तब इकट्ठा किया जाता है, जब आपने अपनी वेबसाइट या ऐप्लिकेशन पर Google Analytics को सेट अप किया हो और बेहतर मेज़रमेंट की सुविधा चालू हो.

Analytics में इस तरह के इवेंट देखने के लिए, आपको उन्हें लागू करना होगा:

  • सुझाए गए इवेंट ऐसे इवेंट होते हैं जिन्हें आपने लागू किया है. हालांकि, इनके नाम और पैरामीटर पहले से तय होते हैं. इन इवेंट से, मौजूदा और आगे होने वाली रिपोर्टिंग बेहतर हो जाती है.
  • कस्टम इवेंट आपकी ओर से बनाए गए इवेंट होते हैं. कस्टम इवेंट सिर्फ़ तब बनाएं, जब दूसरे इवेंट आपकी ज़रूरत के हिसाब से काम के न हों. ज़्यादातर स्टैंडर्ड रिपोर्ट में, कस्टम इवेंट नहीं दिखते. ऐसी स्थिति में, बेहतर विश्लेषण के लिए आपको कस्टम रिपोर्ट या एक्सप्लोरेशन (विश्लेषण के तरीके) सेट अप करने की ज़रूरत पड़ेगी.

यह सेटिंग कैसे काम करती है

मान लें कि कोई व्यक्ति, टैग की गई आपकी वेबसाइट के किसी लिंक पर क्लिक करता है जो उसे किसी बाहरी वेबसाइट पर ले जाता है. नीचे दी इमेज से पता चलता है कि जब उपयोगकर्ता किसी लिंक पर क्लिक करता है, तो उसके बाद क्या होता है:

1

2

3

4

उपयोगकर्ता आपकी वेबसाइट पर जाता है और किसी बाहरी वेबसाइट के लिंक पर क्लिक करता है Analytics को क्लिक इवेंट मिलने पर, वह इस इवेंट और पैरामीटर को रीयल टाइम रिपोर्ट में दिखाता है Analytics, इवेंट को पूरी तरह से प्रोसेस करता है रिपोर्ट, ऑडियंस वगैरह में इस्तेमाल किए जाने वाले डेटा को Analytics, डाइमेंशन और मेट्रिक में दिखाता है.

रीयलटाइम में इवेंट देखना

जब आपकी वेबसाइट या ऐप्लिकेशन से कोई इवेंट भेजा जाता है, तब नीचे दी गई रिपोर्ट का इस्तेमाल करके, यह पुष्टि की जा सकती है कि Analytics ने इवेंट को सही तरीके से इकट्ठा किया है या नहीं:

रीयलटाइम रिपोर्ट

रीयलटाइम रिपोर्ट में, इवेंट के नाम के हिसाब से इवेंट की संख्या कार्ड से, हर इवेंट की जानकारी मिलती है. इससे यह पता चलता है कि आपकी वेबसाइट पर आने वाले उपयोगकर्ताओं की वजह से पिछले 30 मिनट में, कौन सा इवेंट कितनी बार ट्रिगर हुआ. साथ ही, किसी इवेंट पर क्लिक करके, इवेंट के साथ रिकॉर्ड हुए इवेंट पैरामीटर भी देखे जा सकते हैं.

DebugView रिपोर्ट

DebugView रिपोर्ट आपको ऐसे सभी इवेंट दिखाती है जिन्हें किसी उपयोगकर्ता ने ट्रिगर किया है. यह तब काम आता है, जब आपको यह पुष्टि करनी हो कि आपने इवेंट और इवेंट पैरामीटर सही तरीके से सेट अप किए हैं. इस रिपोर्ट का इस्तेमाल करने से पहले आपको डीबग मोड चालू करना होगा.

कन्वर्ज़न इवेंट को समझना

Google Analytics में, कन्वर्ज़न कोई भी ऐसा इंटरैक्शन या गतिविधि होती है जो आपके कारोबार के लिहाज़ से काम की हो. उदाहरण के लिए, उपयोगकर्ता का आपके स्टोर से खरीदारी करना या आपके न्यूज़लेटर की सदस्यता लेना. किसी कन्वर्ज़न को रिकॉर्ड करने के लिए, आपको ऐसे इवेंट को कन्वर्ज़न के तौर पर मार्क करना होता है जो उससे जुड़े इंटरैक्शन और गतिविधि को मेज़र करता है. ज़्यादा जानें

इवेंट के ग्रुप बनाने के बारे में जानकारी

आपकी वेबसाइट या ऐप्लिकेशन पर उपयोगकर्ता जिन इवेंट को ट्रिगर करते हैं उनमें से ज़्यादातर इवेंट, एक-एक करके नहीं भेजे जाते. इसके बजाय, ज़्यादातर इवेंट एक साथ ग्रुप या बैच में भेजे जाते हैं.

हालांकि, कुछ मामलों में इवेंट के बैच नहीं बनाए जाते:

  • कन्वर्ज़न इवेंट ट्रिगर होते ही तुरंत भेज दिए जाते हैं. हालांकि, इन्हें किसी बैच में भी शामिल किया जा सकता है
  • डीबग मोड में लोड किए गए कंटेनर कभी भी इवेंट के बैच नहीं बनाते. इससे, इवेंट की जानकारी रीयलटाइम में देखी जा सकती है
  • आपके डिवाइस पर ट्रिगर होने वाले इवेंट तब भेजे जाते हैं, जब उपयोगकर्ता किसी पेज से बाहर निकलता है
  • अगर कोई ब्राउज़र, sendBeacon API पर काम नहीं करता, तो सभी इवेंट तुरंत भेज दिए जाते हैं

ध्यान दें: जब किसी उपयोगकर्ता का डिवाइस ऑफ़लाइन हो जाता है. उदाहरण के लिए, आपका मोबाइल ऐप्लिकेशन ब्राउज़ करते समय उपयोगकर्ता का इंटरनेट ऐक्सेस बंद हो जाता है, तो Analytics अपने डिवाइस पर इवेंट डेटा सेव करता है और डिवाइस वापस ऑनलाइन आने पर डेटा भेजता है. Analytics, इवेंट के ट्रिगर होने के 72 घंटे बाद मिलने वाले इवेंट पर ध्यान नहीं देता.

क्या यह उपयोगी था?

हम उसे किस तरह बेहतर बना सकते हैं?
खोजें
खोज हटाएं
खोज बंद करें
Google ऐप
मुख्य मेन्यू
8808245754804530921