जांच के लिए सुझाव

शुरुआत करने के लिए कुछ आइडिया.
इस लेख में, इन विषयों के बारे में बताया गया है:

यह आपके कारोबार के लक्ष्यों और प्राथमिकताओं पर निर्भर करता है कि आपको क्या टेस्ट करना है. यह उदाहरण टेस्ट को प्लान करने का विकल्प नहीं है, लेकिन यह क्रिएटिविटी को खुलकर सामने लाने और आपके टेस्टिंग कार्यक्रम को तुरंत शुरू करने में आपकी मदद कर सकता है.

पेजों को ऑप्टिमाइज़ करना

अपने होम पेज जैसे सबसे लोकप्रिय वेब पेजों पर टेस्ट चलाने से पहले, छोटे पेजों पर टेस्ट चलाएं. इससे, कम जोखिम वाले पेजों के साथ प्रयोग किया जा सकता है. ध्यान रखें कि तुरंत नतीजे पाने के लिए, आपको ऐसे पेजों पर टेस्ट करना होगा जिन पर उतना ट्रैफ़िक हो जितना टेस्ट करने के लिए ज़रूरी है.

प्रयोग की शुरुआत, बटन के रंग, कॉल-टू-ऐक्शन में कॉपी या नेविगेशन बार के क्रम के हिसाब से करें. कुछ प्रयोगों को पूरा करने के बाद, हेडलाइन, इमेज, और लैंडिंग पेजों पर टेस्ट करें.

यहां कुछ ऐसे वेब पेज दिए गए हैं जिन्हें ऑप्टिमाइज़ करने और प्रयोग करने के लिहाज़ से प्राथमिकता दी जानी चाहिए:

  • कैटगरी/फ़ैमिली पेज
  • प्रॉडक्ट पेज
  • कार्ट पेज
  • धन्यवाद पेज
  • संपर्क फ़ॉर्म
  • खोज नतीजों के पेज
  • लैंडिंग पेज
  • होम पेज

एलिमेंट को ऑप्टिमाइज़ करना

नीचे उन वेबसाइट एलिमेंट के कुछ उदाहरण दिए गए हैं जिनका अक्सर टेस्ट किया जाता है. हालांकि, यह पूरी सूची नहीं है. ऐसे और भी उदाहरण हो सकते हैं. इस सूची का इस्तेमाल करके, आपको यह समझने में मदद मिल सकती है कि वेबसाइट के किस-किस एलिमेंट पर प्रयोग किए जा सकते हैं.

नेविगेशन

  • कॉपी – वॉइस, टोन, और मैसेज.
  • दिखावट – रंग और साइज़ के उदाहरण देखें.
  • ऑर्डर – लिंक के ऑर्डर का बहुत फ़र्क़ पड़ सकता है.
  • डिज़ाइन – रंग, गहराई, और साइज़.
  • सब-नेविगेशन होना बनाम न होना.

खोज

  • सुविधाएं – सुझाव, आगे लिखना, और अपने-आप पूरा होना.
  • बॉक्स की जगह
  • डिज़ाइन
  • साइज़
  • बेहतर खोज होना बनाम न होना.
  • उसी पेज पर नतीजे बनाम नए पेज पर नतीजे.
  • बटन टाइप – शब्द बनाम आइकॉन.

फ़ॉर्म

  • फ़ॉर्म फ़ील्ड की संख्या – जितनी कम हो उतना अच्छा. 
  • ज़रूरी फ़ील्ड - या नहीं.
  • एक पेज बनाम कई पेज.
  • कॉपी – शीर्षक, लेबल, बटन, सहायता टेक्स्ट, और टूलटिप.
  • डिज़ाइन - आसान बनाम कॉम्प्लेक्स.
  • स्टेप इंंडिकेटर - नंबर, ब्रेडक्रंब, और प्रोसेस कहां तक पहुंची.

बटन

  • बटन टाइप – शब्द बनाम आइकॉन.
  • साइज़ – क्या आपको टेक्स्ट थोड़ी दूरी से दिख रहा है?
  • रंग – हरा और नारंगी बेहतर होता है. हालांकि, यह आपके रंग पटल पर निर्भर करता है.
  • कॉपी – जितनी कम हो उतना अच्छा. ऐक्टिव वॉइस का इस्तेमाल करें.
  • प्लेसमेंट – क्या यह पेज के ऊपरी हिस्से पर है?
  • इमेज – क्या वे बदलती हैं?
  • 3D बनाम फ़्लैट – सदाबहार बनाम आधुनिक डिज़ाइन. 

डायलॉग

  • ओवरले
  • मॉडल
  • स्क्रीन देखने में मुश्किल पैदा करने वाले डायलॉग
  • अकॉर्डियन
  • साइज़
  • दिखने की अवधि
  • कॉन्टेंट
  • ज़्यादा आइडिया के लिए ऊपर मौजूद रंग, बटन, और इमेज सेक्शन देखें.

वीडियो

  • वीडियो शामिल करने या न करने की लागत और फ़ायदे का विश्लेषण.
  • पोर्टल का साइज़ देखें. 
  • पेज पर जगह की जानकारी. 
  • थंबनेल इमेज. 
  • शीर्षक और ब्यौरा.
  • ऑटो प्ले बनाम क्लिक-टू-प्ले.
  • अपने-आप सुनें बनाम सुनने के लिए क्लिक करें.
  • आवाज़ की सेटिंग.

ट्रस्ट एलिमेंट

  • संख्या – एक बनाम कई.
  • सुरक्षा आइकॉन – Thawte, McAfee वगैरह.
  • निजता टेक्स्ट – ईमेल कैप्चर फ़ील्ड में नीति लिंक और सहमति वाले ईमेल की कॉपी.
  • टेस्टिमोनियल - या नहीं.
  • सोशल प्रूफ़ – जब किसी को पता चलता है कि दूसरे लोग कुछ कर रहे हैं, तो नतीजे के तौर पर बेहतर माहौल बनता है.
  • ज़्यादा आइडिया के लिए, ऊपर दिए गए बटन सेक्शन को देखें.

सामान्य चीज़ों को ऑप्टिमाइज़ करना

कुछ ऐसी चीज़ें जिन्हें हर वेबसाइट पर टेस्ट और ऑप्टिमाइज़ किया जा सकता है:

कॉपी

  • शब्दावली – खुद को रीडर समझते हुए, एक अलग नज़रिया आज़माएं.
  • स्पष्टता – जटिल वाक्यों को आसान बनाएं और बेकार शब्दावली हटा दें.
  • लंबाई – लंबे वाक्य की जगह छोटे वाक्य लिखें.
  • फ़ॉर्मैट – किसी काम को करने के बारे में बताने वाली क्रियाओं का इस्तेमाल करें ("इसे अभी आज़माएं.")
  • वॉइस – ब्रैंड के हिसाब से सही है या नहीं और एक जैसा है या नहीं. साथ ही, ऐक्टिव और पैसिव वॉइस वाक्यों का इस्तेमाल करें.
  • फ़ाइन प्रिंट/फ़ुटर लिंक – उन्हें जानकारी देने वाला बनाएं, उलझाने वाला नहीं!

इमेज

  • संख्या – अगर आपके पास कई इमेज हैं, तो सिर्फ़ कुछ का इस्तेमलाल करें
  • साइज़ – छोटा या बड़ा?
  • विषय-वस्तु – लोग, बच्चे, और पालतू जानवर.
  • प्रॉडक्ट बनाम सुविधाएं – इमेज में दोनों लोकप्रिय
  • कैरसेल बनाम स्थिर इमेज – इससे नतीजे बेहतर मिल सकते हैं.

रंग

  • ट्रेंडी बनाम क्लासिक.
  • ऑन-ब्रैंड बनाम ऑफ़-ब्रैंड.
  • कॉल-टू-ऐक्शन (सीटीए) – आपके रंग पटल से मिलता-जुलता बनाम अलग रंग का.
  • टेक्सचर्ड/शेडेड बनाम फ़्लैट.
  • दृष्टि बाधित/एडीए के हिसाब से है या नहीं.

Quick Tips: Experiments by Vertical - What to Test for a Publisher

Quick Tips: Experiments by Vertical - What to Test for Ecommerce Sites

Quick Tips: Experiments by Vertical - What to Test for Signup Flows

क्या यह उपयोगी था?
हम उसे किस तरह बेहतर बना सकते हैं?
खोजें
खोज साफ़ करें
खोज बंद करें
Google ऐप
मुख्य मेन्यू
खोज मदद केंद्र
false
false
true
true
101337
false
false