संसाधन रिकॉर्ड के बारे में

संसाधन रिकॉर्ड ऐसे हार्डवेयर और सॉफ़्टवेयर घटकों के बारे में DNS-आधारित जानकारी देते हैं जो आपके डोमेन (होस्ट, नाम सर्वर, वेब सर्वर, ईमेल सर्वर) की ओर संकेत करते हैं और उसकी सुविधा देते हैं.

हर एक संसाधन रिकॉर्ड में फ़ील्ड का एक सेट होता है:

  • नाम — रिकॉर्ड का नाम या उसके मालिक की जानकारी दिखाने वाला लेबल. यह रूट डोमेन (जिसे @ से दिखाया जाता है) या उप डोमेन (जैसे कि “www”) हो सकता है.
  • प्रकार — रिकॉर्ड का प्रकार. उदाहरण के लिए, A (पता) रिकॉर्ड.
  • TTL — (लाइव होने का समय) कैश (स्थानीय मेमोरी) में संग्रहित रिकॉर्ड की एक कॉपी को कितनी बार अपडेट (मूल मेमोरी से लाना) या खारिज किया जाना चाहिए. ज़्यादा छोटे TTL का मतलब है कि रिकॉर्ड ज़्यादा बार (एक्सेस धीमा होता है, डेटा ज़्यादा नया होता है) लाए जाते हैं. ज़्यादा बड़े TTL का मतलब है कि रिकॉर्ड कम बार (एक्सेस ज़्यादा तेज़ होता है, डेटा कम नया होता है) लाए जाते हैं. डिफॉल्ट मान 1 घंटा है.
    नोट: जब आप किसी संसाधन रिकॉर्ड में बदलाव करते हैं, तो बदलाव को लागू होने में TTL के समय जितना समय लग सकता है. जब आप एक नया संसाधन रिकॉर्ड जोड़ते हैं, तो वह 5 मिनट के अंदर इंटरनेट दर्शकों को दिखाई देने लगेगा.
  • डेटा — रिकॉर्ड का डेटा, जो रिकॉर्ड के प्रकार पर निर्भर करते हुए अलग होता है. उदाहरण के लिए, A रिकॉर्ड के किसी होस्ट का IP पता. ध्यान रखें कि यह वही डेटा है जो DNS खोज के दौरान मिलता है.

नोट: Google Domains डिफ़ॉल्ट रूप से IN इंटरनेट क्लास की सुविधा देता है; इसलिए, क्लास फ़ील्ड शामिल नहीं है.

संसाधन रिकॉर्ड प्रकार

यहां बताए गए DNS संसाधन रिकॉर्ड के अलावा, Google Domains ऐसे सिंथेटिक रिकॉर्ड की भी सुविधा देता है जो संसाधन रिकॉर्ड की कार्यक्षमता बढ़ाते हैं. अधिक जानकारी के लिए, सिंथेटिक रिकॉर्ड देखें.

A

A (IPv4 पता) रिकॉर्ड किसी होस्ट के डोमेन नाम को उस होस्ट के IP पते से मैप (नाम-से-पता मैपिंग) करते हैं.

@ A 1h 123.123.123.123

नोट: A रिकॉर्ड और AAAA रिकॉर्ड एक जैसे फ़ंक्शन करते हैं. A रिकॉर्ड IP वर्शन 4 (IPv4) पतों से मैप करते हैं. AAAA रिकॉर्ड IP वर्शन 6 (IPv6) पतों से मैप करते हैं.

AAAA

AAAA (IPv6 पता) रिकॉर्ड होस्ट के डोमेन नाम को उस होस्ट के IP पते से मैप (नाम-से-पता मैपिंग) करते हैं.

www AAAA 1h 2002:db80:1:2:3:4:567:89ab

नोट: A रिकॉर्ड और AAAA रिकॉर्ड एक जैसे फ़ंक्शन करते हैं. A रिकॉर्ड IP वर्शन 4 (IPv4) पतों से मैप करते हैं. AAAA रिकॉर्ड IP वर्शन 6 (IPv6) पतों से मैप करते हैं.

CAA

एक प्रमाणन प्राधिकरण अनुमति (CAA) रिकॉर्ड यह बताता है कि क्या आप, डोमेन मालिक, एक DNS संसाधन रिकॉर्ड का इस्तेमाल करते हुए अपने डोमेन के लिए प्रमाणपत्र जारी करने के लिए प्रमाणपत्र प्राधिकरण की अनुमति देते हैं.

उदाहरण: ऐना चाहती है कि "चलो सुरक्षित करें" प्रमाणपत्र प्राधिकरण, उसके डोमेन, example.com, और इसके उपडोमेन के लिए प्रमाणपत्र जारी कर सके. वह नहीं चाहती कि अन्य प्राधिकरण प्रमाण पत्र जारी कर सकें. वह ऐसा CAA रिकॉर्ड बनाती है:

example.com. IN CAA 0 issue "letsencrypt.org"
हम सुझाव देते हैं कि आप सभी प्रमाणपत्र जारी करने की स्पष्ट रूप से अनुमति नहीं दें. उदाहरण के लिए, Google उत्पाद जैसे Blogger और Google मेरा व्यवसाय, Google Domains के साथ पंजीकृत डोमेन नाम के लिए SSL प्रावधान कर सकते हैं. हालांकि, Google यह प्रावधान करे इसके लिए, आपको CAA रिकॉर्ड को अस्वीकृत करने के लिए सेट नहीं करना होगा.
CNAME

CNAME (कैनोनिकल नाम) रिकॉर्ड किसी उपनाम डोमेन नाम को किसी कैनोनिकल (सही) डोमेन नाम से मैप करते हैं. आप एक से ज़्यादा उपनाम नामों को एक ही कैनोनिकल डोमेन से मैप कर सकते हैं (जिससे आपको एक ही स्थान में A या AAAA रिकॉर्ड IP पतों को सेट अप करने की अनुमति मिल जाती है).

इस उदाहरण में, www उपनाम डोमेन है और example.com कैनोनिकल डोमेन है (इसे A रिकॉर्ड का इस्तेमाल करके किसी IP पते से मैप किया गया है)..

www CNAME 1h example.com.
example.com. A 1h 123.123.123.123

इस उदाहरण में, www और FTP उपनाम डोमेन हैं और server1.example.com. कैनोनिकल डोमेन है (इसे A रिकॉर्ड का इस्तेमाल करके किसी IP पते से मैप किया गया है).

www CNAME 1h server1.example.com.
ftp CNAME 1h server1.example.com.
server1.example.com. A 1h 123.123.123.123

CNAME रिकॉर्ड रूट डोमेन के लिए सेट नहीं किए जा सकते हैं. साथ ही, किसी CNAME रिकॉर्ड का लक्ष्य कोई डोमेन नाम ही हो सकता है; पाथ की अनुमति नहीं है. अगर आप अपना रूट डोमेन रीडायरेक्ट करना चाहते हैं या अगर आपका इच्छित लक्ष्य कोई ऐसा URL है जिसमें कोई पाथ शामिल है, तो इनमें से कोई एक विकल्प आज़माएं:

  • CNAME के बजाय डोमेन अग्रेषण सुविधा (डोमेन अग्रेषण देखें) का इस्तेमाल करें.
  • एक जैसी प्रविष्टियों का इस्तेमाल करके अग्रेषण रिकॉर्ड बनाएं जिन्हें आप किसी CNAME (सिंथेटिक रिकॉर्ड देखें) में रखेंगे.
MX

MX (मेल एक्सचेंज) रिकॉर्ड किसी डोमेन नाम को उस डोमेन नाम के ईमेल पाने वाले मेल सर्वर से मैप करते हैं. MX रिकॉर्ड यह पता करते हैं कि किसी डोमेन को ईमेल भेजने के लिए दूसरे लोग कौन-कौन से मेल सर्वर का इस्तेमाल करते हैं.

किसी डोमेन के लिए एक से ज़्यादा MX रिकॉर्ड सेट अप किए जा सकते हैं, जिनमें से हर एक की प्राथमिकता संख्या होगी, जहां कम संख्याओं की प्राथमिकता अधिक होगी. नीचे दिए गए उदाहरण में, अगर अधिक प्राथमिकता (10) वाले होस्ट का इस्तेमाल करके मेल वितरित नहीं किया जा सकता हो, तो कम प्राथमिकता (20) वाले होस्ट का इस्तेमाल किया जाएगा.

@ MX 1h 10 mailhost1.example.com.
@ MX 1h 20 mailhost2.example.com.

अगर प्राथमिकता संख्याएं एक समान (10 और 10) हैं, तो MX रिकॉर्ड का इस्तेमाल होस्ट के बीच लोड संतुलित करने के लिए किया जा सकता है; कोई भी होस्ट मनचाहे तरीके से चुना जा सकता है.

@ MX 1h 10 mailhost1.example.com.
@ MX 1h 10 mailhost2.example.com.

नोट: Google Domains प्राथमिकता संख्या के लिए अलग से कोई फ़ील्ड उपलब्ध नहीं कराते. प्राथमिकता संख्या तय करने के लिए, डेटा फ़ील्ड में मान डालें उसके बाद मेल होस्ट डालें (10 mailhost1.example.com.).

NS

NS (नाम सर्वर) रिकॉर्ड किसी डोमेन या उप डोमेन नाम को किसी नाम सर्वर से मैप करते हैं. नाम सर्वर में डोमेन के नाम स्थान के बारे में आधिकारिक जानकारी होती है और वे डोमेन नामों को उनके संबंधित IP पतों (नाम सर्वर के ज़रिए संग्रहित संसाधन रिकॉर्ड का संदर्भ देते हुए) में बदलते हैं.

Google Domains में, आप सिर्फ़ उप डोमेन के लिए ही NS रिकॉर्ड बनाएंगे. आपके लिए आपके रूट डोमेन के NS रिकॉर्ड का प्रबंधन किया जाता है. अधिक जानकारी के लिए NS (नाम सर्वर) संसाधन रिकॉर्ड के बारे में देखें.

ns1 NS 1h ns-cloud1.googledomains.com.
ns2 NS 1h ns-cloud2.googledomains.com.
PTR

PTR (पॉइंटर) रिकॉर्ड किसी होस्ट के IP पते को किसी होस्ट के कैनोनिकल (सही) डोमेन नाम से मैप (पता-से-नाम मैपिंग) करते हैं. रिवर्स DNS लुकअप के नाम से जाना जाने वाला, IP पता उलटे क्रम में लिखा जाता है और उसे पते और रूटिंग पैरामीटर एरिया (arpa) डोमेन के आखिरी हिस्से के साथ जोड़ा जाता है.

PTR रिकॉर्ड का इस्तेमाल सुरक्षा डिवाइस और स्पैम-रोधी उपाय के रूप में किया जाता है; मेल और दूसरे प्रकार के सर्वर होस्ट की पहचान की पुष्टि करने के लिए रिवर्स DNS लुकअप कर सकते हैं.

आमतौर पर, आप PTR को Google Domains के ज़रिए प्रबंधित नहीं करेंगे, क्योंकि उन्हें आपके IP पता ब्लॉक के मालिक (आम तौर पर आपका ISP) की ओर से सेट किया जाना ज़रूरी होता है. इन रिकॉर्ड का अनुरोध करने के लिए, अलग-अलग IP ब्लॉक के मालिकों की अलग-अलग प्रक्रियाएं होती हैं. अधिक जानकारी के लिए कृपया अपने सेवा देने वाले से संपर्क करें.

Google Domains ऐसे PTR रिकॉर्ड की सुविधा देता है जो आपके डोमेन से संबंधित DNS ज़ोन में रखे जाते हैं, इनका उद्देश्य आपके ISP की ओर से ऐसे CNAME रिकॉर्ड बनाना होता है जो हमें उन विशिष्ट पतों के रिवर्स लुकअप की ज़िम्मेदारी सौंपते हैं.

अगर आपका सेवा देने वाला आपको एक PTR रिकॉर्ड सौंपता है, तो आपका सेवा देने वाला ऐसा CNAME रिकॉर्ड बनाएगा जो ऐसे PTR रिकॉर्ड की ओर संकेत करेगा जिसे आप Google Domains के ज़रिए प्रबंधित करेंगे. उदाहरण के लिए, मान लीजिए कि आपके सर्वर का A रिकॉर्ड इस तरह दिखाई देता है:
www     A     1h     111.222.33.4

आपको PTR रिकॉर्ड सौंपने के लिए, आपके सेवा देने वाले को नीचे दिया गया CNAME सेट करना होगा. ध्यान रखें कि IP पते वाली 4 संख्याओं का क्रम उलट दिया गया है:
4.33.222.111.in-addr.arpa.    CNAME     1h     ptr_www.example.com.

Google Domains में, आप नीचे दिया गया PTR रिकॉर्ड सेट करेंगे:
ptr_www     PTR     1h     www.example.com.

ये रिकॉर्ड सेट हो जाने पर, IP पते 111.222.33.4 का रिवर्स-लुकअप करने के अनुरोध सबसे पहले 4.33.222.111.in-addr.arpa. के लिए आपके सेवा देने वाले के रिकॉर्ड पर जाएंगे, जो आपके रिकॉर्ड को ptr_www.example.com. के लिए रीडायरेक्ट करता है, जिससे अनुरोध करने वाले को पता चलता है कि 111.222.33.4 www.example.com से संबंधित है.

IPv6 पतों के मिलते-जुलते उदाहरण के रूप में, अगर आपके सर्वर का AAAA रिकॉर्ड इस तरह दिखाई देता है:
www     AAAA     1h     202:db80:1:2:3:4:567:89ab

तो फिर उसका पूरी तरह निर्दिष्ट IPv6 पता 0202:db80:0001:0002:0003:0004:0567:89ab है. ऐसा CNAME रिकॉर्ड पाने के लिए जिसे आपके सेवा देने वाले को सेट करना होगा, इस पते को उलट दें (कोलन को अनदेखा करते हुए, अंकों के हिसाब से), जिसमें हर अंक के बीच में डॉट लगाकर और .ip6.arpa को जोड़कर. (जिसमें पिछला डॉट भी शामिल है):
b.a.9.8.7.6.5.0.4.0.0.0.3.0.0.0.2.0.0.0.1.0.0.0.0.8.b.d.2.0.2.0.ip6.arpa.     CNAME     1h     ptr_www.example.com.

नोट: अगर आप चाहते हैं कि आपका ISP पतों का एक ब्लॉक सौंपे, तो Google Domains सीधे यह सुविधा प्रदान नहीं करता है. आपको इन रिकॉर्ड को बनाने और संग्रहित करने के लिए Cloud DNS का इस्तेमाल करना होगा. आपको अपने सभी DNS को Cloud DNS पर ले जाने की ज़रूरत नहीं है, बस PTR रिकॉर्ड ही ले जाने होंगे.

Google Cloud DNS पर अधिक जानकारी के लिए, इन्हें देखें:

SOA

Google DNS सर्वर, SOA (प्राधिकरण की शुरुआत) रिकॉर्ड का इस्तेमाल आपके डोमेन के बारे में जानकारी संग्रहित करने के लिए करते हैं ताकि नाम सर्वरों के बीच ट्रैफ़िक प्रबंधित करने में सहायता मिले. उनमें आमतौर पर नाम सर्वर, नाम सर्वर एडमिन खाता, नाम सर्वर सीरियल नंबर, ज़ोन फ़ाइल रीफ़्रेश दर और अपडेट फिर से आज़माने की प्रतीक्षा अवधि और ज़ोन फ़ाइल की अवधि खत्म होने का समय शामिल होता है.

SOA रिकॉर्ड का प्रबंधन नाम सर्वर करते हैं और उन्हें Google डोमेन में देखा या संपादित नहीं किया जा सकता है.

SPF

SPF (भेजने वाले का नीति फ़्रेमवर्क) एक खुली सामान्य तकनीकी विधि है. SPF ऐसे मेल सर्वर तय करती है जो किसी डोमेन से ईमेल भेज सकती है.

जब कोई मेल सर्वर ईमेल भेजता है, तो पाने वाला सर्वर डोमेन के SPF से उसकी जांच करता है. अगर ईमेल SPF में सूची में दिए गए किसी मेल सर्वर से भेजा गया था, तो फिर पाने वाला सर्वर ईमेल को स्वीकार कर लेगा.

कुछ हद तक, SPF नकली भेजने वालों के पतों के कारण होने वाले ईमेल स्पैम को रोकता है: किसी डोमेन के ईमेल तब तक स्वीकार नहीं किए जाएंगे जब तक कि भेजने वाला सर्वर डोमेन की SPF सूची में शामिल न हो.

SPF किसी डोमेन को एक या उससे ज़्यादा मेल सर्वर से मैप करने के लिए TXT (लेख) रिकॉर्ड का इस्तेमाल करता है. TXT रिकॉर्ड में SPF टैग v=spf1 और दूसरे SPF क्वालिफ़ायर, तंत्र और संशोधक शामिल होंगे (www.openspf.org देखें).

@ SPF   “v=spf1 +a:mailhost3.example.com +a:mailhost4.example.com –all”   
mail3   A 1h 123.123.123.7
mail4   A 1h 123.123.123.9
SRV

SRV (सेवा) रिकॉर्ड किसी विशेष सेवा या सर्वर को किसी डोेमेन नाम से मैप करते हैं. SRV रिकॉर्ड यह जाने बिना किसी सर्वर का पता लगाना संभव बनाता है कि सेवा किस होस्ट पर चल रही है.

इस उदाहरण में, सेवा रिकॉर्ड _http._tcp.example.com. में सेवा http, वह प्रोटोकॉल जिस पर सेवा चलती है tcp और डोमेन नाम example.com. शामिल हैं. रिकॉर्ड को www.example.com. डोमेन से मैप किया जाता है, जिसे बदले में, किसी वेब सर्वर (IP पते 192.251.50.110 वाला होस्ट) से मैप किया जाता है. रिकॉर्ड की प्राथमिकता 10 (कम को प्राथमिकता दी जाती है), उसका भार 5 (एक जैसी प्राथमिकता वाले रिकॉर्ड के बीच भार को संतुलित करने के लिए) और एक पोर्ट संख्या 8080 होती है जो यह तय करती है कि सेवा किस पोर्ट पर मिल सकती है.

_http._tcp.example.com. SRV 1h 10 5 8080 www.example.com.
www A 1h 192.251.50.110

नोट: Google Domains प्राथमिकता/भार/पोर्ट नंबरों के लिए अलग से कोई फ़ील्ड उपलब्ध नहीं कराता. इन मानों को डेटा फ़ील्ड में डालें (हर एक को खाली जगह से अलग करें) उसके बाद सेवा का नाम डालें (10 5 8080 www.example.com.).

TXT

TXT (लेख) रिकॉर्ड में मनचाही जानकारी, मनुष्यों के पढ़ने लायक लेख या मशीन के पढ़ने लायक डेटा के रूप में होती है, जिसे किसी संसाधन रिकॉर्ड में जोड़ा जा सकता है.

A TXT 1h ”यह मेरा डोमेन है.”
क्‍या यह लेख उपयोगी था?
हम उसे किस तरह बेहतर बना सकते हैं?