[GA4] मॉडल की तुलना की रिपोर्ट

अलग-अलग एट्रिब्यूशन मॉडल में, कन्वर्ज़न क्रेडिट में हुए बदलावों का विश्लेषण करें
ध्यान दें: नवंबर 2023 से, फ़र्स्ट क्लिक, लीनियर, समय का नुकसान, और रैंक पर आधारित एट्रिब्यूशन मॉडल बंद कर दिए गए हैं. काम न करने वाले मॉडल के बारे में ज़्यादा जानें.

मॉडल की तुलना वाली रिपोर्ट से पता लगाएं कि अलग-अलग एट्रिब्यूशन मॉडल आपके मार्केटिंग चैनलों पर किस तरह असर डालते हैं.

इस लेख में, इन विषयों के बारे में बताया गया है:

उपलब्ध एट्रिब्यूशन मॉडल

एट्रिब्यूशन मॉडल नियम या नियमों का सेट होता है. इससे यह तय होता है कि बिक्री और कन्वर्ज़न का क्रेडिट, कन्वर्ज़न पाथ के किन टचपॉइंट को किस आधार पर असाइन किया जाएगा. उपलब्ध एट्रिब्यूशन मॉडल के बारे में ज़्यादा जानें.

रिपोर्ट को इस्तेमाल करने का तरीका

रिपोर्ट ऐक्सेस करना

  1. Google Analytics में, बाईं ओर विज्ञापन पर क्लिक करें.
  2. एट्रिब्यूशन > मॉडल की तुलना पर जाएं.

तारीख की सीमा और कन्वर्ज़न इवेंट चुनना

सबसे ऊपर दाईं ओर मौजूद, तारीख चुनने वाले टूल के ड्रॉप-डाउन मेन्यू से तारीख की कोई सीमा चुनें. फिर रिपोर्ट के ऊपर बाईं ओर मौजूद, ड्रॉप-डाउन मेन्यू से एक या ज़्यादा कन्वर्ज़न इवेंट चुनें. डिफ़ॉल्ट रूप से, सभी कन्वर्ज़न इवेंट चुने जाते हैं और रिपोर्ट में उनके डेटा को एक साथ मिलाकर दिखाया जाता है.

ध्यान दें: एट्रिब्यूशन रिपोर्ट में 14 जून, 2021 के बाद का डेटा शामिल होता है.

फ़िल्टर जोड़ना (ज़रूरी नहीं)

रिपोर्ट में सभी उपयोगकर्ताओं का डेटा दिखता है. उपयोगकर्ताओं के किसी ग्रुप का डेटा देखने के लिए, सबसे ऊपर बाईं ओर फ़िल्टर जोड़ें पर क्लिक करें.

उदाहरण

इन कामों के लिए फ़िल्टर का इस्तेमाल किया जा सकता है:

  1. किसी खास कैंपेन में, यह देखने के लिए कि एट्रिब्यूशन मॉडल अलग-अलग टचपॉइंट को किस आधार पर क्रेडिट देते हैं. शामिल करें फ़िल्टर बनाएं और उपयोगकर्ता हासिल करना सेक्शन में जाकर उपयोगकर्ता कैंपेन चुनें. इसके बाद, डाइमेंशन की वैल्यू के तौर पर अपने कैंपेन का नाम चुनें.
  2. कुछ खास क्षेत्रों के हिसाब से यह समझने के लिए कि एट्रिब्यूशन मॉडल, अलग-अलग क्षेत्र में चलने वाले अलग-अलग मार्केटिंग कैंपेन के आधार पर टचपॉइंट को कैसे क्रेडिट देते हैं. शामिल करें फ़िल्टर बनाएं और उपयोगकर्ता सेक्शन में जाकर क्षेत्र चुनें. इसके बाद, अपने हिसाब से कोई डाइमेंशन वैल्यू चुनें.
  3. अलग-अलग डिवाइस पर परफ़ॉर्मेंस को समझने के लिए, डिवाइस की कैटगरी के लिए. शामिल करें फ़िल्टर बनाएं और डिवाइस सेक्शन में जाकर डिवाइस की कैटगरी चुनें. इसके बाद, अपनी डाइमेंशन वैल्यू के तौर पर, डेस्कटॉप, मोबाइल या टैबलेट चुनें.

वह डाइमेंशन चुनना जिसकी रिपोर्ट आपको देखनी है

डेटा टेबल में आपका डेटा, डिफ़ॉल्ट चैनल ग्रुप डाइमेंशन के हिसाब से बांटकर दिखाया जाता है. ड्रॉप-डाउन मेन्यू का इस्तेमाल करके, सोर्स/मीडियम, सोर्स, मीडियम या कैंपेन डाइमेंशन के हिसाब से डेटा देखें.  

तुलना करने के लिए कोई एट्रिब्यूशन मॉडल चुनना

एट्रिब्यूशन मॉडल (नॉन-डायरेक्ट) कॉलम में, ड्रॉप-डाउन मेन्यू का इस्तेमाल करके चुनें कि कौनसे एट्रिब्यूशन मॉडल की तुलना करनी है.

ध्यान दें: Google Analytics 4, Google Ads में एक्सपोर्ट किए गए सभी कन्वर्ज़न के लिए एट्रिब्यूशन मॉडल के तौर पर लास्ट क्लिक का इस्तेमाल करता है. Google Ads में सिर्फ़ वे कन्वर्ज़न एक्सपोर्ट किए जाते हैं जिनके लिए Ads को आखिरी नॉन-डायरेक्ट क्लिक माना जाता है. भले ही, Google Ads में नॉन-लास्ट क्लिक एट्रिब्यूशन मॉडल क्यों न चुना गया हो. अगर आपको Google Ads और Google Analytics 4 में इस्तेमाल हुए एट्रिब्यूशन मॉडल से मिले कन्वर्ज़न की तुलना करनी है, तो सटीक नतीजे पाने के लिए आपको पेड और ऑर्गैनिक चैनलों पर लास्ट क्लिक का विकल्प चुनना होगा.

रिपोर्ट को पसंद के मुताबिक बनाना

अपनी रिपोर्ट में दिखने वाले डेटा में बदलाव करने के लिए, तुलना में बदलाव करें पर क्लिक करें. रिपोर्ट को पसंद के मुताबिक बनाएं पैनल में, कोई फ़िल्टर जोड़ा जा सकता है या रिपोर्टिंग के समय में बदलाव किया जा सकता है.

फ़िल्टर

रिपोर्ट में सभी उपयोगकर्ताओं का डेटा दिखता है. किसी फ़िल्टर का नाम बदलने या कोई और फ़िल्टर जोड़ने के लिए, फ़िल्टर के नाम पर क्लिक करें.

रिपोर्टिंग का समय

यह डिफ़ॉल्ट रूप से, कन्वर्ज़न का समय होता है.

  • कन्वर्ज़न का समय: यह किसी समयसीमा में हुए कन्वर्ज़न से पहले की कन्वर्ज़न विंडो में मौजूद सभी टचपॉइंट के लिए, एट्रिब्यूट किए गए क्रेडिट दिखाता है. ध्यान दें कि ये टचपॉइंट तय समयसीमा से पहले के हो सकते हैं.
  • इंटरैक्शन का समय: यह किसी समयसीमा के सभी टचपॉइंट के लिए एट्रिब्यूट किए गए क्रेडिट दिखाता है. ध्यान दें कि कन्वर्ज़न तय समयसीमा के बाद हो सकते हैं.

रिपोर्ट को शेयर, डाउनलोड या एक्सपोर्ट करना

टेबल में अभी दिख रहे डेटा को शेयर, डाउनलोड या एक्सपोर्ट करने के लिए, सबसे ऊपर दाईं ओर मौजूद इस रिपोर्ट को शेयर करें  पर क्लिक करें.

डेटा को समझना

डेटा टेबल में आपका डेटा, डिफ़ॉल्ट चैनल ग्रुप डाइमेंशन के हिसाब से बांटकर दिखाया जाता है. हर चैनल के लिए, यह चुने गए एट्रिब्यूशन मॉडल के आधार पर दो मेट्रिक दिखाता है:

  • कन्वर्ज़न: चुने गए डाइमेंशन को एट्रिब्यूट किए गए कन्वर्ज़न की संख्या
  • रेवेन्यू: चुने गए डाइमेंशन से मिला कुल रेवेन्यू

रिपोर्ट में मौजूद आय मेट्रिक, गिनती के लिए उसी तरीके का इस्तेमाल करती है जिसका इस्तेमाल खरीदारी से होने वाली आय मेट्रिक करती है.

% बदलाव कॉलम से पता चलता है कि अलग-अलग एट्रिब्यूशन मॉडल में, कन्वर्ज़न और रेवेन्यू में कितने प्रतिशत की बढ़ोतरी या कमी हुई.

ऐसे डाइमेंशन जिन्हें एट्रिब्यूट नहीं किया जा सकता

कुछ मामलों में Analytics, डाइमेंशन की वैल्यू नहीं दिखा पाता. ऐसा, वैल्यू के मौजूद या उपलब्ध न होने की वजह से होता है. कन्वर्ज़न और रेवेन्यू क्रेडिट को सटीक रखने के लिए, रिपोर्ट इनमें से एक या एक से ज़्यादा वैल्यू दिखा सकती है:

वैल्यू परिभाषा
(not set) (not set) एक प्लेसहोल्डर का नाम है. Analytics इसका इस्तेमाल तब करता है, जब उसे आपके चुने हुए किसी डाइमेंशन के लिए कोई जानकारी नहीं मिलती. उदाहरण के लिए, मैन्युअल रूप से टैग किए गए यूआरएल में कैंपेन, सोर्स या मीडियम जैसे पैरामीटर नहीं हो सकते
असाइन नहीं किया गया

असाइन नहीं किया गया वह वैल्यू होती है जिसका इस्तेमाल Analytics तब करता है, जब इवेंट डेटा से मेल खाने वाले अन्य चैनल नियम न हों 

डायरेक्ट

डायरेक्ट वह वैल्यू होती है जिसका इस्तेमाल Analytics तब करता है, जब कन्वर्ज़न को क्रेडिट देने के लिए कोई पाथ नहीं होता. उदाहरण के लिए, डेटा इंपोर्ट

क्रेडिट एट्रिब्यूट नहीं किया जा सकता आपके चुने गए डाइमेंशन के लिए, क्रेडिट असाइन नहीं किए जा सकते   
(Other) (अन्य) वह वैल्यू होती है जिसे Analytics, एलिमेंट की संख्या की सीमा की वजह से एग्रीगेट की गई लाइन के लिए इस्तेमाल करता है. ज़्यादा जानें

क्या यह उपयोगी था?

हम उसे किस तरह बेहतर बना सकते हैं?
false
खोजें
खोज हटाएं
खोज बंद करें
Google ऐप
मुख्य मेन्यू
11238253374915064911