खाते के बजट के बारे में जानकारी

खाता के बजट को पहले बजट ऑर्डर कहा जाता था. इनका इस्तेमाल विज्ञापन देने वाले वे लोग करते थे जो महीने के इनवॉइस से पैसे चुकाते हैं. जब आप खाते का बजट तय करते हैं, तो आप खास समय अवधि में खर्च करने के लिए खास रकम तय करते हैं. इस सुविधा से आप कैंपेन के रोज़ के औसत बजट के साथ-साथ कीमतें भी कंट्रोल कर सकते हैं.

उदाहरण के लिए, कोई एजेंसी किसी क्लाइंट के खाते में हर महीने खर्च करने के लिए एक खास रकम तय कर सकती है. वे कैंपेन के लिए रोज़ का औसत बजट तय कर सकते हैं. साथ ही, खाते का बजट तय करके यह पक्का कर सकते हैं कि क्लाइंट के खाते के लिए महीने की कीमतें, उस रकम से ज़्यादा नहीं होंगी.

पुराना बजट देखना

हम Google Ads का नया अनुभव शुरू कर रहे हैं, इसलिए आपको खाते के बजट पेज में कुछ बदलाव दिखेंगे. पुराने AdWords में, आपके बजट के बदलाव का इतिहास बजट विवरण पेज पर दिखाई देता था. नए Google Ads में यह जानकारी 'बदलाव का इतिहास' पेज पर दिखाई देगी.

महत्वपूर्ण: नए Google Ads पर अदला-बदली पूरी हो जाने के बाद, अदला-बदली से पहले के सभी बदलाव के इतिहास का डेटा एक्सेस नहीं किया जा सकेगा. इस जानकारी तक आपकी भावी एक्सेस को पक्का करने के लिए, हम आपको अपनी बजट तालिका के नीचे दिए गए लिंक, बजट के संग्रहित बदलाव का इतिहास डाउनलोड करें का इस्तेमाल करके अपना बजट इतिहास डाउनलोड करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं. सिर्फ़ 2017 और इसके बाद का डेटा डाउनलोड किया जा सकता है.

हरे + (प्लस का निशान) या लाल - (माइनस का निशान) के बाद वाली रकम

कभी-कभी, आपके खाते का बजट हरे + (प्लस निशान) या लाल - (माइनस निशा) के साथ दिख सकता है. यहां उनका मतलब बताया गया है.

हरा + (प्लस का निशान)

रकम, दो मामलों में हरे + (प्लस का निशान) के साथ दिख सकती है: या तो आपके खाते में कोई क्रेडिट अडजेस्टमेंट लागू किया गया हो या हमने अमान्य क्लिक का पता लगाया हो, जिसके लिए आपको पैसे नहीं चुकाने होंगे. दोनों मामलों में, हरे + के बाद दिखने वाली रकम से यह पता चलता है कि खर्च करने के लिए अभी आपके पास और बजट है. इससे क्रेडिट अडजेस्टमेंट की रकम की भरपाई (ऑफ़सेट) होती है. 

हमारा सिस्टम आपके बजट की उस रकम का हिसाब लगाता है जो अमान्य क्लिक पर खर्च हुई थी. आपसे अमान्य क्लिक के पैसे नहीं लिए जाएंगे, इसलिए हमारा सिस्टम उन पर खर्च हुई रकम को वापस आपके बजट में जोड़ देगा. इस सुविधा से आपकी सिर्फ़ उतनी रकम खर्च होती है जितनी आप वाकई करना चाहते थे.

लाल - (माइनस का निशान)

लाल - (माइनस का निशान) के बाद, वह रकम दिखती है जिसे अभी इस्तेमाल नहीं किया जा सकता. आम तौर पर ऐसा तब होता है जब आपने हाल ही में मौजूदा बजट बढ़ाया हो और वह अब तक पूरी तरह से प्रोसेस न हुआ हो. बजट की यह स्थिति कुछ समय तक दिखती है. साथ ही, उपलब्ध बजट लाइन में नया बजट जुड़ते ही यह सूचना हट जाती है.

कैंपेन का रोज़ का औसत बजट और आपके खाते का बजट

खाते का बजट, आपके सभी कैंपेन के लिए सिर्फ़ खर्च की सीमा तय करता है. अगर कैंपेन, खाते का बजट खत्म होने की तारीख से पहले ही सारी रकम खर्च कर देता है, तो खाते के सभी विज्ञापन रुक जाएंगे. खाते का बजट तय करने से, आपकी कीमतें सभी कैंपेन के बीच नहीं बंटती. साथ ही, तय समय सीमा खत्म होने से पहले ही आपका बजट खत्म हो सकता है. इसके लिए, आपको कैंपेन का रोज़ का औसत बजट तय करना होगा.

उदाहरण

मान लें कि आपके Google Ads खाते में दो कैंपेन हैं. आप 1 अप्रैल से 30 अप्रैल की अवधि के लिए खाते का बजट ₹75,000 तय करते हैं. अगर आपका खाता 1 अप्रैल के बाद और 30 अप्रैल से पहले ही ₹75,000 खर्च कर देता है, तो आपके विज्ञापन रुक जाएंगे. साथ ही, वे तब तक रुके रहेंगे, तब तक आप उसके लिए और बजट नहीं तय कर देते.

अगर आप यह पक्का करना चाहते हैं कि ₹75,000 की रकम पूरे 30 दिन तक चले, तो आपको कैंपेन के लिए रोज़ का औसत बजट इस्तेमाल करना होगा. सबसे पहले, यह तय करें कि आप हर कैंपेन पर कितना खर्च करना चाहते हैं. इस मामले में, आप #1 कैंपेन पर ₹56,250 और #2 कैंपेन पर ₹18,750 खर्च करना चाहते हैं. इसके बाद, हर रकम को 30 से भाग देकर अपना रोज़ का औसत बजट पता लगा सकते हैं:

  1. ₹56,250/30 = ₹2,250
  2. ₹18,750/30 = ₹625

आप #1 कैंपेन के लिए ₹2,250 और #2 कैंपेन के लिए ₹625 का रोज़ का औसत बजट तय करते हैं.

याद रखें

  • बजट कॉलम में, आप बजट के लिए अनुरोध या स्वीकार की गई कुल रकम देख सकते हैं. बजट पहले से तय नहीं है. इसका यह मतलब है कि आपने सभी Google Ads कैंपेन के कोई खास रकम तय नहीं की है. इसके बजाय, अगर आपने हर कैंपेन के लिए रोज़ का औसत बजट तय किया है, तो आपको यहां असीमित लिखा दिखेगा.
  • खर्च कॉलम में, आप वह कुल रकम देख सकते हैं जो अब तक बजट से खर्च हो चुकी है. साथ ही, अगर आपके बजट में कोई क्रेडिट (जैसे कि ओवर डिलीवरी क्रेडिट) जोड़ा गया है, तो इस कॉलम में, बजट के कॉलम से ज़्यादा रकम दिख सकती है. खर्च की रकम के नीचे दिखेगा कि लागू बजट की कितने प्रतिशत रकम खर्च हुई है.
क्या यह उपयोगी था?
हम उसे किस तरह बेहतर बना सकते हैं?

और मदद चाहिए?

मदद के दूसरे तरीकों के लिए साइन इन करें ताकि आपकी समस्या झटपट सुलझ सके