लेबल क्या होते हैं?

लेबल, पहले से तय किए गए कुछ ऐसे शब्द होते हैं जो आपकी समाचार साइट के अलग-अलग हिस्सों में मौजूद सामग्री की जानकारी देते हैं. ये आपकी सामग्री की श्रेणी तय करने में Google News की मदद भी करते हैं. दुनिया भर में खबरें दिखाने के तरीकों में तेज़ी से बदलाव हो रहे हैं. इसके बावजूद, हम उपयोगकर्ताओं को उनकी ज़रूरत के मुताबिक जानकारी पाने के कारगर तरीके मुहैया कराना चाहते हैं.

कभी-कभी, लेबल लागू होने की जानकारी तब मिलती है, जब प्रकाशक प्रकाशक केंद्र में सही टैग चुनते हैं. ऐसा एचटीएमएल मार्कअप में टैग लागू होने पर भी हो सकता है. अगर हमारा सिस्टम यह तय करता है कि आपकी सामग्री के साथ किसी खास तरह का लेबल इस्तेमाल किया जाना चाहिए, तो हो सकता है कि Google उस लेबल को लागू करने के लिए एल्गोरिदम का तरीका चुने. यह भी हो सकता है कि यह तरीका न चुना जाए.

अहम जानकारी: अगर आपको लगता है कि कोई खास लेबल आपकी साइट पर लागू नहीं होता है, तो Google News की टीम से संपर्क करें. उपयोगकर्ता जो सामग्री पढ़ना चाहते हैं उसे समझने और चुनने में उनकी मदद के लिए, हम लगातार नए लेबल जोड़ते रहते हैं. जो लेबल इस लेख में नहीं हैं वे एल्गोरिदम के तरीके से लागू किए जाते हैं.

लेबल कब लागू किए जाते हैं

जब आप प्रकाशक केंद्र पर अपने प्रकाशन का रिकॉर्ड देखते हैं, तब वे सभी लेबल चुनें जो आपकी साइट पर या उसके अलग-अलग हिस्सों की सामग्री पर लागू होते हैं.

आप लेबल को अलग-अलग तरीकों से लागू कर सकते हैं, जैसे:

  • अगर प्रकाशित की जाने वाली सारी सामग्री पर एक ही लेबल लागू होता है, तो पूरे डोमेन पर वही एक लेबल जोड़ें. उदाहरण के लिए, theonion.com पूरे डोमेन को व्यंग्य के रूप में लेबल करेगा.
  • अपने "राय" या "व्यंग्य" सेक्शन को बताने के लिए, सेक्शन में लेबल लागू करें. उदाहरण के लिए, pennlive.com/opinion सिर्फ़ उस सेक्शन को pennlive.com में 'राय' के रूप में लेबल करेगा.
  • किसी एक सेक्शन में एक से ज़्यादा लेबल जोड़ने के लिए, सेक्शन को कई बार जोड़ें.

लेबल किस तरह के होते हैं

अहम जानकारी: ये लेबल ऐसे सुझाव हैं जो Google को आपकी सामग्री को बेहतर ढंग से अलग-अलग श्रेणी में दिखाने में मदद करेंगे. अगर हमारे एल्गोरिदम के अनुसार वे काम के नहीं हैं, तो हो सकता है कि वे समाचार प्लैटफ़ॉर्म पर आपकी सामग्री के सामने न दिखें.

लेबल किस तरह के होते हैं, इसके उदाहरण नीचे दिए गए हैं:

राय
जिन प्रकाशकों ने अपने डोमेन या अपनी साइट के सेक्शन यूआरएल की पहचान राय के रूप में की है, Google News पर उनके प्रकाशन नाम के आगे "राय" लेबल दिख सकता है. अगर आपकी सभी सामग्री 'राय' है, तो इस लेबल को डोमेन लेवल पर लागू करें. आप इस लेबल को अपनी साइट के किसी खास सेक्शन यूआरएल पर भी लागू कर सकते हैं.
व्यंग्य

जिन प्रकाशकों ने अपने प्रकाशन को व्यंग्य के लेबल के साथ प्रकाशित किया है, Google News पर उनके प्रकाशन के नाम के आगे "व्यंग्य" लेबल दिख सकता है. इस लेबल को उस डोमेन लेवल पर लागू करें जिस पर आप मुख्य रूप से व्यंग्य वाली सामग्री प्रकाशित करते हैं. आप इस लेबल को अपनी साइट के किसी खास सेक्शन यूआरएल पर भी लागू कर सकते हैं.

यूज़र जनरेटेड

जिन प्रकाशकों ने अपने प्रकाशन को इस लेबल के साथ प्रकाशित किया है, Google News में उनके प्रकाशन के नाम के आगे "यूज़र जनरेटेड" दिख सकता है. अगर आप मुख्य रूप से ऐसा यूज़र जनरेटेड कॉन्टेंट प्रकाशित करते हैं जिसे समाचार कहा जा सकता है, तो अपने प्रकाशन में यह लेबल डालें. ऐसा सिर्फ़ तब करें, जब आपकी साइट पर इस सामग्री की एक औपचारिक संपादकीय समीक्षा हो चुकी हो. आप इस लेबल को अपनी साइट के किसी खास सेक्शन यूआरएल पर भी लागू कर सकते हैं.

प्रेस रिलीज़

जिन प्रकाशकों ने अपने प्रकाशन को इस लेबल के साथ प्रकाशित किया है, Google News में उनके प्रकाशन के नाम के आगे "प्रेस रिलीज़" लेबल दिख सकता है. अगर आप मुख्य रूप से अपनी साइट पर या डोमेन में प्रेस रिलीज़ प्रकाशित करते हैं (उदाहरण के लिए www.kodak.com/lk/en/corp/press_center), तो अपने डोमेन में यह लेबल लागू करें. आप इस लेबल को अपनी साइट के किसी खास सेक्शन यूआरएल पर भी लागू कर सकते हैं.

ब्लॉग

जिन प्रकाशकों ने अपने प्रकाशन को 'ब्लॉग' लेबल के साथ प्रकाशित किया है, Google News में उनके प्रकाशन के नाम के आगे "ब्लॉग" लेबल दिख सकता है. अगर आप मुख्य रूप से खबरों वाले ब्लॉग प्रकाशित करते हैं, तो अपने डोमेन में यह लेबल लागू करें. आप इस लेबल को अपनी साइट के किसी खास सेक्शन यूआरएल पर भी लागू कर सकते हैं

लेबल जोड़ना और प्रबंधित करना

आपकी बनाई सामग्री किस तरह की है, यह पहचानने में Google की मदद करने के लिए, आप इन लेबल को डोमेन या सेक्शन लेवल पर अपनी सामग्री के लेबल से जोड़ सकते हैं. सामग्री लेबल प्रबंधित करने के तरीके के बारे में ज़्यादा जानें.

किसी लेबल को सामग्री लेबल से नहीं हटाया जा सकता. अगर आप किसी लेबल को मिटाना चाहते हैं, तो आपको उस सामग्री लेबल को मिटाना होगा जिससे यह जुड़ा है. सामग्री लेबल मिटाने के तरीके के बारे में और पढ़ें.

तथ्यों की जांच

यह लेबल उन खबरों पर लागू होता है जिन्हें तथ्यों की जांच की गई सामग्री के साथ प्रकाशित किया गया है. इन्हें schema.org ClaimReview मार्कअप से दिखाया जाता है. ऐसा ज़्यादातर राउंडअप खबरों में किया जाता है जहां एक ही लेख में तथ्यों की जांच वाले कई विश्लेषण शामिल होते हैं. अगर आप ऐसी खबरें प्रकाशित करते हैं जिनमें तथ्यों की जांच की गई सामग्री मौजूद है, तो Google News आपकी सामग्री पर यह लेबल लागू कर सकता है. "तथ्यों की जांच" लेबल, बड़ी खबरों में तथ्यों की जांच वाली सामग्री ढूंढने में उपयोगकर्ताओं की मदद करता है.

आपको अपने लेख में इस टैग का इस्तेमाल करना चाहिए या नहीं, यह तय करने के लिए तथ्यों की जांच की इन ज़रूरी शर्तों का इस्तेमाल करें:

  • लेख के मुख्य हिस्से में उन दावों और जांच की पहचान आसानी से हो जाती है जो दूसरों से अलग हैं. पढ़ने वालों को यह समझ आना चाहिए कि किस तरह की जांच की गई थी और उसके क्या नतीजे थे.
  • विश्लेषण का पता चलना ज़रूरी है. इसके स्रोत और तरीके पारदर्शी होने चाहिए. मुख्य स्रोतों का हवाला और उनके संदर्भ भी दिए जाने चाहिए.
  • लेख के शीर्षकों से यह पता चलना चाहिए कि दावे की समीक्षा की जा रही है और उसमें नतीजे की जानकारी शामिल होनी चाहिए. शीर्षक में यह भी लिखा जा सकता है कि लेख में तथ्यों की जांच की गई सामग्री मौजूद है.
  • जिन साइटों में तथ्यों की जांच की गई सामग्री होती है उनमें तथ्यों की जांच वाले, मार्कअप किए गए कई लेख होने चाहिए.

अगर हमें ऐसी साइटें मिलती हैं जो ClaimReview मार्कअप की ये शर्तें पूरी नहीं करतीं, तो हम उस साइट के मार्कअप को अनदेखा कर सकते हैं या साइट को Google News से हटा भी सकते हैं.

मार्कअप का इस्तेमाल करने के तरीके के बारे में ज़्यादा जानने के लिए, Google Developers के तथ्यों की जांच वाले पेज पर जाएं.

क्या यह उपयोगी था?
हम उसे किस तरह बेहतर बना सकते हैं?