ऐप्लिकेशन बंडल एक्सप्लोरर की मदद से ऐप्लिकेशन के वर्शन की जांच करना


अगस्त 2021 से, नए ऐप्लिकेशन को Google Play पर 'Android ऐप्लिकेशन बंडल' के साथ प्रकाशित करना ज़रूरी होगा. ऐसे नए ऐप्लिकेशन जिनका साइज़ 150 एमबी से ज़्यादा है उनमें 'Play एसेट डिलीवरी' या Play Feature Delivery में से किसी एक सुविधा का इस्तेमाल करना होगा.

ज़्यादा जानकारी के लिए, Android डेवलपर ब्लॉग पर यह पोस्ट पढ़ें.

Android ऐप्लिकेशन बंडल, Google Play पर ऐप्लिकेशन प्रकाशित करने का फ़ॉर्मैट है. ऐप्लिकेशन बंडल का इस्तेमाल करके, अपने ऐप्लिकेशन को प्रकाशित करने से, ऐप्लिकेशन का साइज़ कम करने और रिलीज़ को आसान बनाने में मदद मिलती है. साथ ही, ऐप्लिकेशन को लोगों तक पहुंचाने के लिए, बेहतर सुविधाओं को चालू करने में भी मदद मिलती है.

Play Console में ऐप्लिकेशन बंडल एक्सप्लोरर का इस्तेमाल करके, आप एक ही जगह पर अपने ऐप्लिकेशन बंडल और ऐप्लिकेशन के वर्शन आसानी से मैनेज कर सकते हैं. आप काम का मेटाडेटा और डाउनलोड भी ऐक्सेस कर सकते हैं. साथ ही, एसेट डिलीवरी के लिए Google Play क्या-क्या चीज़ें जनरेट करता है, इसकी अहम जानकारी भी पा सकते हैं.

ऐप्लिकेशन बंडल के काम करने का तरीका और उनके फ़ायदे

Google Play, हर डिवाइस कॉन्फ़िगरेशन के हिसाब से ऑप्टिमाइज़ किए गए APKs बनाने और डिलीवर करने के लिए, ऐप्लिकेशन बंडल इस्तेमाल करता है. इससे, लोगों के लिए बेहतर ऐप्लिकेशन बनाने में मदद मिलती है. इसका मतलब यह है कि आपको कई तरह के डिवाइस कॉन्फ़िगरेशन के हिसाब से ऑप्टिमाइज़ किए गए APKs की सुविधा देने के लिए, सिर्फ़ एक ऐप्लिकेशन बंडल बनाना, साइन करना, और अपलोड करना होगा. इसके बाद Google Play आपके लिए, ऐप्लिकेशन के डिस्ट्रिब्यूशन APKs मैनेज करता है और उन्हें उपलब्ध कराता है.

ऐप्लिकेशन बंडल की सुविधाएं और फ़ायदे
  • जल्दी इंस्टॉल होने वाले और डिवाइस में कम जगह लेने वाले छोटे ऐप्लिकेशन प्रकाशित करें. इससे, ऐप्लिकेशन अनइंस्टॉल किए जाने की संख्या को कम किया जा सकता है.
  • अलग-अलग तरह के APKs को प्रकाशित करने और मैनेज करने की मुश्किलों को खत्म करके, रिलीज़ मैनेजमेंट को आसान बनाएं.
  • आप अपने ऐप्लिकेशन में नई सुविधाएं और सुविधा वाले मॉड्यूल शामिल करने के लिए, Play Feature Delivery का इस्तेमाल कर सकते हैं. आप अलग-अलग तरीकों से सुविधा वाले मॉड्यूल डिलीवर कर सकते हैं:
    • ऐप्लिकेशन इंस्टॉल करते समय डिलीवरी: सुविधा वाले मॉड्यूल, इंस्टॉल के समय डिलीवर किए जाते हैं. इस सुविधा को चुनकर, आप इंस्टॉल करते समय मॉड्यूल डिलीवर करने या बिल्ड प्रोसेस को तेज़ी से पूरा करने का फ़ायदा पा सकते हैं. आप बाद में उन्हें अनइंस्टॉल कर सकते हैं, ताकि डिस्क की ज़्यादा जगह का इस्तेमाल न हो. 
    • शर्ताें के साथ डिलीवरी: इंस्टॉल के समय, सुविधा वाले मॉड्यूल कुछ शर्तों के हिसाब से डिलीवर किए जाते हैं. इन शर्तों में, ऐप्लिकेशन इस्तेमाल करने वाले व्यक्ति का देश, SDK टूल के लिए ज़रूरी कम से कम वर्शन, और डिवाइस की सुविधाएं शामिल हैं.
    • मांग पर उपलब्ध डिलीवरी: आपके ऐप्लिकेशन का इस्तेमाल करने वाले सभी लोगों को सुविधा वाले मॉड्यूल हमेशा के लिए डिलीवर करने के बजाय, ज़रूरत के हिसाब से इन्हें इंस्टॉल और अनइंस्टॉल करें.
    • इंस्टैंट इस्तेमाल की सुविधा देने वाले ऐप्लिकेशन: लिंक और आपके ऐप्लिकेशन के स्टोर पेज पर अभी आज़माएं बटन की मदद से, सुविधा वाले मॉड्यूल के लिए झटपट खोले जाने की सुविधा दी जा सकती है. इससे, लोगों को इंस्टैंट इस्तेमाल की सुविधा देने वाले ऐप्लिकेशन को आज़माने का मौका मिल सकता है. ऐसा करने के लिए, लोगों को आपका ऐप्लिकेशन पहले इंस्टॉल करने की ज़रूरत भी नहीं होती.
  • बड़े एसेट पैक डिलीवर करने के लिए, आप Play एसेट डिलीवरी का इस्तेमाल कर सकते हैं. आप अलग-अलग तरीकों की मदद से, एसेट पैक की डिलीवरी को पसंद के मुताबिक कर सकते हैं:
    • ऐप्लिकेशन इंस्टॉल करते समय डिलीवरी: एसेट पैक, इंस्टॉल ("upfront") के समय डिलीवर किए जाते हैं. साथ ही, ये लॉन्च के समय ऐप्लिकेशन के साथ उपलब्ध होते हैं.
    • फ़ास्ट फ़ॉलो डिलीवरी: ऐप्लिकेशन इंस्टॉल होने के बाद, एसेट पैक अपने-आप डिलीवर हो जाते हैं. डाउनलोड शुरू करने के लिए, ऐप्लिकेशन खोलना ज़रूरी नहीं है. डाउनलोड होते समय भी लोग ऐप्लिकेशन खोल सकते हैं.
    • मांग पर डिलीवरी: ऐप्लिकेशन के इस्तेमाल के दौरान, एसेट पैक ज़रूरत के मुताबिक डाउनलोड किए जाते हैं.
  • अगर आपके ऐप्लिकेशन में ही भाषा चुनने की सुविधा मौजूद है, तो आप अन्य भाषाओं के एपीआई का इस्तेमाल कर सकते हैं. इसकी मदद से, लोग ज़रूरत पड़ने पर दूसरी भाषाओं के संसाधनों को ऐक्सेस कर सकते हैं और उन्हें डाउनलोड कर सकते हैं.

ऐप्लिकेशन बंडल एक्सप्लोरर का इस्तेमाल करना

आप ऐप्लिकेशन बंडल एक्सप्लोरर का इस्तेमाल, ऐप्लिकेशन के वर्शन की जांच करने और एसेट डाउनलोड करने के लिए कर सकते हैं. साथ ही, यह अहम जानकारी भी पा सकते हैं कि कॉन्टेंट की डिलीवरी के लिए Google Play क्या-क्या चीज़ें जनरेट करता है. 

ऐप्लिकेशन बंडल एक्सप्लोरर पेज में सबसे ऊपर दाईं ओर, एक ऐसा वर्शन फ़िल्टर मौजूद होता है जिसका इस्तेमाल आप नीचे दिए गए तीनों टैब के साथ कर सकते हैं. इस फ़िल्टर की मदद से, आप अलग-अलग डिवाइस पर अपने ऐप्लिकेशन के डिस्ट्रिब्यूशन APKs के अलग-अलग वर्शन और कॉन्फ़िगरेशन के बारे में जान सकते हैं. यह वर्शन फ़िल्टर, Google Play Console के पुराने वर्शन में दी गई “आर्टफ़ैक्ट लाइब्रेरी” की तरह काम करता है.

ऐप्लिकेशन बंडल एक्सप्लोरर पेज में तीन टैब होते हैं:

  • जानकारी: अपने ऐप्लिकेशन के हर वर्शन की विस्तृत जानकारी की समीक्षा करें.
  • डाउनलोड: अपने ऐप्लिकेशन के हर वर्शन के लिए इंस्टॉल का लिंक जनरेट करें. इसके अलावा, डिवाइस के हिसाब से जनरेट किए गए APKs, जांच के लिए या डिवाइस पर पहले से इंस्टॉल करने के लिए डाउनलोड करें. साथ ही, कोई यूनिवर्सल APK डाउनलोड करें और हर वर्शन से जुड़े अन्य एसेट को मैनेज करें.
  • डिलीवरी: Google Play आपके ऐप्लिकेशन बंडल से जो चीज़ें जनरेट करता है उनकी समीक्षा करें. साथ ही, सभी डिस्ट्रिब्यूशन आर्टफ़ैक्ट डिलीवर करने की शर्तों की समीक्षा करें.

ज़रूरतें और सुझाव

  • ऐप्लिकेशन बंडल इस्तेमाल करने के लिए, आपको Play ऐप्लिकेशन साइनिंग में ऐप्लिकेशन का नाम दर्ज कराना होगा.
  • ऐप्लिकेशन को लोगों तक पहुंचाने की बेहतर सुविधाओं का इस्तेमाल करने के लिए, इन दस्तावेज़ों को ज़रूर देखें:

APK की जानकारी की समीक्षा करना

Google Play जिन APKs को आपके ऐप्लिकेशन बंडल से जनरेट करता है, उन्हें देखने के लिए:

  1. ऐप्लिकेशन बंडल एक्सप्लोरर पेज (रिलीज़ > ऐप्लिकेशन बंडल एक्सप्लोरर) खोलें.
  2. डिवाइस टैब पर, पेज के सबसे ऊपर दाईं ओर मौजूद, वर्शन फ़िल्टर को चुनें.
  3. “कोई वर्शन चुनें” टेबल में, आप जिस वर्शन को देखना चाहते हैं उसके पास बना राइट ऐरो का निशान चुनें.
  4. वर्शन की जानकारी देखें.
    • विकल्प के तौर पर: “काम करने वाले Android डिवाइस” के अंदर, आप अपने ऐप्लिकेशन के इस वर्शन के साथ काम करने वाले डिवाइस देखने और उन्हें मैनेज करने के लिए, डिवाइस सूची देखें चुन सकते हैं.

इंस्टॉल करने का लिंक शेयर करना

Google Play, डिवाइस के हिसाब से जिस APK को आपके ऐप्लिकेशन बंडल से जनरेट करता है उसे इंस्टॉल करने का लिंक शेयर करने के लिए:

  1. ऐप्लिकेशन बंडल एक्सप्लोरर पेज (रिलीज़ ऐप्लिकेशन बंडल एक्सप्लोरर) खोलें.
  2. पेज पर सबसे ऊपर दाईं ओर मौजूद, वर्शन फ़िल्टर को चुनें.
  3. “कोई वर्शन चुनें” टेबल में, आप जिस वर्शन को देखना चाहते हैं उसके पास बना राइट ऐरो का निशान चुनें.
  4. डाउनलोड टैब चुनें.
  5. डिवाइस के हिसाब से किसी खास APK को इंस्टॉल करने का लिंक शेयर करने के लिए: “संगठन में काम करने वालों के साथ ऐप्लिकेशन शेयर करने का लिंक” सेक्शन में, शेयर किया जा सकने वाला लिंक कॉपी करें चुनें.
  6. लिंक शेयर करें.

डिवाइस के हिसाब से जनरेट किए गए APKs डाउनलोड करना

आप डिवाइस के हिसाब से जनरेट किए गए APKs डाउनलोड कर सकते हैं और डिवाइस के हिसाब से पहले से इंस्टॉल किए गए APKs डाउनलोड कर सकते हैं, ताकि उन्हें डिवाइस पर पहले से इंस्टॉल करने के लिए OEMs (मूल डिवाइस निर्माताओं) के साथ शेयर किया जा सके. इससे उन्हें बाद में Google Play से अपडेट किया जा सकेगा.

Google Play, डिवाइस के हिसाब से जिन APKs को ऐप्लिकेशन बंडल से जनरेट करता है उन्हें डाउनलोड करने के लिए:

  1. ऐप्लिकेशन बंडल एक्सप्लोरर पेज (रिलीज़ > डिवाइस और वर्शन > ऐप्लिकेशन बंडल एक्सप्लोरर) खोलें.
  2. पेज पर सबसे ऊपर दाईं ओर मौजूद, वर्शन फ़िल्टर को चुनें.
  3. “कोई वर्शन चुनें” टेबल में, आप जिस वर्शन को देखना चाहते हैं उसके पास बना राइट ऐरो का निशान चुनें.
  4. डाउनलोड टैब चुनें.
  5. “डिवाइस के हिसाब से जनरेट किए गए APKs” में, उस APK के आगे मौजूद 'डाउनलोड करें' आइकॉन को चुनें जिसे आप सेव या शेयर करना चाहते हैं.

साइन किया हुआ यूनिवर्सल APK डाउनलोड करना

साइन किया हुआ यूनिवर्सल APK, इंस्टॉल किया जा सकने वाला एक ऐसा APK है जो उसी ऐप्लिकेशन साइनिंग कुंजी से साइन किया जाता है जिसका इस्तेमाल, 'Play ऐप्लिकेशन साइनिंग' आपके ऐप्लिकेशन के लिए करता है. आप इस APK को दूसरे ऐप्लिकेशन स्टोर और डिस्ट्रिब्यूशन चैनल, जैसे कि वेबसाइट पर लोगों के लिए उपलब्ध करा सकते हैं. ऐसा इसलिए करें, ताकि आप जहां भी अपना ऐप्लिकेशन उपलब्ध कराएं वहां उसी ऐप्लिकेशन साइनिंग कुंजी से साइन किया जाए.

साइन किया हुआ यूनिवर्सल APK डाउनलोड करने के लिए:

  1. ऐप्लिकेशन बंडल एक्सप्लोरर पेज (रिलीज़ ऐप्लिकेशन बंडल एक्सप्लोरर) खोलें.
  2. पेज पर सबसे ऊपर दाईं ओर मौजूद, वर्शन फ़िल्टर को चुनें.
  3. “कोई वर्शन चुनें” टेबल में, आप जिस वर्शन को देखना चाहते हैं उसके पास बना राइट ऐरो का निशान चुनें.
  4. डाउनलोड टैब चुनें.
  5. "एसेट" टेबल में, "साइन किया हुआ यूनिवर्सल APK" फ़ाइल के बगल में मौजूद 'डाउनलोड करें' आइकॉन चुनें.

डिकोड करने वाली और एसेट फ़ाइलें डाउनलोड करना

Google Play, जिन APKs को आपके ऐप्लिकेशन बंडल से जनरेट करता है उनकी एसेट फ़ाइलें, डिकोड करने वाली फ़ाइलें, और नेटिव डीबग सिंबल वाली फ़ाइलें डाउनलोड करने के लिए:

  1. ऐप्लिकेशन बंडल एक्सप्लोरर पेज (रिलीज़ ऐप्लिकेशन बंडल एक्सप्लोरर) खोलें.
  2. पेज पर सबसे ऊपर दाईं ओर मौजूद, वर्शन फ़िल्टर को चुनें.
  3. “कोई वर्शन चुनें” टेबल में, आप जिस वर्शन को देखना चाहते हैं उसके पास बना राइट ऐरो का निशान चुनें.
  4. डाउनलोड टैब चुनें.
  5. “एसेट” टेबल में, आप जिन फ़ाइलों को सेव या शेयर करना चाहते हैं उनके आगे मौजूद 'डाउनलोड करें' आइकॉन चुनें.

सुविधा वाले मॉड्यूल और एसेट पैक के लिए, डिलीवरी की जानकारी देखना

अगर आप सुविधा वाले मॉड्यूल की डिलीवरी को पसंद के मुताबिक बनाने के लिए, Play Feature Delivery का या फिर एसेट पैक की डिलीवरी को पसंद के मुताबिक बनाने के लिए, Play एसेट डिलीवरी का इस्तेमाल करते हैं, तो ऐप्लिकेशन बंडल एक्सप्लोरर पेज पर डिलीवरी टैब में, काम की जानकारी अपने-आप भर जाएगी. यह जानकारी देखने के लिए:

  1. ऐप्लिकेशन बंडल एक्सप्लोरर पेज (रिलीज़ ऐप्लिकेशन बंडल एक्सप्लोरर) खोलें.
  2. पेज पर सबसे ऊपर दाईं ओर मौजूद, वर्शन फ़िल्टर को चुनें.
  3. “कोई वर्शन चुनें” टेबल में, आप जिस वर्शन को देखना चाहते हैं उसके पास बना राइट ऐरो का निशान चुनें.
  4. डिलीवरी टैब चुनें.
  5. दी गई टेबल में डिलीवरी की जानकारी देखें, जिसमें नाम, डिलीवरी स्थिति, और डाउनलोड का साइज़ शामिल हो:
    • मॉड्यूल: सुविधा वाले मॉड्यूल की जानकारी दिखाती है. यह टेबल हमेशा उपलब्ध होती है. इसमें आपके ऐप्लिकेशन के बेस मॉड्यूल होते हैं.
    • एसेट पैक: आपके ऐप्लिकेशन के एसेट पैक की जानकारी दिखाती है. यह टेबल सिर्फ़ तब दिखती है, जब आपके ऐप्लिकेशन से एसेट पैक जुड़े हों.
  6. Google, किसी खास सुविधा वाले मॉड्यूल या एसेट पैक से जुड़े आपके ऐप्लिकेशन बंडल से जो भी चीज़ें जनरेट करता है उन्हें देखने के लिए टेबल की किसी पंक्ति पर क्लिक करें:
    • डिलीवरी स्थिति की पूरी जानकारी (अगर लागू हो)
    • जनरेट किए गए किसी भी बंटे हुए APK की जानकारी
    • जनरेट किए गए किसी भी स्टैंडअलोन APK की जानकारी
      • ध्यान दें: सभी स्टैंडअलोन APKs में हमेशा बेस मॉड्यूल और इंस्टॉल के समय डिलीवरी देने वाले सुविधा मॉड्यूल या एसेट पैक शामिल होते हैं. सभी स्टैंडअलोन APKs में मांग पर उपलब्ध ऐसे मॉड्यूल भी शामिल होते हैं जिनमें फ़्यूज़िंग सुविधा चालू होती है.

मिलता-जुलता कॉन्टेंट

क्या यह उपयोगी था?
हम उसे किस तरह बेहतर बना सकते हैं?

और मदद चाहिए?

मदद के दूसरे तरीकों के लिए साइन इन करें ताकि आपकी समस्या झटपट सुलझ सके

true
खोजें
खोज साफ़ करें
खोज बंद करें
Google ऐप
मुख्य मेन्यू
खोज मदद केंद्र
true
92637
false