वेब से ऐप्लिकेशन को कनेक्ट करने वाले टूल की मदद से, परफ़ॉर्मेंस को ऑप्टिमाइज़ करना

इस इलस्ट्रेशन में, Google Ads में परफ़ॉर्मेंस को ऑप्टिमाइज़ करने के लिए, वेब से ऐप्लिकेशन को कनेक्ट करने वाले टूल का इस्तेमाल दिखाया गया है.

वेब से ऐप्लिकेशन को कनेक्ट करने वाले टूल की मदद से, अपने मौजूदा और संभावित ग्राहकों के लिए वेब से ऐप्लिकेशन पर जाने के अनुभव को आसान और बेहतर बनाएं.  वेब से ऐप्लिकेशन को कनेक्ट करने वाले टूल की मदद से, अपने विज्ञापनों पर होने वाले क्लिक को सीधे अपने मोबाइल ऐप्लिकेशन के सही पेज पर डीप लिंक किया जा सकता है. इसके बाद, आपके मोबाइल ऐप्लिकेशन के ज़रिए ग्राहक आसानी से अपनी कार्रवाइयां पूरी कर सकते हैं. अपने कैंपेन की परफ़ॉर्मेंस को ट्रैक और ऑप्टिमाइज़ करने के लिए, बाद में की जाने वाली इन-ऐप्लिकेशन कन्वर्ज़न कार्रवाइयों, जैसे, खरीदारी, साइन अप, और कार्ट में जोड़ें, को भी मेज़र किया जा सकता है.

वेब-टू-ऐप्लिकेशन का बेहतरीन अनुभव देना क्यों ज़रूरी है?

  • पांच में से तीन उपभोक्ताओं का कहना है कि वे शायद ऐसे ब्रैंड को छोड़कर देंगे जो ऐप्लिकेशन के ज़रिए, अपनी सेवा का बेहतरीन अनुभव नहीं देता है. 
  • 73% उपभोक्ताओं के मुताबिक, यह देखना ज़रूरी है कि उनकी सेवा के लिए ब्रैंड शानदार ऐप्लिकेशन अनुभव को प्राथमिकता देते हैं
  • 62% उपभोक्ताओं का कहना है कि वेबसाइटों के बजाय ऐप्लिकेशन का इस्तेमाल करना ज़्यादा आसान है

वेब से ऐप्लिकेशन को कनेक्ट करने वाले टूल के इंटरफ़ेस का इस्तेमाल करने के फ़ायदे

  • यह वेब-टू-ऐप्लिकेशन के आसान इंटिग्रेशन की मदद से, आपके उपयोगकर्ताओं को बेहतर अनुभव देता है
    • आपका ऐप्लिकेशन इंस्टॉल करने वाले मोबाइल उपयोगकर्ताओं को डीप लिंक के ज़रिए सीधे अपने मोबाइल ऐप्लिकेशन के काम के पेज पर भेजें.
    • जिन मोबाइल उपयोगकर्ताओं के पास आपका ऐप्लिकेशन नहीं है, उन्हें हमेशा की तरह अपनी मोबाइल वेबसाइट पर भेजते रहें.
  • मोबाइल वेबसाइट की तुलना में, आपके ऐप्लिकेशन में विज्ञापन क्लिक की लैंडिंग पर औसतन दो गुना ज़्यादा कन्वर्ज़न रेट देता है
    • यह नेटिव ऐप्लिकेशन की सुविधाओं (उदाहरण के लिए, उपयोगकर्ता की सेव की गई जानकारी या पुश नोटिफ़िकेशन) का इस्तेमाल करके, लोगों को बेहतर अनुभव देता है.
    • इसकी मदद से, कैंपेन की परफ़ॉर्मेंस को ऑप्टिमाइज़ किया जाता है, ताकि आपके अहम ऐप्लिकेशन उपयोगकर्ताओं को जोड़े रखा जा सके और ज़्यादा कन्वर्ज़न मिल सकें.

मुख्य सुविधाएं

  • डीप लिंकिंग: मोबाइल डिवाइस उपयोगकर्ताओं को अपनी वेबसाइट के बजाय, सीधे अपने ऐप्लिकेशन में काम के पेजों पर भेजने के लिए, डीप लिंक यूआरएल का इस्तेमाल करें. लोग आपके विज्ञापनों पर क्लिक करके, सीधे आपके बताए गए ऐप्लिकेशन पेजों पर जा सकते हैं.
  • कन्वर्ज़न ट्रैकिंग: यह मेज़र करें कि उपयोगकर्ता के आपके विज्ञापनों पर क्लिक करने और आपके ऐप्लिकेशन पर पहुंचने के बाद क्या होता है, जैसे कि उन्होंने कोई प्रॉडक्ट खरीदा है, खाते के लिए साइन अप किया है, आपके कारोबार को कॉल किया है या आपके न्यूज़लेटर की सदस्यता ली है. जब कोई उपयोगकर्ता कोई ऐसी कार्रवाई पूरी करता है, जिसे आपने अहम कार्रवाई के रूप में परिभाषित किया है, तब इन उपयोगकर्ता कार्रवाइयों को कन्वर्ज़न कहा जाता है.
  • बिडिंग: वे इन-ऐप्लिकेशन कन्वर्ज़न ऐक्शन चुनें जिन्हें अपने वेब कैंपेन का इस्तेमाल करने के लिए ऑप्टिमाइज़ करना है. स्मार्ट बिडिंग का इस्तेमाल करके, विज्ञापन कैंपेन की परफ़ॉर्मेंस को बेहतर बनाया जा सकता है. इससे, कन्वर्ज़न बढ़ाने या कन्वर्ज़न वैल्यू बढ़ाने जैसे कारोबार के लक्ष्यों को बेहतर तरीके से पाने में अपने-आप मदद मिलती है.

इसका इस्तेमाल शुरू करने के लिए, अपने Google खाता मैनेजर से संपर्क करें.

खोजें
खोज हटाएं
खोज बंद करें
Google ऐप
मुख्य मेन्यू
9219983514329723314
true
खोज मदद केंद्र
true
true
true
true
true
73067
false
false