Google, Google Ads को कैसे बेहतर बनाता है

Google का लक्ष्य आपको Google Ads का सबसे अच्छा वर्शन उपलब्ध कराना है. इसलिए, हम लगातार नई सुविधाएं बना रहे हैं और आपसे सुझाव मांग रहे हैं. साथ ही, हम प्रयोगों से मिले नतीजों पर रिसर्च के साथ-साथ उनकी टेस्टिंग भी कर रहे हैं.

इस लेख की मदद से आप जान पाएंगे कि Google किस तरह से, Google Ads को बेहतर बनाने के लिए रिसर्च और प्रयोग करता है.

प्रयोग कैसे काम करते हैं

ज़्यादातर प्रयोगों का मकसद हमारे तकनीकी सिस्टम और इन्फ़्रास्ट्रक्चर को बेहतर बनाना होता है. हालांकि, आम तौर पर ये प्रयोग विज्ञापन देने वालों को नहीं दिखते हैं. विज्ञापन देने वाले कुछ ही लोग अन्य प्रयोगों को देख सकते है, वह भी थोड़े समय के लिए. इसलिए, किसी खास प्रयोग के किसी भी समय आपके कैंपेन पर असर डालने की संभावना बहुत कम होती है.

Google पर, हर दिन लाखों-करोड़ों उपभोक्ता अनगिनत सवाल पूछते हैं और विज्ञापन देने वाले कई लोग एक-दूसरे से आगे रहने के लिए अपनी बोलियों, कीवर्ड, और कैंपेन की सेटिंग को लगातार अपडेट करते रहते हैं. इसलिए, इस बात की संभावना ज़्यादा होती है कि आपके कारोबार की परफ़ॉर्मेंस में अचानक होने वाले बदलाव, Google Ads में कुछ समय के लिए किए जाने वाले प्रयोग के बजाय मार्केट में होने वाले उतार-चढ़ाव की वजह से हों.

इस बात की संभावना कम है कि आपके कैंपेन किसी प्रयोग के लिए चुने जाएं. हालांकि, अगर ऐसा होता है, तो आपको विज्ञापन फ़ॉर्मैट, विज्ञापन प्लेसमेंट या Google Ads इंटरफ़ेस में कुछ फ़र्क़ दिख सकता है. प्रयोग में किसी भी कैंपेन को शामिल किया जा सकता है. इसलिए, आपको अपने प्रतिस्पर्धियों के विज्ञापनों में भी बदलाव दिख सकते हैं. प्रयोगों के बावजूद आपके पास पूरा कंट्रोल रहेगा. Google, प्रयोग के दौरान भी आपकी विज्ञापन सेटिंग के मुताबिक काम करता है. आपको कभी भी, किसी क्लिक के लिए मैक्सिमम सीपीसी से ज़्यादा पेमेंट नहीं करना होगा.

क्या करें

Google Ads का उसी तरह इस्तेमाल करते रहें जैसा आप करते आए हैं. साथ ही, यह पक्का करने के लिए कि आपकी सेटिंग आपके लक्ष्यों के मुताबिक हो, अपने कैंपेन की परफ़ॉर्मेंस पर नज़र रखें. हमारे सिस्टम, प्रयोग के दौरान भी आपकी सेटिंग में होने वाले बदलावों को लागू करते रहते हैं, ताकि आपके पास पूरा कंट्रोल रहे. उदाहरण के लिए, अगर आपको फ़ॉर्मैटिंग या रैंकिंग में किसी खास तरह का बदलाव पसंद नहीं है, तो आप जब चाहें अपनी बोलियां या अन्य कैंपेन सेटिंग अपडेट कर सकते हैं. साथ ही, आपको हमेशा की तरह अपनी मैक्सिमम सीपीसी बोली से ज़्यादा पेमेंट नहीं करना होगा. याद रखें, कैंपेन में प्रयोग के लिए किए गए कुछ बदलाव कुछ समय के लिए हो सकते हैं. हालांकि, प्रयोग से अच्छे नतीजे मिलने पर दूसरे बदलावों को हमेशा के लिए लागू किया जा सकता है. साथ ही, आप परफ़ॉर्मेंस में अक्सर जो बदलाव देखते हैं वे कभी भी प्रयोग या सिस्टम में होने वाले बदलावों की वजह से नहीं होते हैं. इसलिए, सबसे अच्छा तरीका यह है कि आप कैंपेन की परफ़ॉर्मेंस पर नज़र रखें और सेटिंग को उसी के हिसाब से अपडेट करें.

क्या यह उपयोगी था?
हम उसे किस तरह बेहतर बना सकते हैं?

और मदद चाहिए?

मदद के दूसरे तरीकों के लिए साइन इन करें ताकि आपकी समस्या झटपट सुलझ सके

खोजें
खोज साफ़ करें
खोज बंद करें
Google ऐप
मुख्य मेन्यू
खोज मदद केंद्र
true
73067
false