अपनी वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि में ऑडियो रिकॉर्डिंग मैनेज करना

आपके पास यह चुनने का विकल्प है कि Google Search, Assistant, और Maps का बोलकर इस्तेमाल करने पर, आपकी आवाज़ और ऑडियो गतिविधि के डेटा को Google खाते में सेव किया जाए या नहीं. Google आपकी आवाज़ और ऑडियो का इस्तेमाल, ऑडियो की पहचान करने वाली टेक्नोलॉजी के साथ-साथ इस पर आधारित Google की सेवाओं को डेवलप करने और उन्हें बेहतर बनाने में करता है.

आवाज़ और ऑडियो गतिविधि से जुड़ी यह सेटिंग तब तक बंद रहती है, जब तक आप इसे चालू न करें.

अहम जानकारी: अन्य सेटिंग के आधार पर, ऑडियो रिकॉर्डिंग दूसरी जगहों पर भी सेव हो सकती हैं.

How Google Protects Your Privacy if You Choose to Save Audio Data

आवाज़ और ऑडियो गतिविधि को चालू या बंद करना

  1. अपने Google खाते पर जाएं.
  2. सबसे ऊपर बाईं ओर, डेटा और निजता पर क्लिक करें.
  3. "इतिहास की सेटिंग" में जाकर, वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि पर क्लिक करें.
  4. "आवाज़ और ऑडियो गतिविधि शामिल करें" के बगल में बने बॉक्स पर, सही का निशान लगाएं या हटाएं.

जब आवाज़ और ऑडियो गतिविधि की यह सेटिंग बंद होती है, तब Google Search, Assistant, और Maps का बोलकर इस्तेमाल करने पर हुई आवाज़ की रिकॉर्डिंग को Google खाते में सेव नहीं किया जाता, भले ही आपने साइन इन किया हो. वहीं, अगर आपने यह सेटिंग बंद कर दी, तो पहले से सेव किए गए ऑडियो मिटाए नहीं जाते. आपके पास कभी भी इन ऑडियो रिकॉर्डिंग को मिटाने का विकल्प होता है.

अपनी ऑडियो रिकॉर्डिंग ढूंढना या मिटाना

अपनी ऑडियो रिकॉर्डिंग ढूंढना

अहम जानकारी: अन्य सेटिंग के आधार पर, ऑडियो रिकॉर्डिंग दूसरी जगहों पर भी सेव हो सकती हैं.

  1. अपने Google खाते पर जाएं.
  2. सबसे ऊपर बाईं ओर, डेटा और निजता पर क्लिक करें.
  3. "इतिहास की सेटिंग" में जाकर, वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि उसके बाद गतिविधि मैनेज करें पर क्लिक करें. इस पेज पर, ये काम किए जा सकते हैं:
    • अपनी पिछली गतिविधियों की सूची देखना: ऑडियो आइकॉन बोलें वाले आइटम में, रिकॉर्डिंग होती है.
    • रिकॉर्डिंग चलाना: ऑडियो बोलें के बगल में, जानकारी उसके बाद रिकॉर्डिंग देखें उसके बाद चलाएं चलाएं पर क्लिक करें.

अगर आपको "ट्रांसक्रिप्ट उपलब्ध नहीं है" मैसेज मिलता है, तो हो सकता है कि उस गतिविधि के दौरान बैकग्राउंड का शोर बहुत ज़्यादा रहा हो.

Google Takeout की मदद से, अपना ऑडियो डाउनलोड किया जा सकता है. अपना ऑडियो और अन्य Google डेटा डाउनलोड करने का तरीका जानें.

सलाह: बेहतर सुरक्षा के लिए, 'मेरी गतिविधि' में, अपनी गतिविधियों का पूरा इतिहास देखने के लिए, पुष्टि करने का एक और चरण जोड़ा जा सकता है.

अपनी वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि से ऑडियो रिकॉर्डिंग मिटाना

अहम जानकारी: अन्य सेटिंग के आधार पर, ऑडियो रिकॉर्डिंग दूसरी जगहों पर भी सेव हो सकती हैं.

एक बार में एक आइटम मिटाना

  1. अपने Google खाते पर जाएं.
  2. सबसे ऊपर बाईं ओर, डेटा और निजता पर क्लिक करें.
  3. "इतिहास की सेटिंग" में जाकर, वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि और फिर गतिविधि मैनेज करें पर क्लिक करें. इस पेज पर, आपको अपनी पिछली गतिविधियों की सूची दिखेगी. ऑडियो आइकॉन बोलें वाले आइटम में रिकॉर्डिंग होती है.
  4. आपको जिस आइटम को मिटाना है उसके बगल में, ज़्यादा ज़्यादा और फिर मिटाएं को चुनें.

एक बार में सभी आइटम मिटाना

अहम जानकारी: इस तरीके का इस्तेमाल करने पर, रिकॉर्डिंग वाले आइटम के साथ-साथ वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि के दूसरे सभी आइटम भी मिट जाएंगे.

  1. अपने Google खाते पर जाएं.
  2. सबसे ऊपर बाईं ओर, डेटा और निजता पर क्लिक करें.
  3. "इतिहास की सेटिंग" में जाकर, वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि और फिर गतिविधि मैनेज करें पर क्लिक करें. इस पेज पर, आपको अपनी पिछली गतिविधियों की सूची दिखेगी. ऑडियो आइकॉन बोलें वाले आइटम में रिकॉर्डिंग होती है.
  4. अपनी गतिविधि के ऊपर, मिटाएं और फिर अब तक की सारी पर क्लिक करें.
  5. स्क्रीन पर दिए गए निर्देशों का पालन करें.

ऑडियो रिकॉर्डिंग को अपने-आप मिटने के लिए सेट करना

अहम जानकारी: इस विकल्प को चुनने पर ऑटोमैटिकली मिटाने की सुविधा, ऑडियो रिकॉर्डिंग वाले आइटम के साथ-साथ वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि के दूसरे सभी आइटम के लिए भी चालू हो जाएगी.

  1. कंप्यूटर पर, अपना Google खाता खोलें.
  2. सबसे ऊपर बाईं ओर, डेटा और निजता पर क्लिक करें.
  3. "इतिहास की सेटिंग" में जाकर, वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि इसके बाद गतिविधि मैनेज करें पर क्लिक करें.
  4. खोज बार में, अपनी गतिविधि के ऊपर, ज़्यादा ज़्यादा इसके बाद गतिविधि को इतने समय के लिए सेव करें चुनें.
  5. आपको अपनी गतिविधि को जितने समय के लिए सेव करना है उससे जुड़ा बटन इसके बाद आगे बढ़ें इसके बाद पुष्टि करें पर क्लिक करें.

Google, ऑडियो रिकॉर्डिंग को आपकी चुनी गई समयसीमा से पहले भी मिटा सकता है. ऐसा तब किया जाएगा, जब आवाज़ की पहचान करने वाली टेक्नोलॉजी और इस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करने वाली सेवाओं को डेवलप करने और उन्हें बेहतर करने के लिए, इन ऑडियो रिकॉर्डिंग की ज़रूरत न हो. उदाहरण के लिए, हो सकता है कि समय के साथ, कुछ भाषाओं के लिए कम ऑडियो रिकॉर्डिंग की ज़रूरत हो.

आवाज़ और ऑडियो गतिविधि से जुड़ी इस सेटिंग के बारे में जानकारी

जब Google की सेवाओं को बोलकर इस्तेमाल किया जाता है, तब Google आवाज़ की पहचान करने वाली अपनी टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करके, आपके ऑडियो को प्रोसेस करता है और आपको जवाब देता है. उदाहरण के लिए, बोलकर खोजने के लिए जब माइक आइकॉन को छुआ जाता है, तब आवाज़ की पहचान करने वाली Google की टेक्नोलॉजी, आपकी कही बातों को शब्दों और वाक्यांशों में बदल देती है. इसके बाद, Search इन शब्दों और वाक्यांशों को इंडेक्स में ढूंढता है, ताकि आपको सबसे काम के खोज नतीजे दिखाए जा सकें.

वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि की सेटिंग चालू होने पर, Google की साइटों, ऐप्लिकेशन, और सेवाओं पर की गई आपकी गतिविधि के डेटा को सेव किया जाता है. यह डेटा, Google के सर्वर पर मौजूद, आपके Google खाते में सेव किया जाता है. इसमें आपकी गतिविधियों से जुड़ी अन्य जानकारी भी शामिल हो सकती है. जैसे, जगह की जानकारी. हालांकि, हो सकता है कि कुछ गतिविधियों का डेटा सेव न हो.

आवाज़ और ऑडियो गतिविधि की इस वैकल्पिक सेटिंग की मदद से, Google Search, Assistant, और Maps को बोलकर इस्तेमाल करने पर, वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि की मदद से भी ऑडियो रिकॉर्डिंग सेव की जा सकती हैं. आवाज़ और ऑडियो गतिविधि से जुड़ी यह सेटिंग तब तक बंद रहती है, जब तक आप इसे चालू न करें.

यह सेटिंग हर उस डिवाइस पर लागू होती है जहां आपने Search, Assistant, और Maps में साइन इन किया है. उदाहरण के लिए, अगर आपने Google Assistant ऐप्लिकेशन और Google Home स्मार्ट स्पीकर पर, Assistant में साइन इन किया है, तो यह सेटिंग दोनों पर लागू होगी.

ऑडियो रिकॉर्डिंग किस तरह इस्तेमाल की जाती हैं

इस सेटिंग के चालू होने पर Google, सेव किए गए ऑडियो का इस्तेमाल, आवाज़ की पहचान करने वाली अपनी टेक्नोलॉजी के साथ-साथ इस पर आधारित Google की सेवाओं को डेवलप करने और उन्हें बेहतर बनाने में करता है. इनमें Google Assistant जैसी Google की सेवाएं शामिल हैं.

ऑडियो रिकॉर्डिंग की समीक्षा करने का तरीका

आवाज़ की पहचान करने वाली टेक्नोलॉजी को बेहतर बनाने के कुछ मामलों में, ट्रेनिंग पा चुके समीक्षक ऑडियो के सैंपल का विश्लेषण करते हैं. वे, आवाज़ और ऑडियो गतिविधि से जुड़ी सेटिंग के चालू होने पर, सेव किए गए ऑडियो के सैंपल को सुनते हैं, उनमें बोली गई बातों को लेख में बदलते हैं, और उनकी व्याख्या करते हैं. ऐसा करने से, Google की सेवाएं, ऑडियो रिकॉर्डिंग को बेहतर तरीके से समझ सकती हैं. उदाहरण के लिए, शोर वाली जगह पर या किसी खास भाषा में बोली गई बात को समझने में, इससे मदद मिलती है. इस प्रोसेस के दौरान, आपकी निजता बनाए रखने के लिए, हम कुछ ज़रूरी कदम उठाते हैं. उदाहरण के तौर पर, ऑडियो रिकॉर्डिंग का विश्लेषण करते समय, समीक्षकों को इस बात की जानकारी नहीं होती है कि वह ऑडियो रिकॉर्डिंग आपके खाते से जुड़ी है.

इस प्रोसेस की मदद से, Google की सेवाएं, बोलकर दिए गए निर्देशों को बेहतर ढंग से समझ पाती हैं. उदाहरण के लिए, Google ने ज़्यादा डेटा वाली भाषाओं के ट्रांसक्राइब किए गए (बोली से लेख में बदले गए) ऑडियो पर एक मॉडल को ट्रेनिंग देकर, कम डेटा वाली भाषाओं के लिए अपने-आप बोली पहचानने की सुविधा को बेहतर बनाया है. इससे, Google को रीयल-टाइम में एक से ज़्यादा भाषाओं के लिए बोली पहचानने में मदद मिली है.

आवाज़ की पहचान करने वाली टेक्नोलॉजी

अहम जानकारी: अगर आपने आवाज़ और ऑडियो गतिविधि से जुड़ी सेटिंग 6 जून, 2022 के बाद चालू की है, तब ही यह जानकारी आपके काम की है.

आवाज़ की पहचान करने वाली टेक्नोलॉजी से जुड़ी Google की कुछ सुविधाएं यह पता लगा सकती हैं कि ऑडियो के सैंपल एक ही व्यक्ति के हैं या नहीं. इसके अलावा, इन सुविधाओं को आवाज़ के खास नमूने की मदद से बेहतर भी बनाया जा सकता है. वॉइस मैच ऐसी ही एक सुविधा है. अगर आपने Google Assistant की 'वॉइस मैच' सुविधा का इस्तेमाल करने के साथ-साथ आवाज़ और ऑडियो गतिविधि से जुड़ी यह सेटिंग चालू की है, तो Google कुछ समय के लिए आपकी आवाज़ के नमूने का भी इस्तेमाल कर सकता है. आवाज़ का यह नमूना, आपकी सेव की गई ऑडियो रिकाॅर्डिंग से लिया जाता है. Google इस नमूने का इस्तेमाल, आवाज़ की पहचान करने वाली अपनी टेक्नोलॉजी और इस पर आधारित Google की सेवाओं को डेवलप करने और उन्हें बेहतर बनाने के लिए करता है. जानें कि आपकी आवाज़ अन्य सेटिंग के साथ कैसे काम करती है.

इस प्रोसेस के दौरान, आपकी निजता बनाए रखने के लिए हम कुछ ज़रूरी कदम उठाते हैं. उदाहरण के लिए, जब सेव की गई ऑडियो रिकॉर्डिंग को आपकी आवाज़ के नमूने के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है, तब यह पता नहीं चलता कि वह रिकॉर्डिंग आपके खाते से जुड़ी हुई है. साथ ही, इस रिकॉर्डिंग को कुछ समय के लिए इस्तेमाल किया जाता है, ताकि आवाज़ की पहचान करने वाली हमारी टेक्नोलॉजी को बेहतर बनाया जा सके. इसके बाद, हम इस रिकॉर्डिंग को मिटा देते हैं. आवाज़ के हर मॉडल को प्रोसेस करने में, सात दिन तक लग सकते हैं. कुछ अधिकार क्षेत्रों में, आवाज़ के नमूनों को बायोमेट्रिक डेटा माना जा सकता है.

जब आवाज़ और ऑडियो गतिविधि से जुड़ी यह सेटिंग चालू हो

वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि के लिए, आवाज़ और ऑडियो गतिविधि से जुड़ी यह सेटिंग चालू होने पर, जब भी Google Search, Assistant, और Maps का बोलकर इस्तेमाल किया जाएगा, तब Google आपकी ऑडियो रिकॉर्डिंग को सेव करेगा. इन रिकॉर्डिंग को Google के सर्वर पर आपके खाते में, वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि की मदद से सेव किया जाएगा.

ऑडियो तब सेव किया जाता है, जब आपका डिवाइस, बोलकर इस्तेमाल करने की सुविधा के चालू होने की पहचान कर लेता है. अलग-अलग डिवाइसों पर, इस सुविधा को अलग-अलग तरीकों से इस्तेमाल किया जा सकता है. जैसे, “Ok Google” बोलना, चालू करने के लिए सेट किया गया छोटा वाक्यांश बोलना, बातचीत की प्रक्रिया को जारी रखना या माइक का आइकॉन दबाना. कुछ डिवाइसों पर रिकॉर्डिंग सेव करने की प्रोसेस, बोलकर निर्देश देने की सुविधा के चालू होने के कुछ सेकंड पहले ही शुरू हो जाती है. ऐसा इसलिए होता है, ताकि पूरे अनुरोध को रिकॉर्ड किया जा सके.

कभी-कभी डिवाइस पर बोलकर निर्देश देने की सुविधा, गलती से चालू हो जाती है. इस दौरान, ऑडियो की रिकॉर्डिंग सेव की जा सकती है. जैसे, अगर शोरगुल की वजह से डिवाइस को “Ok Google” जैसी आवाज़ सुनाई दे. हम लगातार अपने सिस्टम को बेहतर बनाने की कोशिश कर रहे हैं, ताकि बोलकर निर्देश देने की सुविधा के गलती से चालू होने के मामलों को कम किया जा सके.

बिना इंटरनेट कनेक्शन के डिवाइस का इस्तेमाल करने पर, ऑडियो को आपके Google खाते में तब सेव किया जा सकता है, जब आप ऑनलाइन हों.

जब आवाज़ और ऑडियो गतिविधि से जुड़ी यह सेटिंग बंद हो

आवाज़ और ऑडियो गतिविधि से जुड़ी यह सेटिंग बंद होने पर, जब भी Google Search, Assistant, और Maps का बोलकर इस्तेमाल किया जाएगा, तब आपकी आवाज़ को रिकॉर्ड नहीं किया जाएगा. साथ ही, Google इस रिकॉर्डिंग को अपने सर्वर पर, आपके Google खाते में मौजूद वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि की मदद से सेव भी नहीं करेगा. Google आपके ऑडियो को प्रोसेस करना जारी रखेगा, ताकि Google की सेवाओं का बोलकर इस्तेमाल करने पर, आपको जवाब दिए जा सकें.

इस सेटिंग के बंद होने पर Google, वॉइस मैच जैसी आवाज़ की पहचान करने वाली अपनी टेक्नोलॉजी को बेहतर बनाने के लिए, पहले से सेव की गई ऑडियो रिकॉर्डिंग का इस्तेमाल नहीं करेगा. जब तक पहले सेव की गई इन रिकॉर्डिंग को मिटाया नहीं जाता, तब तक आवाज़ की पहचान करने वाली अन्य टेक्नोलॉजी को बेहतर बनाने के लिए, इन्हें इस्तेमाल किया जा सकता है.

activity.google.com पर जाकर, वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि की मदद से, पहले सेव की गई ऑडियो रिकॉर्डिंग को मिटाया जा सकता है.

अन्य जगहें, जहां ऑडियो रिकॉर्डिंग सेव की जा सकती हैं

आवाज़ और ऑडियो गतिविधि से जुड़ी इस सेटिंग से, इन पर कोई असर नहीं पड़ता:

  • Google Voice और YouTube जैसी, Google की अन्य सेवाओं पर, सेव और मैनेज किए जाने वाले ऑडियो.
  • आपके निजी वॉइस मैच को सेट अप करने और बेहतर बनाने या आपके डिवाइस पर मौजूद आवाज़ की पहचान करने वाली टेक्नोलॉजी को, आपकी पसंद के मुताबिक बनाने के मकसद से, डिवाइस पर सेव किए गए ऑडियो.

आवाज़ की पहचान करने वाली टेक्नोलॉजी को बेहतर बनाने के लिए, मशीन लर्निंग की उन प्रोसेस का इस्तेमाल किया जा सकता है जिन पर यह सेटिंग लागू नहीं होती. ऐसा करने के लिए, फ़ेडरेटेड लर्निंग या इफ़ेमरल लर्निंग का इस्तेमाल किया जाता है. उदाहरण के लिए:

  • 'Gboard को बेहतर बनाएं' सेटिंग चालू होने पर Gboard, फ़ेडरेटेड लर्निंग टेक्नोलॉजी की मदद से, आपके डिवाइस पर ऑडियो को सेव और प्रोसेस कर सकता है. इस टेक्नोलॉजी की मदद से Gboard, आपके ऑडियो को Google के सर्वर पर भेजे बिना ही, बोली पहचानने की सुविधा को बेहतर बना सकता है. जानें कि 'Gboard को बेहतर बनाएं' सेटिंग की मदद से, Gboard को बेहतर कैसे बनाया जाता है.
  • Google, ऑडियो की पहचान करने वाली अपनी टेक्नोलॉजी को बेहतर बनाने के लिए, रीयल टाइम में आपके ऑडियो को प्रोसेस और उसका विश्लेषण कर सकता है. इसके लिए, इफ़ेमरल लर्निंग टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जाता है. ऐसा करने पर, ऑडियो को वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि की मदद से, सेव करने की ज़रूरत नहीं होती.

Google, बोली पहचानने के मॉडल को कैसे बेहतर बनाता है, इस बारे में ज़्यादा जानें.

इसी विषय से जुड़े लिंक

खोजें
खोज साफ़ करें
खोज बंद करें
Google ऐप
मुख्य मेन्यू
खोज मदद केंद्र
true
100334
false
false