/webmasters/community?hl=hi
यह सामग्री शायद अब प्रासंगिक नहीं है. खोजने की कोशिश करें या हाल ही के प्रश्न ब्राउज़ करें.
कोर वेब विटल्स और पेज के अनुभव के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न
0
नमस्ते,
 
पिछले साल दिसंबर में, हमने आपके लिए पेज के अनुभव और वेबसाइट कैसा प्रदर्शन कर रही है इसके बारे में जानकारी से जुड़े अक्सर पूछे जाने वाले सवालों का एक सेट प्रकाशित किया। इसके लिए हमें काफ़ी अच्छी प्रतिक्रियाएं मिलीं। बहुत से लोगों ने हमें लिखकर भेजा कि उन्हें हमारे जवाबों से काफ़ी मदद मिली। इसलिए, हम इस साल फिर से आपके नए सवालों के जवाब देने के लिए लौटे हैं।
 
हमने इस पोस्ट में दिए गए सभी सवालों को तीन हिस्सों में बांटा है: मेट्रिक और टूलिंग, पेज की परफ़ॉर्मेंस और सर्च और एएमपी। हमें उम्मीद है कि आपको इनसे मदद मिलेगी।
 
मेट्रिक और टूलिंग
 
प्रश्न: वेबसाइट कैसा प्रदर्शन कर रही है, इसके बारे में Search को कहां से जानकारी मिलती है?
उत्तर: Search को यह डेटा Chrome उपयोगकर्ता अनुभव रिपोर्ट की मदद से मिलता है। यह रिपोर्ट, वेबपेज के साथ उपयोगकर्ताओं की विज़िट और इंटरैक्शन के अनुभव पर आधारित होती है (इसे फील्ड डेटा के नाम से भी जाना जाता है)। असल में, इस डेटा को पाने के लिए, लोड हो रहे पेजों के लैब सिमुलेशन की या Googlebot  जैसे गैर-इंसानी विज़िटरों की मदद नहीं ली जाती है।
 
प्रश्न: अलग-अलग यूआरएल के लिए स्कोर कैसे निकाला जाता है? दूसरे शब्दों में पूछें, तो यह कैसे तय किया जाता है कि कौनसा पेज, वेबसाइट के परफ़ॉर्मेंस के आकलन में खरा उतरता है और कौनसा नहीं?
उत्तर: मेट्रिक को अट्ठाइस दिनों के अंदर, पचहत्तर परसेंटाइल पर कैलकुलेट किया जाता है। पचहत्तर परसेंटाइल इस्तेमाल करके, हम यह पता करते हैं कि क्या साइट पर आने वाले 4 में से 3 लोगों को साइट की परफ़ॉर्मेंस तय मानकों के बराबर अच्छी लगी या नहीं। अगर एक पेज सुझाए गए तीनों टारगेट पा लेता है, तो यह वेबसाइट की परफ़ॉर्मेंस के आकलन में खरा उतर जाता है। डिस्ट्रिब्यूशन और एग्रीगेशन के बारे में ज़्यादा जानकारी यहां दी गई है।
 
प्रश्न: हाल ही में प्रकाशित किए गए ऐसे यूआरएल का स्कोर कैसे कैलकुलेट किया जाता है जिसने अभी 28 दिनों का डेटा न जनरेट किया हो?
उत्तर: जैसे Search Console पेज के परफ़ॉर्मेंस से जुड़ा डेटा जनरेट करता है, ठीक वैसे ही हम पेजों का ग्रुप बनाने की इससे मिलती-जुलती टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर सकते हैं और उस एग्रीगेशन के आधार पर स्कोर कैलकुलेट कर सकते हैं। ऐसा हम उन पेजों के लिए भी कर सकते हैं जिन पर ट्रैफ़िक नहीं आता या बहुत कम ट्रैफ़िक आता है, ताकि उन साइटों को कोई परेशानी न हो जिनके पास फ़ील्ड डेटा नहीं है।
 
प्रश्नमुझे Lighthouse और Chrome जैसे टूल की उपयोगकर्ता अनुभव रिपोर्ट में अलग-अलग मेट्रिक क्यों दिख रहे हैं?
उत्तर: वेबसाइट कैसा प्रदर्शन कर रही है इसके बारे में दी जाने वाली जानकारी असली उपयोगकर्ताओं की विज़िट पर आधारित होती है। उपयोगकर्ता की विज़िट पर उसके आस-पास के माहौल और साइट के साथ उसके इंटरैक्शन का बहुत असर पड़ेगा। Lighthouse जैसे टूल, लैब सिमुलेशन होते हैं। Lighthouse इस बात की जानकारी तो दे सकता है कि उपयोगकर्ताओं के लिए किसी दिए गए समय पर मेट्रिक क्या हो सकते हैं और उन्हें मेट्रिक सुधारने के क्या-क्या मौके मिल सकते हैं, लेकिन यह असली उपयोगकर्ताओं की विज़िट पर आधारित डेटा से बहुत अलग होगा।
 
प्रश्न: मुझे Search Console पर वेबसाइट कैसा प्रदर्शन कर रही है इसके बारे में जानकारी वाली रिपोर्ट में वह पेज नहीं मिल रहा जिसे मैं ढूंढ रहा/रही हूं।
उत्तर: हर तरह की गड़बड़ी के लिए, Search Console पर यूआरएल के सबसेट की सूची होती है। ये यूआरएल आपकी साइट पर मौजूद पेजों को दिखाते हैं। इस रिपोर्ट का मकसद अलग-अलग तरह के गड़बड़ी वाले पेजों को ढूंढने में उपयोगकर्ताओं की मदद करना है, ताकि उन पेजों को Page Speed Insights या Lighthouse जैसे टूलों में डीबग किया जा सके। हमें उम्मीद है कि इस तरह हर यूआरएल की अलग-अलग जांच करके और उसमें मौजूद गड़बड़ियों को दूर करके, वेबसाइट के पेज के टाइप को बेहतर बनाया जा सकता है।
 
प्रश्न: क्या बिना इंडेक्स वाले और “robots.txt की मदद से ब्लॉक किए गए” पेजों को CrUX डेटासेट में शामिल किया जाता है?
उत्तर: आप CrUX के डेटा को दो तरह से ऐक्सेस कर सकते हैं:  पीएसआई और CrUX एपीआई की मदद से पेज के स्तर पर या Public Big Query डेटासेट की मदद से मूल-स्तर पर। पहले तरीके से सिर्फ़ ऐसे पेजों की जानकारी ऐक्सेस की जा सकती है जिन्हें सार्वजनिक तौर पर इंडेक्स किया जा सकता है और जिन पर सीमित ट्रैफ़िक आता है। वहीं दूसरे तरीके की मदद से सभी सार्वजनिक और निजी पेजों से जुड़ा एग्रीगेट डेटा ऐक्सेस किया जा सकता है।
 
प्रश्न: मैं तीसरे पक्ष की कोई ऐसी सेवा (जैसे कि क्लाइंट-साइड A/B टेस्टिंग, Social Embed, मनमुताबिक बनाने वाले इंजन, कमेंट सिस्टम वगैरह) इस्तेमाल कर रहा/रही हूं जो मेरी साइट की लोड होने की रफ़्तार कम कर रही है।
उत्तर: साइटों पर कई तरह के तीसरे पक्ष के कोड और सेवाएं इस्तेमाल की जा सकती हैं. वेबसाइट की परफ़ॉर्मेंस का आकलन करने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले मेट्रिक, तीसरे पक्ष की इन सेवाओं की अलग से जांच नहीं करते हैं। वे सिर्फ़ उपयोगकर्ता के पूरे अनुभव को देखते हैं। बेहतर यही होगा कि वेबसाइट के परफ़ॉर्मेंस का आकलन करके, पेज पर दी गई हर सुविधा के जैसे ही तीसरे पक्ष के इन कॉम्पोनेंट का पेज की परफ़ॉर्मेंस पर क्या असर पड़ता है, इसकी नियमित तौर पर जांच की जाती रहे. ऐसा हो सकता है कि आपको इन सेवाओं को इंटीग्रेट या कॉन्फ़िगर करने के बेहतर तरीके पता चल जाएं जिससे उपयोगकर्ता अनुभव भी बेहतर हो सकता है और ऐसे में, आपकी वेबसाइट की परफ़ॉर्मेंस का आकलन करने वाले मेट्रिक भी बेहतर हो सकते हैं। अपने पेज पर मौजूद तीसरे पक्ष के JavaScript को ऑप्टिमाइज़ करने के लिए, web.dev पर दिए गए इन संसाधनों की मदद लें। (1,2,3,4)
 
प्रश्न: Google सभी तरह के पेजों की परफ़ॉर्मेंस जांचने के लिए, एक ही सीडब्ल्यूवी (कोर वेब वाइटल) मेट्रिक क्यों इस्तेमाल करता है? उदाहरण के तौर पर, किसी अखबार का होमपेज, उसमें छपने वाले किसी आर्टिकल का पेज, और उसी साइट पर मौजूद कमेंट वाला पेज, ये तीनों एक जैसे नहीं होते।
उत्तर: वेबसाइट की परफ़ॉर्मेस का आकलन करने वाले मेट्रिक सभी पेजों पर समान रूप से लागू होते हैं। इन मेट्रिक को पास करने की सीमा तय करने के लिए, हमने बहुत से अलग-अलग तरह के पेजों का विश्लेषण किया और अलग-अलग पेज के हिसाब से उपयोगकर्ता को बेहतर अनुभव देने के लिए ज़रूरी शर्तों पर रिसर्च किया।
 
पेज की परफ़ॉर्मेंस और सर्च
 
प्रश्न: पेज की परफ़ॉर्मेंस से जुड़ा अपडेट क्या है और पेज रैंकिंग के दूसरे सिग्नलों की तुलना में यह कितना अहम है?
उत्तर: पेज की परफ़ॉर्मेंस से जुड़े अपडेट के ज़रिए हम अपने सर्च एल्गोरिदम में एक नया सिग्नल जोड़ रहे हैं। इस सिग्नल को सैकड़ों अन्य सिग्नलों के साथ इस्तेमाल किया जाएगा, ताकि हम किसी क्वेरी के जवाब में दिखाने के लिए सबसे सही कॉन्टेंट की पहचान कर सकें। पहले की तरह ही, हमारे सिस्टम सिर्फ़ उन पेजों को सबसे ऊपर दिखाएंगे जिनमें सबसे काम की जानकारी होगी। भले ही, पेज की परफ़ॉर्मेंस से जुड़े दूसरे कुछ पहलू उतने अच्छे न हों। हमारे लिए सही और काम की जानकारी वाले कॉन्टेंट की अहमियत, पेज की अच्छी परफ़ॉर्मेंस से ज़्यादा है। 
 
यह अपडेट, मोबाइल-फ़्रेंडली अपडेट या स्पीड अपडेट जैसे हमारे पिछले बदलावों के जैसा ही है। उन सिग्नलों की तरह ही, पेज की परफ़ॉर्मेंस की अहमियत तब ज़्यादा होगी, जब कई पेज बाकी सिग्नलों पर एक जैसा प्रदर्शन कर रहे होंगे। मतबल, अगर हमें बहुत सारे ऐसे पेज मिलते हैं जिनका कॉन्टेंट और क्वालिटी एक जैसी है, तब बेहतर परफ़ॉर्मेंस वाले पेज, बाकी पेजों से ऊपर दिखाए जा सकते हैं।
 
कम शब्दों में कहें, तो प्रकाशकों को इस बात की चिंता करने की ज़रूरत नहीं है कि जब हम पेज की परफ़ॉर्मेंस वाले सिग्नल का इस्तेमाल शुरू करेंगे, तो उनके पेजों पर इसका बुरा असर पड़ेगा। खासकर तब, जब पेजों को बेहतर बनाने का काम अभी चल रहा हो। हालांकि, प्रकाशकों को कोशिश करनी चाहिए कि वे इन बदलावों को अपने बाकी कामों से पहले पूरा करें। ऐसा इसलिए है, क्योंकि जैसे-जैसे ज़्यादा से ज़्यादा साइटें अपने पेजों की परफ़ॉर्मेंस को बेहतर करती जाएंगी, वैसे-वैसे प्रकाशकों के लिए भी अपने पेजों को बेहतर बनाना ज़रूरी होता जाएगा।
 
प्रश्न: क्या Chrome के अलावा दूसरे ब्राउज़र पर Google Search का इस्तेमाल करते समय, वेबसाइट की परफ़ॉर्मेंस के आकलन से जुड़े मैट्रिक, पेजों की रैंकिंग पर असर डालते हैं?
उत्तर: हां, पेज की परफ़ॉर्मेंस से जुड़े ऐसे रैंकिंग सिग्नल जो वेबसाइट की परफ़ॉर्मेंस के आकलन से जुड़े मैट्रिक का इस्तेमाल करते हैं वे मोबाइल डिवाइसों पर सभी ब्राउज़र पर लागू होते हैं।
 
प्रश्न: क्या पृष्ठ अनुभव अद्यतन के लिए साइंड एक्सचेंज आवश्यक है?
उत्तर: नहीं, साइंड एक्सचेंज(SXG) पृष्ठ परफ़ॉर्मेंस लाभ के लिए एक आवश्यकता नहीं है। हालाँकि, आप अपने पृष्ठ अनुभव को बेहतर बनाने के विकल्पों में से एक के रूप में प्रौद्योगिकी पर विचार कर सकते हैं। अपनी सामग्री को साइंड एक्सचेंज के रूप में उपलब्ध कराना, उपयोगकर्ताओं को अंतिम रूप से वितरण को अनुकूलित करने में मदद कर सकता है, और हमने इसके कारण LCP मैट्रिक्स में सुधार देखा है।
विशेष रूप से, यदि किसी पृष्ठ का LCP (मतलब, उस पृष्ठ की सभी यात्राओं के 75 वें प्रतिशत पर LCP का मान) पहले से ही "अच्छे" स्तर पर है, तो आपको साइंड एक्सचेंज का उपयोग करने से आगे के रैंकिंग लाभ को देखने की उम्मीद नहीं करनी चाहिए LCP का अनुकूलन करें। यह अन्य कोर वेब विटैलिटी मैट्रिक्स के लिए भी सही है।

प्रश्न: पेज की परफ़ॉर्मेंस से जुड़ी रैंकिंग, वेबसाइट की परफ़ॉर्मेंस के आकलन से जुड़े मैट्रिक  के लिए प्रकाशित “अच्छा” माने जाने वाले स्कोर के साथ कैसे काम करती है? 
उत्तर: एलसीपी, एफ़आईडी, और सीएलएस (वेबसाइट की परफ़ॉर्मेंस के आकलन से जुड़े मैट्रिक) के लिए तय दिशा-निर्देशों में हर मैट्रिक के लिए अलग-अलग वैल्यू निर्धारित की गई है, जिसे “अच्छा” स्कोर माना जाता है। अब क्योंकि शून्य के नज़दीक वाली वैल्यू को इन सभी मैट्रिक के लिए बेहतर माना जाता है, हम शून्य और दी गई वैल्यू (इस वैल्यू को मिलाकर) के बीच के किसी भी स्कोर को “अच्छी रेंज” का मान सकते हैं। 
Google की पेज की परफ़ॉर्मेंस से जुड़ी रैंकिंग में, वेबसाइट की परफ़ॉर्मेंस के आकलन से जुड़े हर मैट्रिक को अलग-अलग आंका जाता है। पेज की परफ़ॉर्मेंस से जुड़ी रैंकिंग का असर, उन सभी पेजों पर एक  जैसा होगा जिनका, वेबसाइट की परफ़ॉर्मेंस के आकलन से जुड़े सभी मैट्रिक का कुल स्कोर “अच्छी रेंज” में है। भले ही, वेबसाइट की परफ़ॉर्मेंस के आकलन से जुड़े अलग-अलग मैट्रिक के उनके स्कोर कुछ भी हों। उदाहरण के लिए, अगर किसी पेज के लिए एलसीपी स्कोर 1750 मि ͦसे ͦ है (एलसीपी के लिए तय “अच्छे” स्कोर से बेहतर) और दूसरे पेज के लिए एलसीपी स्कोर 2500 मि ͦसे ͦ (“अच्छे” के बराबर) है, तो एलसीपी सिग्नल के आधार पर उनकी रैंकिंग अलग-अलग नहीं होगी। हालांकि, वेबसाइट की परफ़ॉर्मेंस के आकलन से जुड़े मैट्रिक में शामिल दूसरे सिग्नलों और सैकड़ों अन्य सिग्नलों की वजह से इन दो पेजों की रैंकिंग अलग-अलग हो सकती है। “अच्छी रेंज” के बाहर, वेबसाइट की परफ़ॉर्मेंस के आकलन से जुड़े मैट्रिक की वैल्यू अलग-अलग होने की वजह से, दोनों पेजों की परफ़ॉर्मेंस से जुड़ी रैंकिंग में अंतर हो सकता है।
 
प्रश्न: अगर मैं अपने वेबपेज का एएमपी वाला और बिना एएमपी वाला, दोनों वर्शन प्रकाशित करूं, तो Google उसके किस वर्शन को लिंक करेगा? 
उत्तर: एएमपी वर्जन को, अगर पेज के दोनों वर्शन उपलब्ध कराए जाते हैं, तो Google आगे भी पेज के एएमपी वर्शन को मोबाइल पर लिंक करना जारी रखेगा।
ध्यान दें कि टॉप स्टोरीज़ कैरोसेल के मामले में, एक और शर्त को पूरा करना ज़रूरी है। यह शर्त Google News के कॉन्टेंट की नीतियों का हिस्सा है।
 
प्रश्न: प्रकाशक इस बात का पता कैसे लगाएं कि रैंकिंग में उनके पेजों को, वेबसाइट की परफ़ॉर्मेंस के आकलन से जुड़े मैट्रिक का फ़ायदा मिल रहा है या नहीं?
उत्तर: पेज की परफ़ॉर्मेंस से जुड़ी रैंकिंग में, वेबसाइट की परफ़ॉर्मेंस के आकलन से मिले उपयोगकर्ता अनुभव के आंकड़ों को देखा जाता है। इसमें दूसरे सिग्नल भी शामिल होते हैं. हम मानते हैं कि साइटें, उपयोगकर्ता अनुभव से जुड़े अपने मकसदों को, व्यापार के दूसरे मकसदों के साथ-साथ मैनेज कर सकती हैं. वेबसाइट की परफ़ॉर्मेंस के आकलन में, जिन पेजों का स्कोर “अच्छा” होता है, उन पर मिलने वाला अनुभव उपयोगकर्ताओं को पसंद आ रहा है। साथ ही, रैंकिंग के समय उन्हें पेज की परफ़ॉर्मेंस वाले कॉम्पोनेंट में फ़ायदा मिलने की संभावना रहती है। हालांकि, पेज की परफ़ॉर्मेंस से जुड़े दूसरे सिग्नलों (एचटीटीपीएस, मोबाइल फ़्रेंडली होना वगैरह) का भी ठीक होना ज़रूरी है।
 
अगर आपके कुछ पेज ऐसे हैं जिनका स्कोर, वेबसाइट की परफ़ॉर्मेंस के आकलन से जुड़ी कम से कम एक मैट्रिक्स में “अच्छा” नहीं है या वे पेज की परफ़ॉर्मेंस से जुड़े दूसरे सिग्नलों पर खरे नहीं उतरते हैं, तो हमारा सुझाव है कि आप आने वाले समय में इन चीज़ों पर काम करें और इन्हें बेहतर बनाएं। हालांकि, पेज की परफ़ॉर्मेंस से जुड़े सभी कॉम्पोनेंट ज़रूरी होते हैं, हम उन पेजों को अहमियत देंगे जिनमें दी गई जानकारी सबसे सही होगी। भले ही, पेज की परफ़ॉर्मेंस से जुड़े दूसरे कुछ पहलू उतने अच्छे न हों। हमारे लिए सही और काम की जानकारी वाले कॉन्टेंट की अहमियत, पेज की अच्छी परफ़ॉर्मेंस से ज़्यादा है। इसके बावजूद, ऐसे मामलों में जब एक जैसे कॉन्टेंट वाले कई पेज मौजूद होते हैं, तब Search में दिखने के लिए पेज की परफ़ॉर्मेंस की अहमियत कहीं ज़्यादा बढ़ जाती है।
 
टॉप स्टोरीज़
 
प्रश्न: अगर मेरा वेबपेज, वेबसाइट के परफ़ॉर्मेंस के आकलन में खरा नहीं उतरता है, तो क्या मेरी स्टोरी को टॉप स्टोरीज़ कैरसेल में दिखाया जा सकता है?
उत्तर: हाँ, टॉप स्टोरीज़ कैरसेल में होने वाले बदलाव की वजह से सभी वेब पेज, टॉप स्टोरीज़ कैरसेल दिखा सकते हैं, चाहे उन पेजों की परफ़ॉर्मेंस या वेबसाइट के परफ़ॉर्मेंस के आकलन का स्कोर कैसा भी हो. इन बदलावों के लाइव होने के लिए, इनका Google News के कॉन्टेंट की नीतियों के हिसाब से होना ज़रूरी है. हम सभी पेजों के लिए, उनकी परफ़ॉर्मेंस को रैंकिंग सिग्नल के तौर पर इस्तेमाल करेंगे।
 
एएमपी
 
प्रश्न: क्या इसका मतलब यह है कि एएमपी को रैंकिग के सिग्नल के तौर पर इस्तेमाल किया जाने लगेगा?
उत्तर: एएमपी का इस्तेमाल कभी भी रैंकिंग के सिग्नल के लिए नहीं हुआ और आगे भी नहीं होगा। यह एक फ़्रेमवर्क है, जिसका इस्तेमाल साइट के मालिक अच्छे और बेहतर परफ़ॉर्म करने वाले वेबपेजों को बनाने के लिए करते हैं। साथ ही, इसका इस्तेमाल करके वेबसाइट के मालिक, पहले से मौजूद कई सुविधाओं का फायदा उठा कर पेज की परफ़ॉर्मेंस को बेहतर बना सकते हैं।
 
प्रश्न: क्या मेरे एएमपी पेजों की परफ़ॉर्मेंस हमेशा अच्छी होगी? अगर मैं पहले से ही एएमपी पेज का इस्तेमाल कर रहा हूँ, तो क्या मुझे कुछ करने की जरूरत है?
उत्तर: एएमपी प्रोजेक्ट में योगदान देने वाले पूरी दुनिया के डेवलपर, एएमपी पेज बनाते समय इस बात का खयाल ज़रूर रखते हैं कि साइट के मालिकों को अपनी वेबसाइट पर अच्छे परफ़ॉर्मेंस वाले अनुभव की एक बेहतरीन शुरुआत मिल सके। हालांकि, कई अन्य फ़्रेमवर्क की तरह एएमपी में भी, वेब डेवलपमेंट से जुड़े ऐसे सभी तरीकों को लागू नहीं किया जा सकता जो सबसे सही हों। इस ब्लॉग पोस्ट में डेवलपर वह दिशा-निर्देश देख सकते हैं जिससे वे पक्का कर सकें कि प्रकाशक की वेबसाइट और एएमपी कैश, दोनों के ज़रिए चलाए जा रहे एएमपी पेजों को ऑप्टिमाइज़ किया जा रहा हो।
 
प्रश्न: अगर साइटें एएमपी का इस्तेमाल न करना चाहें, तो क्या उनके लिए कोई विकल्प है?
उत्तर: हाँ, एएमपी के अलावा और कई पाथ हैं जिनका इस्तेमाल करके पेज की परफ़ॉर्मेंस अच्छी की जा सकती है। साइट के मालिक कई तरह के टूल या फ़्रेमवर्क का इस्तेमाल कर सकते हैं। साथ ही, हम उन्हें Search Console की साइट पर जाकर, उनकी वेबसाइट के परफ़ॉर्मेंस के आकलन की शर्तों के बारे में सीखने के लिए प्रोत्साहित करते हैं. साइट के मालिक web.dev/vitals  पर जाकर भी रिसोर्स देख सकते हैं। 
जो प्रकाशक एएमपी पेजों को बंद करने का विकल्प देख रहे हैं वे यहां दिए गए दिशा-निर्देश देख सकते हैं।
 
प्रश्न: मैं कैसे पता करूँ कि मेरे एएमपी पेजों की परफ़ॉर्मेंस अच्छी है या नहीं?
उत्तर: एएमपी प्रोजेक्ट ने ‘एएमपी पेज परफ़ॉर्मेंस गाइड’ टूल रिलीज़ किया है। इसकी मदद से साइटों को यह समझने में मदद मिलती है कि वेबसाइट के परफ़ॉर्मेंस के आकलन के हिसाब से उनके एएमपी कॉन्टेंट को कैसे मापा जाता है। साथ ही, इससे यह भी पता लगता है कि एएमपी पेजों के कॉन्टेंट में कैसे सुधार किया जा सकता है। अगर कोई एएमपी पेज वेबसाइट के परफ़ॉर्मेंस के आकलन पर खरा नहीं उतरता और उसके लिए कॉन्टेंट को सुधारने के कोई सुझाव नहीं मिलते, तो डेवलपर इस तरह की गड़बड़ी की शिकायत, टूल में मौजूद चैनल के ज़रिए एएमपी टीम को करते हैं।
 
प्रश्न: क्या पेज की परफ़ॉर्मेंस के रैंकिंग सिग्नल में सिर्फ़ कैश मेमोरी से लोड किया गया एएमपी कॉन्टेंट दिखता है?
उत्तर: पेज की परफ़ॉर्मेंस के रैंकिंग सिग्नल, पेज के रीयल ट्रैफ़िक के हिसाब से होते हैं. एएमपी पेज के मामले में, इसका मतलब है कि पेजों को मूल तौर पर प्रकाशक ने या फिर एएमपी के ज़रिए दिखाया गया है। इसलिए, हम एएमपी का इस्तेमाल करने वाले डेवलपर को पेज दोनों तरीको से दिखाने के लिए प्रोत्साहित करते हैं। साथ ही, हम डेवलपर को एएमपी ऑप्टिमाइज़र का इस्तेमाल करने का सुझाव देते हैं, ताकि वे अपनी साइट के लिए एएमपी कैश को ऑप्टिमाइज़ कर सकें। ज़्यादा जानकारी पाने के लिए, प्रकाशक ‘एएमपी पेज परफ़ॉर्मेंस गाइड’ का इस्तेमाल कर सकते हैं, ताकि वे समझ सकें कि उनके एएमपी पेजों में कैसे सुधार किया जा सकता है।
 
प्रश्न'Google एएमपी व्यूअर' के डेटा को कैसे एट्रिब्यूट किया जाता है?
उत्तर: पेज की परफ़ॉर्मेंस से जुड़े सिग्नलों को इस तरह डिज़ाइन किया जाता है, ताकि यह पता चल सके कि उपयोगकर्ताओं को वेब पर कैसा अनुभव मिल रहा है। इसलिए, हम किसी एएमपी यूआरएल के लिए डेटा में, 'Google एएमपी व्यूअर' को एट्रिब्यूट की गई विज़िट को शामिल करते हैं। एएमपी पेज जुड़ा हुआ होने पर, बिना एएमपी वाले कैननिकल पेज को अलग से एट्रिब्यूट किया जाएगा।
 
प्रश्नक्या Google, एएमपी को बेहतर बनाना जारी रखेगा?
उत्तर: Google Search यह पक्का करने पर ध्यान देता है कि पेज पर वेब कॉन्टेंट से इंटरैक्ट करते समय, उपयोगकर्ताओं को बेहतरीन अनुभव मिले। पेज की परफ़ॉर्मेंस जानने से पता चलता है कि उस पर मौजूद जानकारी कितने काम की है और उपयोगकर्ता आपके वेब पेज पर कितनी आसानी से इंटरैक्ट कर पा रहे हैं।
 
एएमपी प्रोजेक्ट उपयोगकर्ताओं को बेहतरीन अनुभव देता रहेगा। इसमें, पेज को उसकी परफ़ॉर्मेंस से जुड़े सिग्नलों के हिसाब से ऑप्टिमाइज़ करना शामिल है। Google, एएमपी को बेहतर बनाना जारी रखेगा और उसे एएमपी प्रोजेक्ट के उस लक्ष्य को हासिल करने पर भरोसा है जिससे लोगों को बेहतर उपयोगकर्ता अनुभव मिल सके। Google Search, उपयोगकर्ताओं को उन वेब पेजों पर भेजना जारी रखेगा जिनके एएमपी वर्शन उपलब्ध हैं। ऐसा करने से, निजता की सुरक्षा के लिए प्रीरेंडरिंग और एएमपी कैश की सुविधाओं की वजह से, उपयोगकर्ताओं को पेज जल्दी लोड होने में मदद मिलती है।
 
प्रश्नपेज की परफ़ॉर्मेंस बेहतर बनाने के लिए, एएमपी की सुविधा को बंद करने के बारे में प्रकाशकों की क्या राय है?
उत्तर: एएमपी के तहत, उपयोगकर्ता अनुभव से जुड़े लक्ष्य और पेज की परफ़ॉर्मेंस, एक-दूसरे पर आधारित होती है। इस वजह से, जो प्रकाशक कम से कम कोशिश करके अपने पेज की परफ़ॉर्मेंस अच्छी बनाना चाहते हैं उनके लिए एएमपी एक कारगर और आसान तरीका है। हालांकि, एएमपी इस्तेमाल करने वाले प्रकाशकों को कुछ दिक्कतों का सामना भी करना पड़ सकता है। उदाहरण के लिए, जटिल तरीके के इंटरैक्टिव अनुभव बनाने में मुश्किल आ सकती है। यह भी हो सकता है कि प्रकाशक, तीसरे पक्ष की जिन सेवाओं का इस्तेमाल करना चाहते हैं वे एएमपी में इस्तेमाल न की जा सकती हों।
 
कमाई के मामले में, एएमपी की प्राथमिकता रहती है कि लोगों को अच्छा उपयोगकर्ता अनुभव मिलने के साथ-साथ प्रकाशक की कमाई भी हो। साथ ही, प्रकाशक यहां दिए गए दिशानिर्देशों का पालन करके, एएमपी से होने वाली कमाई को बढ़ा सकते हैं. अगर प्रकाशक एएमपी का इस्तेमाल बंद करना चाहते हैं, तो उन्हें अपने पेज की परफ़ॉर्मेंस बढ़ाने के लिए कुछ खर्चा करना पड़ सकता है। जो प्रकाशक बिना एएमपी वाले पेजों का इस्तेमाल करते हैं वे अपने पेज की परफ़ॉर्मेंस बढ़ाने के लिए किसी भी तरह की टेक्नोलॉजी इस्तेमाल कर सकते हैं। हालांकि, पेज की परफ़ॉर्मेंस बेहतर बनाने के लिए, उन्हें पेज को कुछ चीज़ों के लिए ऑप्टिमाइज़ करना पड़ सकता है.
 
जो प्रकाशक, एएमपी का इस्तेमाल बंद करना चाहते हैं वे यहां बताए गए निर्देशों को अपनाकर ऐसा कर सकते हैं।
 
प्रश्नअगर प्रकाशक एएमपी का इस्तेमाल नहीं करते हैं, तो उन्हें कैसे पता चलेगा कि उनका कॉन्टेंट (पेज), टॉप स्टोरीज़ कैरसेल (बड़ी खबरों की सूची) की शर्तें पूरी करता है या नहीं?
उत्तर: टॉप स्टोरीज़ में कुछ बदलाव होने वाले हैं। इनकी वजह से, किसी भी प्रकाशक का कॉन्टेंट, टॉप स्टोरीज़ कैरसेल (बड़ी खबरों की सूची) में दिख सकता है, भले ही उसके लिए एएमपी या किसी और टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया गया हो। हालांकि, यह ज़रूरी है कि वह Google News के कॉन्टेंट की नीतियों के मुताबिक हो। टॉप स्टोरीज़ में कॉन्टेंट दिखेगा या नहीं, यह ऐसी कई बातों पर निर्भर करेगा जिनका रैंकिंग पर असर पड़ता है और पेज की परफ़ॉर्मेंस से जुड़ी शर्तें उनमें से एक होगीं। साफ़ शब्दों में कहें, तो कोई भी कॉन्टेंट, Google Search की, 'मुख्य खबरें' सुविधा में दिख सकता है, भले ही उसके पेज की परफ़ॉर्मेंस की मेट्रिक कुछ भी हो।
 
प्रश्नअगर मेरे पेज पर उपयोगकर्ताओं को अच्छा अनुभव नहीं मिलता है, तो क्या उसके बावजूद उसे टॉप स्टोरीज़ कैरसेल में दिखाया जा सकता है?
उत्तर: हाँ, कोई भी कॉन्टेंट जो Google News के कॉन्टेंट की नीतियों का पालन करता है, उसे टॉप स्टोरीज़ कैरसेल में दिखाया जा सकता है। पेज की परफ़ॉर्मेंस के दायरे में कई सिग्नल आते हैं जिनकी मदद से उपयोगकर्ताओं को अच्छा पेज अनुभव मिलता है। पेजों को रैंक करने के लिए और उन्हें टॉप स्टोरीज़ कैरसेल में शामिल करने के लिए, इन सिग्नलों का इस्तेमाल किया जाता है। इसका मतलब यह है कि पेज की परफ़ॉर्मेंस, कॉन्टेंट, और उपयोगकर्ता की खोज की क्वेरी के हिसाब से टॉप स्टोरीज़ कैरसेल में आपके पेज को शामिल किया जाता है। प्रकाशकों को पेज की परफ़ॉर्मेंस बेहतर बनाने पर खास ध्यान देना चाहिए, क्योंकि आगे चलकर, उपयोगकर्ता पेज की रैंकिंग के मुताबिक ही उसका इस्तेमाल करना पसंद करेंगे और अन्य प्रकाशक इसी आधार पर पेज का आकलन करेंगे।
 
प्रश्नअगर मैं अपना कॉन्टेंट प्रकाशित करने के लिए एएमपी की जगह कोई और तरीका चुनता/चुनती हूं और पेज की परफ़ॉर्मेंस को ऑप्टिमाइज करने की ज़िम्मेदारी भी खुद ही लेता/लेती हूं, तो क्या तब भी Google पर मेरे कॉन्टेंट को उसी तरह रैंक किया जाएगा जैसा एएमपी का इस्तेमाल करने पर किया जाता था?
उत्तर: पेज की परफ़ॉर्मेंस को एक रैंकिंग सिग्नल टेक्नोलॉजी की तरह इस्तेमाल किया जाता है। डेवलपर अपनी पसंद के फ़्रेमवर्क के साथ काम कर सकते हैं। एएमपी की जगह दूसरा तरीका इस्तेमाल करने पर उन पेजों की रैंकिंग पर कोई फ़र्क़ नहीं पड़ेगा जो एएमपी का इस्तेमाल नहीं करते हैं। 
 
प्रश्न: अगर मैं एएमपी का इस्तेमाल बंद करना चाहता हूं, तो मुझे और किन बातों पर ध्यान देना होगा? इससे डिस्कवर या Google News में मेरे कॉन्टेंट के दिखने के तरीके पर क्या असर पड़ेगा?
उत्तर: डिस्कवर फ़ीड में बहुत सा एएमपी कॉन्टेंट दिखाया जाता है, लेकिन डिस्कवर फ़ीड में दिखने या अच्छी रैंक पाने के लिए कॉन्टेंट का एएमपी होना ज़रूरी नहीं है। एएमपी पेज के आर्टिकल कार्ड के साथ बड़ी थंबनेल इमेज का इस्तेमाल किया जा सकता है। इन इमेज पर छोटी थंबनेल वाली इमेज पर मिलने वाले क्लिक के मुकाबले ज़्यादा क्लिक मिलते हैं। इसलिए, हमारी राय में अगर आप एएमपी की जगह गैर-एएमपी पेज बनाना चाहते हैं, तो Google को अपने गैर-एएमपी कॉन्टेंट के लिए बड़ी इमेज उपलब्ध कराएं। ऐसा करने के लिए, आप हर पेज पर max-image-preview:[large] रोबोट मेटा टैग सेटिंग जोड़ सकते हैं।
 
अगर आप एएमपी का इस्तेमाल बंद करना चाहते हैं, तो यहां दिया गया तरीका अपनाएं। Google News से जुड़े सुझाव देखने के लिए, अगले सवाल का जवाब पढ़ें।
 
प्रश्नजो प्रकाशन,एएमपी का इस्तेमाल करते हैं, वे Google News ऐप्लिकेशन में कैसे दिखते हैं?
उत्तर: आजकल, Google News ऐप्लिकेशन पर उपलब्ध एएमपी कॉन्टेंट के साथ-साथ गैर-एएमपी कॉन्टेंट भी दिखता है। Google News ऐप्लिकेशन की हमारी टीम गैर-एएमपी वेबपेजों के साथ काम करने के अपने दायरे को बढ़ाने और पेज की परफ़ॉर्मेंस को ऑप्टिमाइज़ करने के लिए काम कर रही है। हम अपने उन सभी पार्टनर की मदद करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं जो एएमपी से गैर-एएमपी पेजों पर स्विच करना चाहते हैं।
विवरण
पिन किया गया
लॉक है
नया अपडेट नए अपडेट (0)
काम का जवाब काम के जवाब (0)
अभी तक कोई जवाब नहीं.
यह सवाल लॉक किया हुआ है और जवाब देना बंद किया गया है.
पोस्ट छोड़ना चाहते हैं? आपने अभी तक जो भी लिखा है, आप उसे खो देंगे.
कोई जवाब लिखें
10 वर्ण ज़रूरी हैं
फ़ाइल अटैच नहीं की जा सकी, फिर से कोशिश करने के लिए यहां क्लिक करें.
पोस्ट छोड़ना चाहते हैं?
आपने अभी तक जो भी लिखा है, आप उसे खो देंगे.
निजी जानकारी मिली

हमें आपके मैसेज में यह निजी जानकारी मिली:

यह जानकारी उन सभी लोगों को दिखाई देगी जो इस पोस्ट की सूचनाएं पाने के लिए सदस्यता लेते हैं या उस पर आते हैं. क्या आप वाकई जारी रखना चाहते हैं?

कोई समस्या हुई. कृपया फिर से कोशिश करें.
जवाब बनाएं
जवाब में बदलाव करें
यह उत्तर अनुभाग से जवाब निकाल देगा.
सूचनाएं बंद हैं
फ़िलहाल सूचनाएं बंद हैं और आपको अपडेट नहीं मिलेंगे. उन्हें चालू करने के लिए, अपने प्रोफ़ाइल पेज पर सूचना की प्राथमिकताएं पर जाएं.
दुरुपयोग की रिपोर्ट करें
Google अपनी सेवाओं के दुरुपयोग को बहुत गंभीरता से लेता है. हम इस तरह के दुरुपयोग से निपटने के लिए आपके निवास देश के कानूनों के अनुसार कार्रवाई करने के लिए प्रतिबद्ध हैं. जब आप कोई रिपोर्ट सबमिट करेंगे, तब हम इसकी जांच करेंगे और उपयुक्त कार्रवाई करेंगे. हम आपसे वापस केवल तभी संपर्क करेंगे, अगर हमें अतिरिक्त विवरण की आवश्यकता हो या हमारे पास साझा करने के लिए अधिक जानकारी हो.

कानूनी वजहों से सामग्री बदलने का अनुरोध करने के लिए कानूनी सहायता पेज पर जाएं.

पोस्ट दुरुपयोग के लिए रिपोर्ट किया गया
रिपोर्ट नहीं भेजी जा सकी.
पोस्ट की शिकायत करें
आप किस तरह की पोस्ट की शिकायत करना चाहते हैं?
Google अपनी सेवाओं के दुरुपयोग को बहुत गंभीरता से लेता है. हम इस तरह के दुरुपयोग से निपटने के लिए आपके निवास देश के कानूनों के अनुसार कार्रवाई करने के लिए प्रतिबद्ध हैं. जब आप कोई रिपोर्ट सबमिट करेंगे, तब हम इसकी जांच करेंगे और उपयुक्त कार्रवाई करेंगे. हम आपसे वापस केवल तभी संपर्क करेंगे, अगर हमें अतिरिक्त विवरण की आवश्यकता हो या हमारे पास साझा करने के लिए अधिक जानकारी हो.

कानूनी वजहों से सामग्री बदलने का अनुरोध करने के लिए कानूनी सहायता पेज पर जाएं.

पोस्ट दुरुपयोग के लिए रिपोर्ट किया गया
रिपोर्ट नहीं भेजी जा सकी.
यह उत्तर अब उपलब्ध नहीं है.
/webmasters/threads
//accounts.google.com/ServiceLogin
आपको पर नई पोस्ट के लिए ईमेल नोटिफ़िकेशन मिलेंगे
प्रश्न हटाया नहीं जा सका.
मुझे भी अपडेट नहीं किया जा सका.
सदस्यता को अपडेट नहीं किया जा सका.
आपकी सदस्यता समाप्त की जा चुकी है
हटाया गया
जवाब हटाया नहीं जा सका.
उत्तरों से निकाल दिया गया
अपडेट से हटाया गया
सुझाए गए जवाब के रूप में चिह्नित किया गया
'अपडेट करें' के तौर पर मार्क किया गया
हटाया गया सुझाव
पहले जैसा करें
जवाब अपडेट नहीं किया जा सका.
वोट अपडेट नहीं किया जा सका.
धन्यवाद. आपका जवाब रिकॉर्ड कर लिया गया था.
वोट को पहले जैसा नहीं किया जा सका.
धन्यवाद. यह जवाब अब उत्तर अनुभाग में दिखाई देगा.
लिंक कॉपी किया गया
लॉक है
अनलॉक की गईं
लॉक नहीं किया जा सका
अनलॉक नहीं किया जा सका
पिन किया गया
अनपिन किया गया
पिन नहीं किया जा सका
अनपिन नहीं किया जा सका
चिह्नित
अचिह्नित किया गया
चिह्नित नहीं किया जा सका
Reported as off topic
आम समस्याएं
समस्या ठीक की गई
'समस्या ठीक की गई' के तौर पर मार्क किया गया
'समस्या ठीक नहीं की गई' के तौर पर मार्क किया गया
'समस्या ठीक की गई' के तौर पर मार्क नहीं किया जा सका
'समस्या ठीक नहीं की गई' के तौर पर मार्क नहीं किया जा सका
/profile/0
false
खोजें
खोज साफ़ करें
खोज बंद करें
Google ऐप
मुख्य मेन्यू
खोज मदद केंद्र
true
83844
false