कॉपीराइट उल्लंघन की वजह से वीडियो को हटाने और Content ID के दावों के बीच का अंतर

Copyright Takedowns & Content ID - Copyright on YouTube

वीडियो के मालिकों के पास YouTube पर अपने कॉपीराइट अधिकार प्रबंधित करने के दो तरीके हैं. पहला, वे कॉपीराइट का उल्लंघन करने वाले वीडियो को हटाने का अनुरोध कर सकते हैं. दूसरा, अगर उनके पास Content ID टूल का ऐक्सेस है, तो वे इसका इस्तेमाल कर सकते हैं. साथ ही, वीडियो पर दावा करके और आंकड़े जुटाने के बाद, इसकी निगरानी के लिए नीति बना सकते हैं. वे वीडियो पर विज्ञापन देकर कमाई कर सकते हैं या कुछ देशों में उन पर रोक लगा सकते हैं. Content ID की वजह से लगने वाली रोक का कॉपीराइट शिकायत से कोई संबंध नहीं है. हालांकि, कॉपीराइट उल्लंघन की वजह से वीडियो का हटाया जाना कॉपीराइट शिकायत से जुड़ा है. जनवरी 2014 से Content ID के दावों की संख्या, कॉपीराइट उल्लंघन की वजह से हटाए गए वीडियो से 50 गुना से भी ज़्यादा हो गई है.

कॉपीराइट उल्लंघन की वजह से वीडियो को हटाना

कॉपीराइट कानून के मुताबिक, YouTube जैसी वेबसाइटों के लिए वीडियो हटाने के अनुरोधों को प्रोसेस करना ज़रूरी है. इसके लिए हमें वही तरीका इस्तेमाल करना पड़ता है जिसकी पूरी जानकारी इस कानून में दी गई है. कॉपीराइट उल्लंघन की वजह से वीडियो हटाने के लिए यह ज़रूरी है कि वीडियो के मालिक सभी कानूनी ज़रूरतें पूरी करने के बाद हमारे पास औपचारिक नोटिस भेजें.

अगर आपका वीडियो, कॉपीराइट उल्लंघन की वजह से वीडियो हटाए जाने के नोटिस के तहत हटा दिया जाता है, तो आपकी कॉपीराइट सूचनाओं में आपको वीडियो के आगे "हटाया गया वीडियो: कॉपीराइट शिकायत" दिखाई देगा. अगर कॉपीराइट उल्लंघन की वजह से वीडियो हटाए जाने के नोटिस के तहत, आपका वीडियो हटाया गया है, तो इसका मतलब है कि आपके खाते के ख़िलाफ़ कॉपीराइट शिकायत हुई है. अगर आपके ख़िलाफ़ कॉपीराइट की शिकायत पहली बार हुई है, तो आपको कॉपीराइट स्कूल का कार्यक्रम पूरा करना होगा. कॉपीराइट शिकायतों के बारे में ज़्यादा जानें.

अगर आपके वीडियो को गलती से कॉपीराइट उल्लंघन की वजह से हटाया गया है, तो आपके पास ये विकल्प हैं:

अगर आप इनमें से कुछ नहीं करते हैं, तो शिकायत तीन महीने बाद अपने-आप खत्म हो जाएगी.

Content ID के दावे

कॉपीराइट उल्लंघन की वजह से वीडियो को हटाना एक कानूनी प्रक्रिया है. वहीं Content ID, YouTube की अपनी बनाई हुई व्यवस्था है. यह हमारे डेटाबेस में अपने वीडियो या दूसरी सामग्री अपलोड करने वाले कॉन्टेंट पार्टनर के साथ हुए करार की वजह से बन पाई है.

अगर आपके वीडियो पर Content ID के दावे का असर पड़ा है, तो आपको पता चल जाएगा. ऐसा होने पर आपको अपने कॉपीराइट नोटिस में, "इसमें कॉपीराइट वाली चीज़ शामिल है" लिखा हुआ दिखेगा. आम तौर पर, दावे का मकसद वीडियो पर रोक लगाना नहीं, बल्कि उसकी निगरानी करना या उससे कमाई करना होता है. दावे किए जाने के बावजूद आपका वीडियो लाइव रहेगा. आप इसे दूसरे लोगों के साथ शेयर भी कर पाएंगे. इसके अलावा, ऐसा भी हो सकता है कि आपके वीडियो में विज्ञापन दिखने लगें.

Content ID के दावे के बाद कॉपीराइट शिकायत, चैनल पर कुछ देर के लिए रोक लगाने या चैनल बंद करने जैसी कार्रवाइयां नहीं होती हैं. हालांकि, अगर आपको लगता है कि दावा गलती से किया गया है, तो आप उस दावे का विरोध कर सकते हैं. Content ID के दावों के बारे में ज़्यादा जानें.

क्या यह उपयोगी था?
हम उसे किस तरह बेहतर बना सकते हैं?