वेबसाइट प्रॉपर्टी जोड़ना

अपने Search Console खाते में वेबसाइट प्रॉपर्टी जोड़ने के लिए यह तरीका अपनाएं. ध्यान दें कि Search Console खाते में कोई साइट जोड़ने के लिए, आपको साबित करना होगा कि साइट (या साइट के जोड़े जा रहे हिस्से) का मालिकाना हक आपके पास है. आप ऐसी प्रॉपर्टी बना सकते हैं जिसमें पूरा डोमेन (example.com) या डोमेन का एक हिस्सा (example.com/clothing) शामिल हो.

वेबसाइट प्रॉपर्टी के प्रकार

Search Console पर नीचे दिए गए इन वेबसाइट प्रॉपर्टी के प्रकार का इस्तेमाल किया जा सकता है:

  यूआरएल-प्रीफ़िक्स प्रॉपर्टी डोमेन प्रॉपर्टी
जानकारी

इसमें सिर्फ़ वे यूआरएल शामिल होते हैं, जिनमें तय किया गया सटीक प्रीफ़िक्स शामिल हो. साथ ही, सभी यूआरएल का प्रोटोकॉल (http/https) भी तय प्रीफ़िक्स वाला ही होना चाहिए. अगर आप चाहते हैं कि आपकी प्रॉपर्टी में किसी भी प्रोटोकॉल या सब-डोमेन (जैसे http/https/www./m.) के यूआरएल शामिल हों, तो आपको यूआरएल-प्रीफ़िक्स प्रॉपर्टी जोड़ने के बजाय डोमेन प्रॉपर्टी जोड़नी चाहिए. ज़्यादा जानकारी देखें.

डोमेन स्तर की प्रॉपर्टी जिसमें सभी तरह के सब-डोमेन (m, www वगैरह) और एक से ज़्यादा प्रोटोकॉल (http, https) के यूआरएल शामिल होते हैं. ज़्यादा जानकारी देखें.
पुष्टि कई तरीकों से की जा सकती है सिर्फ़ डीएनएस रिकॉर्ड से पुष्टि की जा सकती है
उदाहरण

प्रॉपर्टी http://example.com

http://example.com/dresses/1234
🅧 
https://example.com/dresses/1234 - https मेल नहीं खाता
🅧 http://www.example.com/dresses/1234 - www. मेल नहीं खाता

प्रॉपर्टी example.com

http://example.com/dresses/1234
 
https://example.com/dresses/1234
 http://www.example.com/dresses/1234
 http://support.m.example.com/dresses/1234

नई प्रॉपर्टी जोड़ना

नई प्रॉपर्टी जोड़ने के लिए:

  1. Search Console के किसी भी पेज पर, प्रॉपर्टी चुनने के लिए बना ड्रॉपडाउन मेन्यू खोलें.
  2. ड्रॉपडाउन मेन्यू में + प्रॉपर्टी जोड़ें चुनें.
  3. जोड़ने के लिए प्रॉपर्टी का प्रकार चुनें:
    1. यूआरएल-प्रीफ़िक्स प्रॉपर्टी
      • अपनी प्रॉपर्टी का यूआरएल ठीक वैसा ही डालें, जैसा वह ब्राउज़र के यूआरएल बार में दिखाई देता है. इसमें यूआरएल के आखिर में दिखाई देने वाला / का निशान भी शामिल होना चाहिए. आपकी प्रॉपर्टी में ऐसे सभी यूआरएल शामिल किए जाएंगे, जो तय किए गए प्रीफ़िक्स से शुरू होंगे.
      • अगर आपकी साइट एक से ज़्यादा प्रोटोकॉल (http और https) पर काम करती है, तो आपको हर प्रोटोकॉल के लिए अलग-अलग प्रॉपर्टी जोड़नी होगी. इसी तरह, अगर आपकी साइट एक से ज़्यादा सब-डोमेन (उदाहरण के लिए, example.com, m.example.com, और www.example.com) पर काम करती है, तो आपको हर सब-डोमेन के लिए अलग-अलग प्रॉपर्टी जोड़नी होगी.
      • अगर आपकी साइट डोमेन या प्रोटोकॉल के अलग-अलग वर्शन (m.example.com, http://example.com, https://example.com) पर काम करती है, तो Google को बताएं कि कैननिकल के तौर पर किन यूआरएल को चुना गया है.
      • अगर आप अपनी वेबसाइट के अलग-अलग हिस्सों के डेटा पर नज़र रखना चाहते हैं, तो उन सभी डोमेन या सब-पाथ के लिए Search Console में अलग प्रॉपर्टी बनाएं जिनके डेटा पर आप अलग से नज़र रखना चाहते हैं. साथ ही, उस यूआरएल के लिए भी ऐसा ही करें जिसमें ये सभी डोमेन या फ़ोल्डर शामिल हों और जिसे सबसे ज़्यादा इस्तेमाल किया गया हो. उदाहरण के लिए, अगर आपके पास यात्रा से जुड़ी साइट है, जिसमें आयरलैंड, फ़्रांस, और स्पेन की जानकारी वाले सब-फ़ोल्डर बने हैं, तो आपको नीचे दी गई यूआरएल-प्रीफ़िक्स प्रॉपर्टी के लिए खाते बनाने चाहिए:
        • https://www.example.com/ (या example.com के लिए डोमेन प्रॉपर्टी)
        • https://www.example.com/france/
        • https://www.example.com/ireland/
        • https://www.example.com/spain/
        • http://m.example.com/ (आपकी मोबाइल साइट के लिए)
    2. डोमेन प्रॉपर्टी

      वह डोमेन डालें, जिसे आप जोड़ना चाहते हैं. नीचे बताया गया है कि Search Console पर यूआरएल के किन सिंटैक्स का इस्तेमाल किया जा सकता है. साथ ही, यहां आपकी प्रॉपर्टी में शामिल यूआरएल की जानकारी भी दी गई है. डोमेन प्रॉपर्टी पर मालिकाना हक की पुष्टि करने के लिए, डीएनएस रिकॉर्ड से पुष्टि करने की ज़रूरत होती है. ऐसा तब करना होता है जब प्रॉपर्टी Google के किसी उत्पाद जैसे Blogger या 'Google साइटें' पर न हो.

      सिंटैक्स

      डोमेन प्रॉपर्टी के यूआरएल में प्रोटोकॉल (http/https) या डायरेक्ट्री का हिस्सा (/some/path) शामिल नहीं होता है. ध्यान दें कि पब्लिक सफ़िक्स (.org, .com वगैराह), डोमेन प्रॉपर्टी के यूआरएल का ज़रूरी हिस्सा होता है. यही वजह है कि डोमेन प्रॉपर्टी "example.com" में "example.org" या "example.il.com" शामिल नहीं होता.

      नीचे दिए गए सभी यूआरएल, डोमेन प्रॉपर्टी के लिए मान्य हैं:

      • m.example.com
      • example.com
      • support.m.example.org
      • support.m.example.co.es

      www को शामिल नहीं किया जाता. अगर आप अपनी डोमेन प्रॉपर्टी में www को शामिल करते हैं, तो Search Console पर प्रॉपर्टी जोड़ते समय www को नज़रअंदाज़ कर दिया जाता है. उदाहरण के लिए, अगर आप Search Console में www.example.com को अपनी प्रॉपर्टी के तौर पर जोड़ते हैं, तो आपकी प्रॉपर्टी example.com के तौर पर बनाई जाएगी.

      कवरेज

      डोमेन प्रॉपर्टी के डेटा में उसके सभी सब-डोमेन, प्रोटोकॉल, और सब-पाथ का डेटा शामिल होता है. उदाहरण के लिए, अगर आप "example.com" को अपनी प्रॉपर्टी के तौर पर जोड़ते हैं, तो इस प्रॉपर्टी में example.com के साथ उसके सभी सब-डोमेन (उदाहरण के लिए, m.example.com, support.m.example.com, www.example.com वगैरह) का डेटा भी शामिल होगा. साथ ही, दोनों प्रोटोकॉल (एचटीटीपी और एचटीटीपीएस) के लिए इन सब-डोमेन के सभी सब-पाथ का डेटा भी शामिल किया जाएगा.

      यहां डोमेन प्रॉपर्टी के कुछ उदाहरण दिए गए हैं और यह भी बताया गया है कि इनमें किन यूआरएल का डेटा शामिल किया जाता है:

      डोमेन के नाम ... ... में ये यूआरएल शामिल हैं.
      example.com
      • http://example.com
      • https://example.com
      • http://m.example.com
      • http://a.b.c.example.com
      • https://m.example.com/any/path/here
      • ...
      fish.example.com
      • http://fish.example.com
      • https://fish.example.com
      • https://support.fish.example.com
      • https://support.fish.example.com/any/path/here
      • ...
      • NOT example.com
      example.co.cn
      • http://example.co.cn
      • https://example.co.cn
      • https://support.example.co.cn
      • https://support.example.co.cn/any/path/here
      • ...
      • example.co शामिल नहीं है

       

      अगर आप डोमेन प्रॉपर्टी के डेटा को सब-डोमेन, पाथ या प्रोटोकॉल के हिसाब से अलग-अलग देखना चाहते हैं, तो इनमें से किसी एक तरीके का इस्तेमाल करें:

      • किसी खास प्रोटोकॉल या सब-डोमेन का डेटा देखने के लिए प्रदर्शन रिपोर्ट में पेज का फ़िल्टर लगाएं
      • डोमेन प्रॉपर्टी के अलग-अलग हिस्सों के लिए अलग यूआरएल-प्रीफ़िक्स प्रॉपर्टी बनाएं. उदाहरण के लिए, अगर example.com आपकी डोमेन प्रॉपर्टी है, तो आपको m.example.com, http://example.com, https://example.com/spain/ वगैरह के लिए दूसरी प्रॉपर्टी बनानी होगी.
    3. Google पर होस्ट होने वाली प्रॉपर्टी

      अगर आपकी प्रॉपर्टी Google साइटें, Blogger साइट या G Suite खाते जैसी Google की किसी सेवा पर होस्ट होती है, तो आप यूआरएल-प्रीफ़िक्स या डोमेन प्रॉपर्टी में से आपकी प्रॉपर्टी के लिए जो भी लागू होती है, वह बना सकते हैं. प्रापर्टी का प्रकार इस बात से तय होता है कि आप डोमेन के मालिक हैं या डोमेन में शामिल किसी सब-पाथ के. अगर आपने उसी खाते से साइन इन किया है, जिस खाते के ज़रिए आप Google पर होस्ट होने वाली प्रॉपर्टी में साइन इन करते हैं, तो आपकी प्रॉपर्टी की पुष्टि अपने आप हो जाएगी.
  4. आपको प्रॉपर्टी की पुष्टि करने के तरीके में से किसी एक तरीके को चुनने का विकल्प दिया जाएगा. जब आप Search Console में पुष्टि करने के लिए कोई तरीका चुनते हैं, तो चुने गए तरीके को पूरा करने के लिए आपको ज़रूरी कदम दिखाए जाते हैं. आप तुरंत पुष्टि कर सकते हैं या अपनी सेटिंग सेव करके बाद में प्रक्रिया पूरी कर सकते हैं:
    • तुरंत पुष्टि करने के लिए, पॉप-अप विंडो को बंद किए बिना पुष्टि करने के बताए गए तरीकों का पालन करें और फिर पॉप-अप विंडो में पुष्टि करें पर क्लिक करें. अगर आपको पुष्टि करने में ज़्यादा समय लग रहा है, तो आप जब चाहें अपनी सेटिंग सेव कर सकते हैं और प्रक्रिया को बाद में फिर से शुरू कर सकते हैं.
    • प्रक्रिया को रोकने और बाद में पूरी करने के लिए, अपनी मौजूदा स्थिति को सेव करें. आप बाद में पुष्टि करें पर क्लिक करके अपनी मौजूदा स्थिति सेव कर सकते हैं. इसके बाद, पॉप-अप बंद कर दें और जब चाहें अपनी साइट की पुष्टि करें. पुष्टि करने के ज़रूरी कदमों को पूरा करने के बाद, नेविगेशन बार में प्रॉपर्टी चुनने वाले मेन्यू से सेव की गई प्रॉपर्टी (जिसकी पुष्टि नहीं हुई है) चुनकर पुष्टि की प्रक्रिया पूरी करें. इसके बाद, पुष्टि करें चुनें.
  5. कुछ दिनों के बाद आपकी प्रॉपर्टी में डेटा दिखाई देने लगेगा. Search Console खाते में प्रॉपर्टी जुड़ने के साथ ही, प्रॉपर्टी का डेटा इकट्ठा होना शुरू हो जाता है. यह प्रक्रिया प्रॉपर्टी की पुष्टि किए जाने से पहले ही शुरू हो जाती है. जब तक उपयोगकर्ता के खाते में कोई प्रॉपर्टी मौजूद रहती है तब तक उसका डेटा इकट्ठा होने की प्रक्रिया जारी रहती है. इसके लिए प्रॉपर्टी के मालिकाना हक की पुष्टि होनी ज़रूरी नहीं है. पुष्टि करने के कई दिन बाद भी अगर प्रॉपर्टी में डेटा नहीं दिखाई देता है, तो हो सकता है कि 'Google सर्च' के नतीजों में आपकी साइट दिखाई न दे रही हो. यह भी हो सकता है कि आपने Search Console में प्रॉपर्टी का यूआरएल डालने में कोई गलती की हो. उदाहरण के लिए, आपने यूआरएल-प्रीफ़िक्स प्रॉपर्टी के यूआरएल में एचटीटीपी की जगह एचटीटीपीएस डाल दिया हो.
प्राॅपर्टी के यूआरएल में गैर-लैटिन वर्ण का इस्तेमाल करना
Search Console पर इंटरनैशनलाइज़िंग डोमेन नेम्स इन ऐप्लिकेशन्स (आईडीएनए) साइट यूआरएल की तरह काम करते हैं. आप अपनी साइट का डोमेन नाम सामान्य तरीके से टाइप करें और Search Console में यह सही तरीके से दिखाई देगा. उदाहरण के लिए, अगर आप प्रॉपर्टी जोड़ें बॉक्स में http://bücher.example.com/ टाइप करते हैं, तो यह सही तरीके से दिखाई देगा.

किसी प्रॉपर्टी को फिर से जोड़ना

आप हटाई गई उस प्रॉपर्टी को फिर से जोड़ सकते हैं जिसे आपने पुष्टि करने से पहले हटा दिया था. हालांकि, इसके लिए उस प्रॉपर्टी का ऐसे व्यक्ति के पास होना ज़रूरी है जिसके मालिकाना हक की पुष्टि हो चुकी है.

प्रॉपर्टी को फिर से जोड़ने के लिए, ऊपर बताए गए कदम 1 से 3 का इस्तेमाल करके प्रॉपर्टी जोड़ें. प्रॉपर्टी जोड़ने पर उसके मालिकाना हक की पुष्टि अपने आप हो जाएगी.

क्या यह उपयोगी था?
हम उसे किस तरह बेहतर बना सकते हैं?