मोबाइल डिवाइस पर गुप्त मोड में YouTube ब्राउज़ करना

अब आप YouTube ऐप्लिकेशन में लॉग इन करके, गुप्त मोड में ब्राउज़ कर सकते हैं. इस माेड में ब्राउज़ करने के दौरान, आपके खाते से की गई खोज और देखे गए वीडियो का इतिहास नहीं दिखेगा. साथ ही, इस माेड में की गई गतिविधियाें का असर आपके खाते पर नहीं हाेगा.

Android पर गुप्त मोड में जाएं! 😎| YouTube सहायता से पेशेवर लोगों की सलाह

गुप्त मोड में ब्राउज़ करने का तरीका

गुप्त मोड में ब्राउज़ करने के लिए स्क्रीन पर सबसे ऊपर दाईं ओर मौजूद अपनी प्रोफ़ाइल फ़ोटो पर टैप करें और फिर गुप्त मोड चालू करें पर टैप करें. आप इस सुविधा का इस्तेमाल तब ही कर सकेंगे, जब आपने अपने खाते में साइन इन किया हो. गुप्त मोड में ब्राउज़ करते समय सभी सुविधाएं वैसे ही काम करती हैं जैसे वे आपके साइन आउट होने पर करती हैं. इसलिए, आप या तो साइन इन कर सकते हैं या गुप्त मोड में ब्राउज़ कर सकते हैं.

गुप्त मोड में ब्राउज़ करते समय आपको स्क्रीन पर सबसे नीचे की तरफ़ काले रंग के बार के रूप में एक रिमाइंडर लगातार दिखेगा. इस रिमाइंडर से आपको पता चलेगा कि आप गुप्त मोड में ब्राउज़ कर रहे हैं.

गुप्त मोड में ब्राउज़ करते समय क्या होता है

गुप्त मोड में ब्राउज़ करते समय, YouTube ऐप्लिकेशन ऐसे काम करता है जैसे कि आपने खाते में साइन इन नहीं किया हुआ है. आपके खाते की गतिविधियां, जैसे कि सदस्यताएं या वीडियो देखने का इतिहास, आपके YouTube अनुभव पर किसी भी तरह का असर नहीं डालतीं.

जब आप गुप्त मोड को बंद करते हैं, तो खोज और वीडियो देखने के इतिहास को मिटा दिया जाता है. आप उस खाते पर वापस आ जाते हैं जिसे आपने गुप्त मोड को चालू करने से पहले इस्तेमाल किया था. साथ ही, गुप्त मोड सत्र में की गई किसी भी तरह की गतिविधि आपके खाते में नहीं दिखेगी.

अगर आप गुप्त मोड सत्र में 90 मिनट से ज़्यादा समय तक कुछ नहीं करते, तो वह सत्र खत्म हो जाएगा. इसके बाद, आप उस खाते में वापस चले जाएंगे जिसे आपने आखिरी बार इस्तेमाल किया था. अगली बार जब आप YouTube खोलेंगे, तब आपको एक मैसेज दिखेगा. इसमें आपको बताया जाएगा कि अब आप गुप्त मोड का इस्तेमाल नहीं कर रहे.

गुप्त मोड में की जाने वाली सभी गतिविधियां निजी होती हैं. इसलिए, जब आप किसी भी तरह की सार्वजनिक कार्रवाई, जैसे कि टिप्पणी करने या सदस्यता लेने की कोशिश करते हैं, तो आपको उसे पूरा करने के लिए साइन इन करने को कहा जाएगा.

क्या यह उपयोगी था?
हम उसे किस तरह बेहतर बना सकते हैं?