परफ़ॉर्मेंस प्लानर की जानकारी

अगर आप बाज़ार में हो रहे बदलावों से प्रभावित हैं, तो हमारा सुझाव है कि आप हर महीने या तीन महीनों के हिसाब से योजना बनाने के बजाय इसे हफ़्ते के हिसाब से बनाएं.
 
परफ़ॉर्मेंस प्लानर के पूर्वानुमान रोज़ाना रीफ़्रेश किए जाते हैं और इनमें पिछले 7-10 दिनों के आधार पर खास मौसम के हिसाब बदलाव किए जाते हैं. आपके पूर्वानुमान इस समयावधि के दौरान बाज़ार में होने वाले बदलावों के किसी भी प्रभाव को ध्यान में रखेंगे. बाज़ार की मौजूदा स्थितियों के लिए हमने अपने मौसमी मॉडल में बदलाव किया है.

परफ़ॉर्मेंस प्लानर एक ऐसा टूल है जिसकी मदद से आप विज्ञापन पर होने वाले खर्च के लिए योजनाएं बना सकते हैं. साथ ही, यह जान सकते हैं कि कैंपेन में होने वाले बदलावों से मुख्य मेट्रिक और पूरी परफ़ॉर्मेंस पर क्या असर पड़ सकता है.

परफ़ॉर्मेंस प्लानर का इस्तेमाल करके, आप ये काम कर सकते हैं:

  • अपने कैंपेन के लिए पूर्वानुमान देखें.
  • कैंपेन सेटिंग में बदलाव करके नतीजों को देखें .
  • खास सीज़न के दौरान, उसके मुताबिक अवसरों के बारे में जान सकते हैं.
  • सभी खातों और कैंपेन के बजट को मैनेज कर सकते हैं.

फ़ायदे

  • अपने कैंपेन की हर महीने और तिमाही की परफ़ॉर्मेंस देखें.
  • ऐसे सुझाव पाएं जिनकी मदद से आपके कैंपेन उसी खर्च में बेहतर परफ़ॉर्म कर सकते हैं. 
  • पता लगाएं कि अपनी कैंपेन सेटिंग में बदलाव करने पर आपके खर्च और परफ़ॉर्मेंस लक्ष्यों पर क्या असर पड़ेगा.

यह कैसे काम करता है

परफ़ॉर्मेंस प्लानर अरबों सर्च क्वेरी को ध्यान में रखता है, ताकि जितना हो सके उतना सटीक अनुमान आपको मिल सके. आम तौर पर इसे हर 24 घंटे में अपडेट किया जाता है. परफ़ॉर्मेंस प्लानर पिछले 7-10 दिनों की ज़रूरी विज्ञापन नीलामियों को सिम्युलेट करता है. इसमें किसी खास मौसम के, प्रतिस्पर्धी गतिविधि, और लैंडिंग पेज जैसे वैरिएबल शामिल होते हैं.

सिम्युलेशन चलाने और डेटा इकट्ठा करने के बाद, परफ़ॉर्मेंस प्लानर के अनुमानों के सटीक होने का आकलन, उनके वास्तविक अंतिम परफ़ॉर्मेंस के लिए चलने वाले कैंपेन के लिए किया जाता है. साथ ही, मशीन लर्निंग का इस्तेमाल करके आपके अनुमानों को बेहतर बनाया जाता है.

परफ़ॉर्मेंस प्लानर आपकी Google Ads परफ़ॉर्मेंस रिपोर्ट के "कन्वर्ज़न" कॉलम में मौजूद कन्वर्ज़न प्रकारों के आधार पर कन्वर्ज़न का अनुमान लगाता है. खाता, कैंपेन, और विज्ञापन ग्रुप की परफ़ॉर्मेंस के बारे में ज़्यादा जानें

मैनेजर खातों के लिए भी परफ़ॉर्मेंस प्लानर उपलब्ध है.

अगर आपके कैंपेन में पूर्वानुमान बनाने के लिए ज़रूरी संख्या में कन्वर्ज़न नहीं हैं, लेकिन उनके पास काफ़ी क्लिक हैं, तो आप मैन्युअल रूप से कन्वर्ज़न दर डालकर कन्वर्ज़न पूर्वानुमान देख सकते हैं.

ज़रूरी शर्तें

आपके कैंपेन, परफ़ॉर्मेंस प्लानर का इस्तेमाल कर सकते हैं या नहीं, यह जानने के लिए नीचे दी गई टेबल देखें.

इन कैंपेन को मंज़ूरी दी जाएगी इन कैंपेन को मंज़ूरी नहीं मिलेगी
  • वे सर्च कैंपेन जो मैन्युअल तौर पर हर क्लिक की लागत (सीपीसी), बेहतर सीपीसी, क्लिक बढ़ाएं, कन्वर्ज़न बढ़ाएं, विज्ञापन खर्च पर रिटर्न के टारगेट (आरओएएस) या हर कार्रवाई के लिए खर्च के टारगेट (सीपीए) वाली बोली लगाने की रणनीति का इस्तेमाल करते हैं
    • जो कम से कम 72 घंटे से चल रहे हों
    • जिन्हें पिछले सात दिनों में कम से कम तीन क्लिक मिले हों
    • जिन्हें पिछले सात दिनों में कम से कम एक कन्वर्ज़न मिला हो (अगर कैंपेन, कन्वर्ज़न पर फ़ोकस करते हैं)
  • शॉपिंग कैंपेन (स्मार्ट और स्टैंडर्ड)
    • जिन्हें पिछले सात दिनों में, कम से कम 100 कन्वर्ज़न और/या कन्वर्ज़न वैल्यू मिली हों
    • जिन्हें पिछले 10 दिनों में, कम से कम 10 कन्वर्ज़न और/या कन्वर्ज़न वैल्यू मिली हों.
    • जो पिछले 10 दिनों में, हर रोज़ चालू रहे हों और उन पर कम से कम 10 डॉलर या इससे ज़्यादा बजट खर्च किया गया हो
    • स्टैंडर्ड शॉपिंग कैंपेन (सिर्फ़) पर टारगेट आरओएएस - पिछले 10 दिनों में किसी भी दिन सीमित बजट की वजह से असर नहीं पड़ा हो 
  • जो मिटा दिए गए हों
  • जिनमें ज़रूरी शर्तों को पूरा करने के लिए बदलाव किए गए हों, लेकिन नई सेटिंग के लागू होने के बाद अभी 10 दिन पूरे नहीं हुए हों
  • जो ड्राफ़्ट या प्रयोग की स्थिति में हों
क्या यह उपयोगी था?
हम उसे किस तरह बेहतर बना सकते हैं?

और मदद चाहिए?

मदद के दूसरे तरीकों के लिए साइन इन करें ताकि आपकी समस्या झटपट सुलझ सके