समाचार और समाचार से जुड़े ऐप्लिकेशन में होने वाले बदलावों को समझना

इस लेख में, हाल ही में हुए बदलावों की खास जानकारी दी गई है. साथ ही, यह भी बताया गया है कि News से जुड़ी नीति  की ज़रूरी शर्तों का पालन करने के लिए डेवलपर को क्या करना होगा. यह लेख, नीति का विकल्प नहीं है. नीति को पूरा पढ़ें और पक्का करें कि आप नीति के काॅन्टेंट को समझकर, उसका पालन करते हों.

बदलावों की खास जानकारी

उपयोगकर्ताओं को बेहतर अनुभव देने के लिए, Google ने अपनी नीति की भाषा को और आसान बनाया है. इससे, समाचार और पत्रिका की कैटगरी में आने वाले कुछ खास ऐप्लिकेशन को समाचार ऐप्लिकेशन के तौर पर शामिल किया जा सकेगा.

Google, संपर्क और लेखक की जानकारी से जुड़ी ज़रूरी शर्तों को भी अपडेट कर रहा है.

समाचार ऐप्लिकेशन से जुड़ी ज़रूरी शर्तें

इस अपडेट में, ऐसे ऐप्लिकेशन भी अपडेट की गई समाचार नीति के दायरे में लाए जाएंगे जो Play Console में "समाचार" के तौर पर पहले शामिल नहीं हुए थे. इसके बावजूद, वे Google Play पर “समाचार और पत्रिका” कैटगरी में शामिल हुए हैं और खुद को समाचार ऐप्लिकेशन बताते हैं. 

इस अपडेट में, समाचार ऐप्लिकेशन के लिए संपर्क जानकारी से जुड़ी ज़रूरी शर्तों को भी आसान बनाया गया है. समाचार ऐप्लिकेशन को अब सिर्फ़ किसी एक तरह की संपर्क जानकारी उपलब्ध करानी होगी: या तो ईमेल पता या फ़ोन नंबर.

आखिर में, किसी समाचार ऐप्लिकेशन को हर लेख के साथ, उसके लेखक की जानकारी देने की ज़रूरत नहीं होगी. ऐसा सिर्फ़ तब करना होगा, जब समाचार ऐप्लिकेशन के पास लेखों का मालिकाना हक न हो या वह उनका मूल पब्लिशर न हो.

समाचार ऐप्लिकेशन को नीति में बताई गई अन्य ज़रूरी शर्तों का पालन करते रहना होगा. उदाहरण के लिए, यह पक्का करना ज़रूरी है कि कॉन्टेंट में वर्तनी और व्याकरण से जुड़ी अहम गड़बड़ियां न हों, अपडेट की गई खबरें शामिल हों, आपका मुख्य मकसद अफ़िलिएट मार्केटिंग या विज्ञापन से पैसा कमाना न हो, और न्यूज़ एग्रीगेटर ऐप्लिकेशन पर पब्लिश करने वाले सोर्स की जानकारी दी जाए.  

ध्यान दें कि अगर आपके ऐप्लिकेशन में मुख्य तौर पर यूज़र जनरेटेड कॉन्टेंट (उदाहरण के लिए, सोशल मीडिया ऐप्लिकेशन) है या आपका मुख्य मकसद अपने ऐप्लिकेशन में प्रॉडक्ट या सेवाओं की बिक्री करके पैसे कमाना है, तो ऐसे ऐप्लिकेशन को Google Play में समाचार ऐप्लिकेशन के तौर पर शामिल नहीं किया जाना चाहिए. 

अतिरिक्त जानकारी

भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी (मध्यवर्ती संस्थानों के लिए दिशा-निर्देश और डिजिटल मीडिया आचार संहिता) के नियम, 2021 (मध्यवर्ती संस्थानों और डिजिटल मीडिया के नियम, 2021) के नियम 5 में बताई गई ज़रूरी शर्तों के मुताबिक, Google को समाचार ऐप्लिकेशन और समाचार से जुड़े ऐप्लिकेशन के पब्लिशर या डेवलपर को यह बताना होगा कि लागू की गई सेवा की शर्तों के अलावा, मध्यवर्ती संस्थानों और डिजिटल मीडिया के नियमों में बताए गए नियम 18 के हिसाब से, समाचार और हाल ही की घटनाओं से जुड़े कॉन्टेंट के पब्लिशर को, Google Play पर बनाए गए अपने खातों की जानकारी, सूचना और प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार को देनी पड़ सकती है.

 

क्या यह उपयोगी था?
हम उसे किस तरह बेहतर बना सकते हैं?

और मदद चाहिए?

मदद के दूसरे तरीकों के लिए साइन इन करें ताकि आपकी समस्या झटपट सुलझ सके

true
खोजें
खोज साफ़ करें
खोज बंद करें
Google ऐप
मुख्य मेन्यू
खोज मदद केंद्र
true
92637
false
false