फ़्रीक्वेंसी के बंटवारे के बारे में जानकारी

फ़्रीक्वेंसी के बंटवारे से पता चलता है कि चुनी गई तारीख की सीमा में, कितने लोगों ने आपके विज्ञापनों को कितनी बार देखा. इस लेख में, आप जानेंगे कि Google Ads में, फ़्रीक्वेंसी के बंटवारे का हिसाब किस तरह लगाया जाता है. साथ ही, आप वीडियो कैंपेन के लिए फ़्रीक्वेंसी के बंटवारे को देखने का तरीका भी जानेंगे.

Google Ads में, फ़्रीक्वेंसी के बंटवारे का हिसाब लगाने का तरीका

Google Ads में, फ़्रीक्वेंसी का बंटवारा छह अलग-अलग बकेट में दिखता है. इससे पता चलता है कि किसी व्यक्ति ने विज्ञापन को कम से कम कितनी बार देखा: “1+”, “2+”, “4+”, “5+”, और “10+”. “1+” फ़्रीक्वेंसी बकेट में, हमेशा चुनी गई तारीख की सीमा के लिए कुल यूनीक उपयोगकर्ताओं की संख्या दिखेगी. साथ ही, “2+”, “3+”, “4+”, “5+”, और “10+” की फ़्रीक्वेंसी बकेट में उन लोगों की संख्या दिखेगी जिन्होंने आपका विज्ञापन कम से कम उतनी बार देखा है जितना कि उस बकेट में बताया गया है. ध्यान रखें कि किसी एक फ़्रीक्वेंसी बकेट में गिने जाने वाले लोगों की गिनती किसी दूसरी फ़्रीक्वेंसी बकेट में भी की जा सकती है (यह इस पर निर्भर करता है कि उन्होंने आपका विज्ञापन कितनी बार देखा है).

उदाहरण

मान लें कि किसी चुनी गई तारीख की सीमा में, किसी व्यक्ति ने मोबाइल और डेस्कटॉप पर, आपके विज्ञापन को दो बार देखा. इस व्यक्ति ने आपका विज्ञापन दो बार देखा है, इसलिए उसे फ़्रीक्वेंसी बकेट “1+” और “2+” में शामिल किया जाएगा.

पहुंच से जुड़ी दूसरी मेट्रिक से अलग, फ़्रीक्वेंसी के बंटवारे को सिर्फ़ 31 दिन या इससे कम की तारीख की सीमा के लिए रिपोर्ट किया जा सकता है. अगर आप 31 दिन से ज़्यादा की तारीख की सीमा चुनते हैं, तो आपको आंकड़ों की टेबल में, फ़्रीक्वेंसी का बंटवारा नहीं दिखेगा.

फ़्रीक्वेंसी का बंटवारा, इंप्रेशन की औसत फ़्रीक्वेंसी / उपयोगकर्ता से अलग होता है. इंप्रेशन की औसत फ़्रीक्वेंसी / उपयोगकर्ता से पता चलता है कि कैंपेन में, लोगों ने आपके विज्ञापन को औसतन कितनी बार देखा. जबकि, फ़्रीक्वेंसी के बंटवारे से पता चलता है कि आपके विज्ञापन को कितने लोगों ने देखा और कितनी बार देखा. उदाहरण के लिए, आपके कैंपेन में इंप्रेशन की औसत फ़्रीक्वेंसी / उपयोगकर्ता, 2.5 बार हो सकती है. जबकि, उस कैंपेन के लिए रिपोर्ट किए गए, फ़्रीक्वेंसी के बंटवारे में आपको दिख सकता है कि विज्ञापन को 50,000 लोगों ने दो बार, 30,000 लोगों ने तीन बार देखा. साथ ही, इस तरह के और भी आंकड़े दिख सकते हैं.

फ़्रीक्वेंसी के बंटवारे पर फ़्रीक्वेंसी कैप के असर

अगर आप कैंपेन पर फ़्रीक्वेंसी कैप सेट करते हैं, तो रिपोर्ट किए गए, फ़्रीक्वेंसी के बंटवारे का मान, फ़्रीक्वेंसी कैप से ज़्यादा दिख सकता है. इसकी कुछ संभावित वजहें यहां बताई गई हैं:

  • फ़्रीक्वेंसी कैप, कुकी के हिसाब से लागू होती हैं, यूनीक उपयोगकर्ताओं के हिसाब से नहीं. एक से ज़्यादा ब्राउज़र या कंप्यूटर का इस्तेमाल करने पर, लोगों को एक से ज़्यादा बार गिना जा सकता है (जिनमें अलग-अलग कुकी का इस्तेमाल होता है). 
  • Google Ads में आप तारीख की जो सीमा चुनते हैं उसके हिसाब से, रिपोर्ट की गई फ़्रीक्वेंसी बढ़ सकती है. उदाहरण के लिए, अगर आपने Google Ads में तारीख की सीमा, दो हफ़्ते की चुनी है और कैंपेन में, हर व्यक्ति के लिए हर हफ़्ते तीन इंप्रेशन की फ़्रीक्वेंसी कैप तय की है, तो आपको हर व्यक्ति के लिए ज़्यादा से ज़्यादा छह इंप्रेशन दिख सकते हैं.
  • Google Ads में रिपोर्ट की गई फ़्रीक्वेंसी में, आपको फ़्रीक्वेंसी कैप के मुकाबले ज़्यादा इंप्रेशन दिख सकते हैं. Google Ads, कैंपेन की फ़्रीक्वेंसी कैप के लिए इंप्रेशन की गिनती तब से शुरू करेगा, जब कोई व्यक्ति आपके विज्ञापन को पहले दिन देखता है (जो आपके कैंपेन की शुरुआत में, बीच में या उसके खत्म होने के आस-पास हो सकता है). उदाहरण के लिए, अगर आपने हर हफ़्ते के लिए तीन इंप्रेशन की फ़्रीक्वेंसी कैप तय की है और आप चार दिन की तारीख की सीमा का डेटा देख रहे हैं, तो इसमें, फ़्रीक्वेंसी कैप की दो अवधियां कवर हो सकती हैं.

फ़्रीक्वेंसी के बंटवारे को Google Ads रिपोर्टिंग में जोड़ना

Google Ads के आंकड़ों की टेबल में, आप किसी कैंपेन के लिए फ़्रीक्वेंसी का बंटवारा देख सकते हैं. फ़्रीक्वेंसी का बंटवारा देखने के लिए, Google Ads में, “फ़्रीक्वेंसी का बंटवारा” वाला कॉलम जोड़ें.

  1. Google Ads खाते में साइन इन करें.
  2. बाईं ओर मौजूद नेविगेशन मेन्यू में, वीडियो कैंपेन पर क्लिक करें.
  3. आंकड़ों की टेबल के ऊपर मौजूद, कॉलम के आइकॉन कॉलम पर क्लिक करें.
  4. मेन्यू में, पहुंच से जुड़ी मेट्रिक पर क्लिक करें.
  5. फ़्रीक्वेंसी का बंटवारा के बगल में मौजूद बॉक्स पर क्लिक करें.
  6. (ज़रूरी नहीं) आने वाले समय में कॉलम सेट का इस्तेमाल करने के लिए, "कॉलम सेट को सेव करें” वाले फ़ील्ड पर क्लिक करें. साथ ही, कॉलम सेट के लिए नाम डालें.
  7. लागू करें पर क्लिक करें. आपके वीडियो कैंपेन के लिए फ़्रीक्वेंसी का बंटवारा, अब Google Ads में आंकड़ों की टेबल में दिखता है. यह बंटवारा, छह अलग-अलग फ़्रीक्वेंसी बकेट (“1+”, “2+”, “3+”, “4+”, “5+”, और “ 10+”) में बंटा होता है. 
  8. किसी खास अवधि का डेटा देखने के लिए, पेज के ऊपरी कोने में मौजूद, तारीख की सीमा चुनने के विकल्प पर क्लिक करें. इसके बाद, तारीख की सीमा चुनें. आप ज़्यादा से ज़्यादा 31 दिन की सीमा चुन सकते हैं.
  9. Google Ads के, “फ़्रीक्वेंसी का बंटवारा” वाले कॉलम में किसी मान पर माउस घुमाने पर, एक हिस्टोग्राम दिखेगा. यह हिस्टोग्राम बताता है कि समय के साथ-साथ, फ़्रीक्वेंसी का बंटवारा किस तरह बदलता है.
     
    ध्यान दें: हिस्टोग्राम में मौजूद डेटा, तारीख की सीमा में चुनी गई तारीखों के लिए होता है. इसमें पूरे कैंपेन का डेटा नहीं होता.

इसी विषय से जुड़े कुछ लिंक

क्या यह उपयोगी था?
हम उसे किस तरह बेहतर बना सकते हैं?

और मदद चाहिए?

मदद के दूसरे तरीकों के लिए साइन इन करें ताकि आपकी समस्या झटपट सुलझ सके