इंस्टैंट इस्तेमाल करने की सुविधा देने वाले ऐप्लिकेशन को लोगों तक पहुंचाना

सभी झटपट अनुभव देने वाले नए ऐप्लिकेशन को Google Play पर झटपट सुविधा वाले ऐप्लिकेशन बंडल के साथ प्रकाशित किया जाना चाहिए. साल 2021 के आखिरी छह महीने में, मौजूदा झटपट अनुभव देने वाले ऐप्लिकेशन के अपडेट को झटपट सुविधा वाले ऐप्लिकेशन बंडल के साथ प्रकाशित करना ज़रूरी होगा.

ज़्यादा जानकारी के लिए, Android डेवलपर ब्लॉग पर यह पोस्ट पढ़ें.

अगर आपने ऐसा ऐप्लिकेशन बना लिया है जो इंस्टैंट इस्तेमाल करने की सुविधा देता है, तो आप लोगों तक ऐप्लिकेशन पहुंचाने के लिए, Play Console का इस्तेमाल कर सकते हैं.

ध्यान दें: ऐसे ऐप्लिकेशन जो परिवार के लिए बनाए गए कार्यक्रम में शामिल हैं वे इंस्टैंट इस्तेमाल की सुविधा नहीं दे सकते.

सलाह: अगर आप अपना ऐप्लिकेशन बनाने के लिए Android ऐप्लिकेशन बंडल का इस्तेमाल करते हैं, तो आपको अपने ऐप्लिकेशन के इंस्टॉल किए हुए वर्शन और इंस्टैंट इस्तेमाल की सुविधा देने वाले वर्शन के लिए सिर्फ़ एक आर्टफ़ैक्ट बनाना, साइन करना, और अपलोड करना होगा.

पहला चरण: इंस्टैंट ऐप्लिकेशन चालू करें

सबसे पहले, अपने ऐप्लिकेशन में इंस्टैंट इस्तेमाल करने वाली सुविधा के लिए, आपको Google Play Instant को रिलीज़ के तौर पर जोड़ना होगा. साथ ही, पक्का करना होगा कि वह चालू हो.

  1. Play Console खोलें और बेहतर सेटिंग पेज पर जाएं (रिलीज़ करें >सेट अप करें > बेहतर सेटिंग).
  2. किस तरह की रिलीज़ चाहते हैं टैब चुनें. 
  3. + के निशान पर क्लिक करके, आप जिस तरह की रिलीज़ चाहते हैं उसे जोड़ें. इसके बाद, Google Play Instant चुनें.

इन चरणों को पूरा करने के बाद, “Google Play Instant” एक रिलीज़ के तौर पर सूची में दिखेगा. साथ ही, आपको हरे रंग के सही के निशान के साथ, स्थिति में "चालू है" भी दिखेगा.

दूसरा चरण: रिलीज़ बनाना

रिलीज़ को एक या ज़्यादा बिल्ड आर्टफ़ैक्ट को मिलाकर तैयार किया जाता है, जिसे आप किसी ऐप्लिकेशन या ऐप्लिकेशन के अपडेट को रोल आउट करने के लिए तैयार करेंगे. आप इन ट्रैक को तुरंत रिलीज़ कर सकते हैं:

  • इंटरनल टेस्टिंग (संगठन में काम करने वाले लोगों के लिए उपलब्ध जांच): इंटरनल टेस्टिंग की रिलीज़ आपके चुने हुए 100 लोगों के लिए उपलब्ध होती हैं.
  • क्लोज़्ड टेस्टिंग (चुने हुए लोगों के लिए उपलब्ध जांच): क्लोज़्ड टेस्टिंग की रिलीज़ आपके चुने हुए कुछ लोगों के लिए ही उपलब्ध होती हैं. ये लोग रिलीज़ से पहले वाले आपके ऐप्लिकेशन के वर्शन की जांच कर सकते हैं और सुझाव या राय सबमिट कर सकते हैं.
  • प्रोडक्शन: प्रोडक्शन रिलीज़, आपके चुने गए देशों में Google Play इस्तेमाल करने वाले सभी लोगों के लिए उपलब्ध होती हैं.

अहम जानकारी: नई रिलीज़ बनाने के लिए, आपके पास ऐप्लिकेशन को टेस्ट ट्रैक में रिलीज़ करने की अनुमति होनी चाहिए.

अपने इंस्टैंट ऐप्लिकेशन की रिलीज़ बनाने के लिए:

  1. Play Console खोलें और उस ट्रैक पर जाएं जिस पर आप अपनी रिलीज़ शुरू करना चाहते हैं: 
  2. पेज के सबसे ऊपर दाईं ओर, रिलीज़ के लिए फ़िल्टर दिया होता है. इसमें डिफ़ॉल्ट तौर पर स्टैंडर्ड मोड चुना होता है. किस तरह का रिलीज़ है, यह देखने के लिए डाउन ऐरो पर क्लिक करें और सिर्फ़ इंस्टैंट ऐप्लिकेशन चुनें.
  3. आपका इंस्टैंट रिलीज़ कैसा होगा, यह इस बात पर निर्भर करता है कि आपने किस तरह के ट्रैक पर उसे बनाया है:
    • इंटरनल टेस्टिंग और प्रोडक्शन रिलीज़ करने के लिए: पेज के सबसे ऊपर दाईं ओर, नई रिलीज़ बनाएं पर क्लिक करें.
    • क्लोज़्ड टेस्टिंग रिलीज़ करने के लिए: “ऐल्फ़ा” ट्रैक के आगे ट्रैक मैनेज करें पर क्लिक करें. इसके बाद, नई रिलीज़ बनाएं चुनें.
      • ध्यान दें: अगर नई रिलीज़ बनाएं बंद है, तो हो सकता है कि आपके पास कुछ ऐसे सेट अप टास्क हों जिन्हें पूरा करना बाकी है. हो सकता है कि इनकी जानकारी डैशबोर्ड पेज पर दी गई हो.

हर तरह के ट्रैक को सेट अप करने के बारे में ज़्यादा जानकारी के लिए, इस विषय से जुड़े नीचे दिए गए सेक्शन चुनें. जांच के बारे में ज़्यादा जानने के लिए, ओपन टेस्टिंग, क्लोज़्ड टेस्टिंग या इंटरनल टेस्टिंग को सेट अप करें पर जाएं.

ट्रैक के बारे में जानकारी

इंटरनल और क्लोज़्ड टेस्टिंग

जांच करने वाले लोगों को जोड़ना

जांच करने वाले लोगों की सूची बनाने के लिए, हमारे जांच से जुड़े लेख में दिए गए निर्देशों का पालन करें. साथ ही, जांच करने वाले लोगों को अपने ऐप्लिकेशन को इस्तेमाल करने का न्योता दें. इसके अलावा, इंटरनल टेस्टिंग या क्लोज़्ड टेस्टिंग ट्रैक के लिए, अपने इंस्टैंट ऐप्लिकेशन को लोगों तक पहुंचाएं. 

जांच करने वालों के साथ, अपने ऐप्लिकेशन का लिंक शेयर करने से पहले, इन बातों का ध्यान रखें:

  • टेस्ट करने वालों के कॉन्फ़िगरेशन, इंस्टॉल किए जाने वाले ऐप्लिकेशन और इंस्टैंट ऐप्लिकेशन से जुड़े एक जैसे ट्रैक के लिए लागू होते हैं. जैसे, जब आप अपने इंस्टॉल किए गए ऐप्लिकेशन के लिए, क्लोज़्ड टेस्टिंग ट्रैक में जांच करने वाले लोगों की सूची जोड़ते हैं, तो वही सूची आपके इंस्टैंट ऐप्लिकेशन के लिए क्लोज़्ड टेस्टिंग ट्रैक पर भी लागू होती है. 
  • जांच करने वाले लोग एक बार में, रिलीज़ ट्रैक पर एक ही इंस्टैंट ऐप्लिकेशन की जांच कर सकते हैं. इसका मतलब यह है कि अगर कोई जांच करने वाला, आपके ऐप्लिकेशन की इंटरनल रिलीज़ की जांच करता है और इसके बाद क्लोज़्ड रिलीज़ की जांच करता है, तो उसे इंटरनल रिलीज़ की जांच से अपने-आप हटाया जा सकता है.
प्रोडक्शन

जब आप कोई प्रोडक्शन रिलीज़ बना रहे हों, तब आप वे देश बदल सकते हैं जहां आपका इंस्टैंट ऐप्लिकेशन उपलब्ध होता है. डिफ़ॉल्ट तौर पर, जहां आप अपना इंस्टॉल किया गया ऐप्लिकेशन ऑफ़र करते हैं वहां चुने गए देशों का मिलान होगा. 

आप उन ही देशों और इलाकों को टारगेट कर सकते हैं जिन्हें आपके स्टैंडर्ड ऐप्लिकेशन के प्रोडक्शन या ऐडवांस रजिस्ट्रेशन के लिए पहले से चुना गया है. अपने ऐप्लिकेशन को किस देश के लोगों तक पहुंचाना चाहते हैं, इसके लिए इंस्टैंट ऐप्लिकेशन रिलीज़ के प्रोडक्शन पेज पर जाएं. इसके बाद, देश या इलाके टैब को चुनें. फिर (रिलीज़ करें > प्रोडक्शन > पर जाएं.

तीसरा चरण: अपने इंस्टैंट ऐप्लिकेशन की रिलीज़ बनाएं

  1. अपने इंस्टैंट ऐप्लिकेशन APK जोड़ने और अपनी रिलीज़ को नाम देने के लिए स्क्रीन पर दिए गए निर्देशों के मुताबिक आगे बढ़ें. 
    • रिलीज़ का नाम सिर्फ़ Play Console में इस्तेमाल करने के लिए है और यह इस्तेमाल करने वाले लोगों को दिखाई नहीं देगा.
    • हम आपके मेनिफ़ेस्ट में वर्शन नाम वाली फ़ील्ड को ऑटो पॉपुलेट करेंगे.
    • आपकी रिलीज़ Play Console में आसानी से पहचाना जा सके, इसके लिए रिलीज़ का नाम ऐसा रखें जिसे आप आसानी से समझ सकें. जैसे कि बिल्ड वर्शन ("3.2.5-RC2") या संगठन में काम करने वालों के लिए कोड नाम ("Banana").
  2. अपनी रिलीज़ में किए गए बदलाव सेव करने के लिए, सेव करें चुनें.
  3. जब आपकी रिलीज़ तैयार हो जाए, तो रिलीज़ की समीक्षा करें चुनें.

चौथा चरण: अपनी रिलीज़ पर दोबारा नज़र डालना और उसे रोल आउट करना

ज़रूरी शर्तें: अपनी रिलीज़ को रोल आउट करने से पहले, यह पक्का करें कि आपने अपने ऐप्लिकेशन के स्टोर पेज और कॉन्टेंट रेटिंग सेक्शन पूरे कर लिए हो और इसकी कीमतें भी सेट कर ली हों

अपने ऐप्लिकेशन के इंस्टॉल किए गए वर्शन के लिए, आपने जिस जानकारी को इन सेक्शन में भरा है वही आपके झटपट इस्तेमाल की सुविधा देने वाले ऐप्लिकेशन पर भी लागू होगी. ध्यान रखें कि झटपट इस्तेमाल करने की सुविधा का उपलब्ध होना, इंस्टैंट ऐप्लिकेशन के मेनिफ़ेस्ट के हिसाब से तय किया जाता है, न कि उस सूची के मुताबिक जिसमें बताया गया हो कि ऐप्लिकेशन किन डिवाइस पर काम नहीं करता है

जब आपको लगे कि आप अपने इंस्टैंट ऐप्लिकेशन को रोल आउट करने के लिए तैयार हैं, तब आप अपनी रिलीज़ की समीक्षा करने और उसे रोल आउट करने के निर्देशों का पालन कर सकते हैं.

पांचवां चरण: रिलीज़ की जानकारी देखना

रिलीज़ बनाने के बाद, आपको हाल ही की उस ऐप्लिकेशन रिलीज़ की जानकारी अपनेक्लोज़्ड टेस्टिंग,  इंटरनल टेस्टिंग या प्रोडक्शन पेज पर दिखेगी. सिर्फ़ इंस्टैंट ऐप्लिकेशन चुनने, अपनी रिलीज़ ढूंढने, और नीचे दी गई जानकारी देखने के लिए, रिलीज़ के फ़िल्टर (डिफ़ॉल्ट तौर पर, स्टैंडर्ड मोड चुन लिया जाएगा) का इस्तेमाल करें:

  • रिलीज़ का नाम: सिर्फ़ Play Console में पहचाने जाने के लिए रिलीज़ को कोई नाम दें, जैसे कि संगठन में काम करने वालों के लिए कोड नेम या बिल्ड वर्शन.
  • रोल आउट की जानकारी: हर एक रिलीज़ के पिछले रोल आउट इवेंट को दिखाने वाली तारीख और टाइमस्टैंप.
  • APK की जानकारी: आपकी अभी वाली और पिछली रिलीज़ में जोड़े गए चालू वर्शन कोड की सूची.
  • पुराने रोल आउट की जानकारी: वह टाइमलाइन जो आपके ऐप्लिकेशन के बारे में वह टाइमस्टैंप दिखाती है जिससे पता चलता है कि कब आपके ऐप्लिकेशन की रिलीज़ रोकी गई या फिर से शुरू की गई.
  • पुरानी रिलीज़ की जानकारी: वर्शन कोड, पुराने रोल आउट, और प्रॉडक्ट की जानकारी के साथ पिछली सभी रिलीज़ की सूची.

आप रिलीज़ की खास जानकारी वाले पेज पर जाकर, अपनी इंस्टैंट रिलीज़ खोज सकते हैं (रिलीज़ करें > रिलीज़ की खास जानकारी).

उपयोगकर्ताओं को सीधे मोबाइल वेब पर भेजना

ऐप्लिकेशन इस्तेमाल करने वाले लोगों का प्रतिशत

अगर आपको मोबाइल वेब और अपने इंस्टैंट इस्तेमाल करने की सुविधा देने वाले ऐप्लिकेशन के बीच परफ़ॉर्मेंस टेस्ट करने में दिलचस्पी है, तो आप ट्रैफ़िक का कुछ प्रतिशत मोबाइल वेब पर भेज सकते हैं. इसे मोबाइल रोक के नाम से जाना जाता है.

मोबाइल रोक की सुविधा सेट अप करने के लिए:

  1. Play Console खोलें और कोई ऐप्लिकेशन चुनें. 
  2. आप जिस इंस्टैंट रिलीज़ में बदलाव करना चाहते हैं उसके ट्रैक पेज पर जाएं (क्लोज़्ड टेस्टिंग, इंटरनल टेस्टिंग या प्रोडक्शन) या फिर इसे रिलीज़ की खास जानकारी वाले पेज पर खोजें (रिलीज़ करें > रिलीज़ की खास जानकारी).
  3. पेज के सबसे ऊपर दाईं ओर, रिलीज़ के फ़िल्टर पर क्लिक करें (डिफ़ॉल्ट तौर पर, स्टैंडर्ड मोड चुन लिया जाएगा) और सिर्फ़ इंस्टैंट ऐप्लिकेशन चुनें.
  4. मोबाइल वेब टैब चुनें.
  5. "लोगों को सीधे मोबाइल वेब पर भेजें" सेक्शन के आगे, उन लोगों का प्रतिशत डालें जिन्हें आप सीधे मोबाइल वेब पर भेजना चाहते हैं. उदाहरण के लिए, अगर आप 0.95 डालते हैं, तो इंस्टैंट ऐप्लिकेशन के 95% अनुमति वाले ट्रैफ़िक को मोबाइल वेब पर भेज दिया जाएगा. बाकी 5% ट्रैफ़िक को आपके इंस्टैंट ऐप्लिकेशन पर भेजा जाएगा.
  6. अपने किए गए बदलाव सेव करें.
ऐप्लिकेशन इस्तेमाल करने वाले सभी लोग

अगर आपको अपने इंस्टैंट ऐप्लिकेशन में कोई समस्या मिली है और आप इसका इस्तेमाल करने वाले सभी लोगों (सभी ट्रैक पर मौजूद) को मोबाइल वेब पर भेजना चाहते हैं, तो:

  1. Play Console खोलें और बेहतर सेटिंग के पेज पर जाएं (रिलीज़ करें >सेट अप करें > बेहतर सेटिंग).
  2. “Google Play Instant” सेक्शन में नीचे तक स्क्रोल करें. इसके बाद, और मैनेज करें पर क्लिक करें.
  3. इंस्टैंट ऐप्लिकेशन की सुविधा वाले चेकबॉक्स से सही का निशान हटाएं.
  4. सेव करें पर क्लिक करें.

गड़बड़ी ठीक करना

अगर आपको बँटे हुए APK के बारे में कोई गड़बड़ी मिल रही है, तो ज़्यादा जानकारी के लिए Android डेवलपर साइट पर जाएं.

क्या यह उपयोगी था?
हम उसे किस तरह बेहतर बना सकते हैं?

और मदद चाहिए?

मदद के दूसरे तरीकों के लिए साइन इन करें ताकि आपकी समस्या झटपट सुलझ सके