लैंडिंग पेजों की परफ़ॉर्मेंस की जांच करना

इस लेख में इन विषयों के बारे में बताया गया है


लैंडिंग पेज अहम क्यों होते हैं

विज्ञापनों पर क्लिक करने के बाद, ग्राहक आपकी वेबसाइट के जिस पेज पर पहुंचते हैं उसे लैंडिंग पेज कहते हैं. अच्छी जानकारी देने वाले लैंडिंग पेज, आपके Google Ads ट्रैफ़िक से कन्वर्ज़न पाने में अहम भूमिका निभाते हैं. अपने मोबाइल विज्ञापनों से बेहतर नतीजे पाने का सबसे अच्छा और आसान तरीका, अपने लैंडिंग पेजों के खुलने की स्पीड को बढ़ाना है.

लैंडिंग पेजों की परफ़ॉर्मेंस की नियमित तौर पर जांच की जानी चाहिए, ताकि यह पता चल सके कि लोग आपके वेबपेजों के साथ कैसे इंटरैक्ट कर रहे हैं. इस जानकारी को देखने के लिए “लैंडिंग पेज” सेक्शन है.

उदाहरण के लिए, खुदरा कारोबार के मामलों में हमने देखा है कि मोबाइल पर लैंडिंग पेज खुलने में एक सेकंड की देरी से, मोबाइल कन्वर्ज़न पर 20 प्रतिशत तक असर पड़ सकता है.


यह कैसे काम करता है

"लैंडिंग पेज" वाले पेज पर उन सभी पेजों की परफ़ॉर्मेंस का डेटा दिखता है जिन पर विज्ञापनों से ट्रैफ़िक भेजा जा रहा है. इस पेज से सर्च, डिसप्ले, वीडियो, और शॉपिंग कैंपेन के सभी लैंडिंग पेज यूआरएल की जानकारी मिलती है. सर्च कैंपेन के लिए, “लैंडिंग पेज” रिपोर्ट में हेडलाइन यूआरएल के साथ-साथ साइटलिंक यूआरएल भी दिखता है. इस रिपोर्ट में, जनवरी 2021 से दिखाए गए सभी विज्ञापनों के साइटलिंक यूआरएल दिखाए जाते हैं.

सर्च कैंपेन के लिए, “लैंडिंग पेज” रिपोर्ट के बारे में कुछ ज़रूरी बातें:

  • एक ही विज्ञापन इंप्रेशन के लिए, एक से ज़्यादा साइटलिंक दिख सकते हैं. इसे ध्यान में रखते हुए रिपोर्ट में, कुल इंप्रेशन के तौर पर सिर्फ़ यूनीक विज्ञापन इंप्रेशन की गिनती की जाती है.

“लैंडिंग पेज” वाले पेज पर, ये चीज़ें की जा सकती हैं:

  • अपने हर लैंडिंग पेज से जुड़े, एक्सपैंडेड लैंडिंग पेज देखना.
  • यह पता लगाना कि आपका कौनसा लैंडिंग पेज, मोबाइल डिवाइस पर बेहतर अनुभव दे सकता है.
  • यह देखना कि पेज मोबाइल-फ़्रेंडली है या नहीं. इसके अलावा, यह भी देखना कि पेज, Accelerated Mobile Page (एएमपी) के तौर पर लोड होता है या नहीं.

Google Ads में लैंडिंग पेज की परफ़ॉर्मेंस

अपनी भाषा में सबटाइटल देखने के लिए, YouTube कैप्शन चालू करें. इसके लिए, वीडियो प्लेयर में सबसे नीचे मौजूद "सेटिंग" आइकॉन YouTube सेटिंग आइकॉन की इमेज को चुनें. इसके बाद, "सबटाइटल" पर क्लिक करें और अपनी भाषा चुनें.


निर्देश

ध्यान दें: नीचे दिए गए निर्देश, Google Ads के नए वर्शन को ध्यान में रखकर तैयार किए गए हैं. पिछले वर्शन का इस्तेमाल करने के लिए, "थीम" आइकॉन पर क्लिक करें और पिछले वर्शन का यूज़र इंटरफ़ेस (यूआई) इस्तेमाल करें चुनें. अगर Google Ads के पिछले वर्शन का इस्तेमाल किया जा रहा है, तो किसी पेज को खोजने के लिए, Google Ads में उपलब्ध प्रमुख सुविधाओं को झटपट ढूंढने की सुविधा या सबसे ऊपर मौजूद नेविगेशन पैनल में खोज बार का इस्तेमाल करें.
  1. Google Ads खाते में साइन इन करें.
  2. कैंपेन Campaigns Icon पर क्लिक करें. इसके बाद, अहम जानकारी और रिपोर्ट पर क्लिक करें.
  3. लैंडिंग पेज पर क्लिक करें. “मोबाइल फ़्रेंडली क्लिक रेट” और “मान्य एएमपी क्लिक रेट” कॉलम में देखें कि किन पेजों को मोबाइल डिवाइसों के लिए ऑप्टिमाइज़ नहीं किया गया है.
    • अगर कोई लैंडिंग पेज Google की मोबाइल फ़्रेंडली जांच में हर बार मोबाइल फ़्रेंडली नहीं माना जाता है, तो “मोबाइल फ़्रेंडली क्लिक रेट” का कॉलम 100% से कम होगा. अगर किसी पेज को मोबाइल डिवाइस से कोई क्लिक नहीं मिलता है, तो कॉलम में वैल्यू "—" होगी.
    • जब लोग आपके विज्ञापन पर क्लिक करते हैं, तब अगर कोई लैंडिंग पेज हमेशा किसी मान्य एएमपी पेज के तौर पर लोड नहीं होता, तो “मान्य एएमपी क्लिक रेट” का कॉलम 100% से कम होगा. अगर किसी पेज में एएमपी मार्कअप नहीं है, तो कॉलम में वैल्यू "—" होगी.
  4. लैंडिंग पेज लिंक के नीचे, एक्सपैंडेड लैंडिंग पेजों को देखें पर क्लिक करें. इसके बाद, उस लैंडिंग पेज के लिए एक्सपैंडेड लैंडिंग पेज यूआरएल की सूची दिखेगी.
    • “मोबाइल फ़्रेंडली क्लिक रेट” कॉलम में, जांच करें पर क्लिक करें, ताकि किसी अलग विंडो में मौजूद पेज के लिए Google की मोबाइल-फ़्रेंडली जांच को लॉन्च किया जा सके.
    • “मान्य एएमपी क्लिक रेट” कॉलम में, जांच करें पर क्लिक करें, ताकि किसी अलग विंडो में मौजूद पेज के लिए एएमपी वैलिडेटर टेस्ट को लॉन्च किया जा सके.
  5. यह जानने के लिए कि किन पेजों से लोगों ने सबसे ज़्यादा इंटरैक्ट किया है, “क्लिक”, “इंप्रेशन”, और “क्लिक मिलने की दर” (सीटीआर) कॉलम देखें. दूसरी Google Ads रिपोर्ट की तरह, इन कॉलम में मौजूद डेटा को सेगमेंट और फ़िल्टर किया जा सकता है. इसके अलावा, पूरी टेबल डाउनलोड और सेव की जा सकती है.
  6. एक से ज़्यादा एक्सपैंडेड लैंडिंग पेज के लिए देखने के लिए:
    1. दो या उनसे ज़्यादा लैंडिंग पेजों के बगल में मौजूद बॉक्स चुनें.
    2. टेबल के ऊपर नीला बार दिखने पर, एक्सपैंडेड लैंडिंग पेजों को देखें पर क्लिक करें.

लैंडिंग पेजों की परफ़ॉर्मेंस देखने का तरीका

Google Ads खाते में साइन इन करने के बाद, बाईं ओर पेज मेन्यू में लैंडिंग पेज चुनकर, लैंडिंग पेजों की परफ़ॉर्मेंस का आकलन किया जा सकता है.

एक से ज़्यादा लैंडिंग पेज के एक्सपैंडेड लैंडिंग पेजों को देखने के लिए, दो या ज़्यादा लैंडिंग पेजों के बगल में मौजूद बॉक्स चुनें. टेबल के ऊपर नीला बार दिखने पर एक्सपैंडेड लैंडिंग पेजों को देखें चुनें.

लैंडिंग पेजों का आकलन करने के तरीके यहां दिए गए हैं.


मोबाइल ऑप्टिमाइज़ेशन की जांच करना

यह जानने के लिए कि कौनसे पेज मोबाइल डिवाइस के लिए ऑप्टिमाइज़ नहीं किए गए हैं, "मोबाइल फ़्रेंडली क्लिक रेट" और "मान्य एएमपी क्लिक रेट" कॉलम देखें.

मोबाइल फ़्रेंडली क्लिक रेट: अगर Google की मोबाइल फ़्रेंडली जांच में हर बार किसी लैंडिंग पेज को मोबाइल फ़्रेंडली नहीं माना जाता है, तो “मोबाइल फ़्रेंडली क्लिक रेट” का कॉलम 100% से कम होगा. अगर किसी पेज को मोबाइल डिवाइस से कोई क्लिक नहीं मिलता है, तो कॉलम में वैल्यू "—" होगी.

मान्य एएमपी क्लिक रेट: अगर आपके विज्ञापन पर क्लिक किया जाता है और कोई लैंडिंग पेज हमेशा मान्य एएमपी पेज के तौर पर लोड न हो, तो ऐसे में “मान्य एएमपी क्लिक रेट” का कॉलम 100% से कम होगा. अगर किसी पेज में एएमपी मार्कअप नहीं है, तो कॉलम में वैल्यू "—" होगी.

लैंडिंग पेजों को टेस्ट करना

लैंडिंग पेज लिंक के नीचे, एक्सपैंडेड लैंडिंग पेजों को देखें चुनें. इसके बाद, उस लैंडिंग पेज के लिए एक्सपैंडेड लैंडिंग पेज यूआरएल की सूची दिखेगी.

“मोबाइल फ़्रेंडली क्लिक रेट” कॉलम में, जांच करें पर क्लिक करें, ताकि किसी अलग विंडो में मौजूद पेज के लिए Google की मोबाइल-फ़्रेंडली जांच को लॉन्च किया जा सके.

“मान्य एएमपी क्लिक रेट” कॉलम में टेस्ट करें को चुनें, ताकि किसी अलग विंडो में मौजूद पेज के लिए एएमपी वैलिडेटर टेस्ट को लॉन्च किया जा सके.

सबसे ज़्यादा देखे गए पेजों के बारे में पता करना

यह जानने के लिए कि किन पेजों से लोगों ने सबसे ज़्यादा इंटरैक्ट किया है, “क्लिक”, “इंप्रेशन”, और “क्लिक मिलने की दर” (सीटीआर) कॉलम देखें. दूसरी Google Ads रिपोर्ट की तरह, इन कॉलम में मौजूद डेटा को सेगमेंट और फ़िल्टर किया जा सकता है. इसके अलावा, पूरी टेबल डाउनलोड और सेव की जा सकती है.
  1. Google Ads खाते में साइन इन करें.
  2. पहले कैंपेन Campaigns Icon और उसके बाद अहम जानकारी और रिपोर्ट पर क्लिक करें. इसके बाद, खोज के लिए इस्तेमाल हुए शब्द पर क्लिक करें.

आपको रिपोर्ट में, खोज के लिए बड़ी संख्या में इस्तेमाल हुए ऐसे शब्दों का डेटा दिखेगा जिनसे इंप्रेशन और क्लिक ट्रिगर हुए हैं.

इन सुविधाओं का भी इस्तेमाल किया जा सकता है:

कॉलम बटन Google Ads कॉलम आइकॉन की इमेज इससे, खोज के लिए इस्तेमाल हुए शब्दों की परफ़ॉर्मेंस रिपोर्ट में बदलाव किया जा सकता है और यह भी तय किया जा सकता है कि कौनसे कॉलम दिखें. साथ ही, रिपोर्ट में कॉलम जोड़े और हटाए जा सकते हैं या उनके क्रम बदले जा सकते हैं. इसका इस्तेमाल करके कॉलम सेट को सेव और बदलावों को लागू किया जा सकता है.
डाउनलोड बटन Google Ads और Merchant Center के लिए डाउनलोड आइकॉन की तस्वीर इससे, रिपोर्ट में डेटा डाउनलोड करने में मदद मिलती है. इस बटन पर क्लिक करने पर आपको एक सूची दिखेगी, जिसमें दिए गए फ़ॉर्मैट में डेटा को डाउनलोड किया जा सकता है.
सेगमेंट बटन सेगमेंट इससे टेबल को समय, कन्वर्ज़न, डिवाइस (जिसमें विज्ञापन दिखाया गया था) या नेटवर्क के हिसाब से अलग-अलग किया जा सकता है.
बड़ा करें
बटन Enlarge
इसकी मदद से, खोजे गए शब्दों की परफ़ॉर्मेंस रिपोर्ट वाली टेबल को बड़ा किया जा सकता है. पिछले व्यू पर वापस जाने के लिए, 'छोटा करें' बटन पर क्लिक करें.

क्या यह उपयोगी था?

हम उसे किस तरह बेहतर बना सकते हैं?
खोजें
खोज हटाएं
खोज बंद करें
Google ऐप
मुख्य मेन्यू