अपनी वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि देखना और नियंत्रित करना

अगर वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि चालू है, तो आपकी दूसरी Google सेवाओं से जुड़ी खोज और गतिविधि आपके Google खाते में सेव हो जाएगी. इससे आपको ज़्यादा मनमुताबिक अनुभव जैसे, तेज खोज और ज़्यादा मददगार ऐप्लिकेशन और सामग्री के सुझाव मिल सकते हैं.

आप किसी भी समय वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि को बंद कर सकते हैं या पिछली गतिविधि मिटा सकते हैं.

ध्यान दें: अगर आपको Google खाता दफ़्तर या स्कूल से मिला है, तो अपने संगठन के लिए वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि की दूसरी सेवा को चालू करने के लिए आपको एडमिन से संपर्क करना पड़ सकता है.

वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि को चालू या बंद करना

  1. अपने कंप्यूटर पर गतिविधि नियंत्रण पेज पर जाएं. आपसे अपने Google खाते में साइन इन करने के लिए कहा जा सकता है.
  2. वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि को चालू या बंद करें.
  3. अगर आप इस स्विच को चालू करते हैं, तो आप "Chrome ब्राउज़ करने का इतिहास और Google की सेवाओं का इस्तेमाल करने वाली वेबसाइटों और ऐप्लिकेशन पर हुई गतिविधि शामिल करें" के पास वाले बॉक्स पर सही का निशान लगा सकते हैं.

ध्यान दें: कुछ ब्राउज़र और डिवाइस में इस गतिविधि को सेव करने के तरीके पर असर डालने वाली और सेटिंग हो सकती हैं.

अपनी गतिविधि देखना या मिटाना

आप मेरी गतिविधि पर जाकर अपनी वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि को देख और मिटा सकते हैं. गतिविधि को मैन्युअल तरीके से हटाने या अपने आप मिटाने की सुविधा सेट करने के तरीके के बारे में और जानें.

वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि के रूप में क्या सेव किया जाता है

आपकी खोज और दूसरी चीज़ों से जुड़ी जानकारी

वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि के चालू होने पर Google कुछ इस तरह की जानकारी सेव करता है:

  • ऐसी खोज और दूसरी चीज़ों की जानकारी जो आप 'मैप' जैसे Google उत्पादों और सेवाओं पर करते हैं
  • आपकी जगह, भाषा, आईपी पता, और रेफ़रल देने वाले की जानकारी. साथ ही, यह जानकारी कि आप ब्राउज़र इस्तेमाल करते हैं या ऐप्लिकेशन
  • आप जिन विज्ञापनों पर क्लिक करते हैं, या उन चीज़ों की जानकारी जो विज्ञापन देने वाले की साइट पर आप खरीदते हैं
  • आपके डिवाइस की जानकारी जैसे, हाल ही में इस्तेमाल किए गए ऐप्लिकेशन या आपने जिन संपर्कों के नाम ढूंढे

ध्यान दें: आपके ऑफ़लाइन होने पर भी गतिविधि सेव की जा सकती है.

आपकी ब्राउज़िंग और दूसरी चीज़ों से जुड़ी जानकारी

Google इस तरह की जानकारी सेव कर सकता है:

  • वे साइटें और ऐप्लिकेशन जिनका आप इस्तेमाल करते हैं
  • Google सेवाओं का इस्तेमाल करने वाली साइट और ऐप्लिकेशन पर आपकी गतिविधि
  • आपका Chrome ब्राउज़िंग इतिहास

Google यह जानकारी सेव कर सके, इसके लिए:

  • वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि चालू होनी चाहिए.
  • "Chrome इतिहास और Google की सेवाओं का इस्तेमाल करने वाली साइटों, ऐप्लिकेशन, और डिवाइस पर हुई गतिविधि शामिल करें" के पास वाले बॉक्स पर सही का निशान लगा होना चाहिए.

आपका Chrome इतिहास तभी सेव किया जाता है, जब आपने Google खाते में साइन इन किया हुआ हो और आपका Chrome सिंक चालू हो. Chrome सिंक के बारे में जानें.

ध्यान दें: अगर आप किसी शेयर किए गए डिवाइस का इस्तेमाल करते हैं या एक से ज़्यादा खाते से साइन इन करते हैं, तो गतिविधि को आपके ब्राउज़र या डिवाइस पर मौजूद डिफ़ॉल्ट खाते में सेव किया जा सकता है.

आपकी सेव की गई गतिविधि का इस्तेमाल कैसे किया जाता है

Google आपकी सेव की गई गतिविधि का इस्तेमाल कैसे करता है और उसे निजी रखने में किस तरह मदद करता है, इस बारे में ज़्यादा जानें.

Google आम तौर पर सर्च क्वेरी का क्या करता है, इस बारे में ज़्यादा जानने के लिए, निजता नीति से जुड़े अक्सर पूछे जाने वाले सवाल देखें.

आपके साइन आउट होने पर वेब और ऐप्लिकेशन गतिविधि कैसे काम करती है

साइन आउट होने पर भी, खोज से जुड़ी गतिविधि का इस्तेमाल करके आपके खोज और विज्ञापन नतीजे, आपकी पसंद के मुताबिक बनाए जा सकते हैं. खोज को पसंद के मुताबिक बनाने की सुविधा बंद करने के लिए, आप निजी तरीके से खोज और ब्राउज़ कर सकते हैं. तरीका जानें.

ब्राउज़र इतिहास

आप गतिविधि नियंत्रण पेज पर, "Chrome ब्राउज़ करने का इतिहास और Google की सेवाओं का इस्तेमाल करने वाली साइटों, ऐप्लिकेशन, और डिवाइस पर हुई गतिविधि शामिल करने" के लिए, बॉक्स पर सही का निशान भी लगा सकते हैं. इस बॉक्स पर सही का निशान लगाने के बाद आप नियंत्रित कर सकते हैं कि आपके डिवाइस से होने वाली गतिविधि सेव की जाए या नहीं.

आप जो चीज़ें खोजते हैं और जिन साइटों पर जाते हैं उन्हें आपके ब्राउज़र या 'Google टूलबार' में भी सेव किया जा सकता है. Chrome, टूलबार, Safari, इंटरनेट एक्सप्लोरर या Firefox से अपना इतिहास मिटाने का तरीका जानें.