डिजिटल ऐनलिटिक्स की वैल्यू

मार्केटिंग में, खरीदारी फ़नल ग्राहक के जुड़ाव के अलग-अलग स्टेज दिखाते हैं. बेसिक खरीदारी फ़नल में ये शामिल हैं:

  • उपयोगकर्ता हासिल करने में, जागरूकता बढ़ाना और उपयोगकर्ता की रुचि जानना शामिल है
  • व्यवहार तब होता है, जब उपयोगकर्ता आपके कारोबार से जुड़ते हैं
  • कन्वर्ज़न तब होता है, जब कोई उपयोगकर्ता खरीदार बन जाता है और आपके कारोबार में लेन-देन करता है

ऑफ़लाइन की दुनिया में, इस प्रक्रिया को मेज़र करना मुश्किल हो सकता है. हालांकि, ऑनलाइन की दुनिया में डिजिटल ऐनलिटिक्स का इस्तेमाल करके, हम फ़नल के कई पहलुओं को मेज़र कर सकते हैं. हम ट्रैक कर सकते हैं कि किस ऑनलाइन व्यवहार से खरीदारी हुई. साथ ही, उस डेटा का इस्तेमाल करके नए और मौजूदा ग्राहकों तक पहुंचने के बारे में सोच-समझकर फ़ैसला करें.

डिजिटल ऐनलिटिक्स का इस्तेमाल करना

किसी ऑनलाइन स्टोर के बारे में सोचें, जैसे कि Google मर्चंडाइज़ का स्टोर. इसका लक्ष्य ज़्यादा टी-शर्ट बेचना हो सकता है. डिजिटल ऐनलिटिक्स का इस्तेमाल करके, स्टोर अपने ऑनलाइन विज्ञापन कैंपेन से डेटा इकट्ठा करके उसका विश्लेषण कर सकता है. इससे यह पता लगाया जा सकता है कि कौनसा कैंपेन सबसे ज़्यादा असरदार है. साथ ही, इस कैंपेन से मार्केटिंग की कोशिशों को बढ़ाया जा सकता है.

उदाहरण के लिए, स्टोर भौगोलिक बिक्री डेटा का विश्लेषण करके यह समझ सकता है कि कुछ खास जगहों पर लोग बहुत ज़्यादा शर्ट खरीदते हैं और अगर वे ऐसा करते हैं, तो स्टोर उन इलाकों में ज़्यादा विज्ञापन कैंपेन चला सकते हैं. Analytics का इस्तेमाल करके यह भी समझा जा सकता है कि उपयोगकर्ता अपने ऑनलाइन शॉपिंग कार्ट की मदद से कैसे आगे बढ़ते हैं. अगर वे देखते हैं कि उपयोगकर्ताओं को वेबसाइट पर किसी खास चरण में समस्या है, तो वे समस्या को हल करने के लिए साइट में बदलाव कर सकते हैं.

डिजिटल ऐनलिटिक्स से अलग-अलग तरह के कारोबारों को फ़ायदे हो सकते हैं:

  • पब्लिशर इसका इस्तेमाल करके, भरोसेमंद और दिलचस्पी लेने वाली ऑडियंस बना सकते हैं. साथ ही, इसका इस्तेमाल उपयोगकर्ता की रुचियों के हिसाब से, उन्हें बेहतर तरीके से ऑन-साइट विज्ञापन दिखाने में कर सकते हैं.
  • ई-कॉमर्स कारोबार, डिजिटल ऐनलिटिक्स का इस्तेमाल करके ग्राहकों के ऑनलाइन खरीदारी व्यवहार को समझ सकते हैं. साथ ही, अपने प्रॉडक्ट और सेवाओं का बेहतर प्रचार कर सकते हैं.
  • लीड जनरेशन वाली साइटें, सेल्स टीम को संभावित लीड से जोड़ने के लिए, उपयोगकर्ता की जानकारी इकट्ठा कर सकती हैं.

हालांकि, हमने मुख्य रूप से किसी वेबसाइट से डेटा इकट्ठा करने के बारे में बात की है, लेकिन Google Analytics अलग-अलग सिस्टम के ज़रिए व्यवहार से जुड़ा डेटा भी इकट्ठा कर सकता है. जैसे, मोबाइल ऐप्लिकेशन, ऑनलाइन पॉइंट-ऑफ़-सेल सिस्टम, वीडियो-गेम कंसोल, कस्टमर रिलेशनशिप मैनेजमेंट सिस्टम, या इंटरनेट से जुड़े दूसरे प्लैटफ़ॉर्म.

यह डेटा Analytics रिपोर्ट में इकट्ठा किए जाते हैं. इसका इस्तेमाल बारीकी से विश्लेषण करने के लिए किया जा सकता है. इससे, आप अपने ग्राहकों और उनकी खरीदारी की गतिविधि के बारे में बेहतर तरीके से जान पाएंगे. इसके बाद, आपके पास अपने कारोबार को बेहतर करने के लिए नए तरीके आज़माने का विकल्प है.

क्या यह उपयोगी था?

हम उसे किस तरह बेहतर बना सकते हैं?
खोजें
खोज हटाएं
खोज बंद करें
Google ऐप
मुख्य मेन्यू